GPSC भर्ती प्रक्रिया में ऑनलाइन आवेदन का प्रावधान


( Photo Credit : geniusguruji.co.in )

GPSC के अध्यक्ष दिनेश दास ने अपने फेसबुक अकाउंट में GPSC की भर्ती प्रक्रिया में शुरू की गई ऑनलाइन आवेदन सुविधा के बारे में जानकारी देने वाला एक पोस्ट अपलोड किया। जिसमें उन्होंने लिखा, “लोक सेवा आयोग द्वारा विभिन्न स्थानों पर भर्ती के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए जाते हैं और उसके बाद प्राथमिक प्रतियोगी परीक्षाएँ आयोजित की जाती हैं। प्राथमिक प्रतियोगी परीक्षाओं के परिणामों के आधार पर मुख्य लिखित परीक्षा के लिए उम्मीदवार के पास आवश्यक योग्यताएँ हैं या नहीं? यह पता करने के लिए आवेदन पत्र के साथ आवश्यक प्रमाण पत्र मंगाए जाते है। उम्मीदवारों को आयोग के कार्यालय में जा कर या मेल से यह प्रमाण भेजने होते है। इन सभी प्रमाणपत्रों का भौतिक सत्यापन आयोग स्तर पर किया जाता है।

आवेदन पत्र और प्रमाण पत्र मैन्युअल रूप से जमा करने की प्रक्रिया में, उम्मीदवार आयोग के कार्यालय से दूर हो या बाहर हो तो ऐसी स्थिति में दस्तावेजों को कार्यालय आ कर जमा कराने में बहुत असुविधा होती है। डाक से भेजते समय, दस्तावेज गुम होने या गायब होने या निर्धारित समय सीमा के भीतर नहीं पहुंच पाने की संभावना होती है। उपरोक्त समस्या के निवारण और आवेदन प्रक्रिया में तेजी लाने के उद्देश्य से आयोग द्वारा IASS (Integrated Application Scrutiny System) लागू किया गया है।

प्रायोगिक आधार पर आयोग इस पद्धति में कम उम्मीदवार हो इसलिए प्रावधान (प्रावधान संख्या -20 / 2018-19, 106 / 2018-19 और 44 / 2018-19) के इस तरीके को सफलतापूर्वक लागू करने के बाद डिप्टी सेक्सन ऑफिसर और डिप्टी ममलतदार की भर्ती के लिए विज्ञापन संख्या 55 ​​/ 2018-19 के लिए उम्मीदवार जो प्राथमिक परीक्षा परिणाम के अंत में मुख्य लिखित परीक्षा के लिए सफल रहे थे उनके लिए 25/3/2019 से 4/4/2019 के दौरान ऑनलाइन आवेदन, आवश्यक दस्तावेजों के साथ अपलोड करने की जानकारी दी है।

IASS अंतर्गत आवेदन सूची में से योग्य उम्मीदवारों की सूची को अपलोड किया जाता है और उसके बाद योग्य उम्मीदवारों की सूची में शामिल उम्मीदवार वेब एप्लिकेशन पर बताए मुताबिक सभी प्रमाणपत्र, चित्र, दस्तावेज, आदि डिजिलॉकर द्वारा शेयर तथा स्कैन कर के https://gpsc-iass.gujarat.gov.in पर अपलोड कर सकते हैं। वेब एप्लिकेशन में बताए गए सभी प्रमाण पत्र, पैटर्न, दस्तावेजों को अपलोड करने के बाद, आवेदन जमा करने से उन्हें अपलोड किए गए डेटा की रसीद मिल जाएगी। विज्ञापन प्रावधान के अनुसार आवश्यक दस्तावेज अपलोड करने अनिवार्य होंगे, इसके बिना उनके आवेदन प्रस्तुत नहीं किया जा सकते हैं।

इस वेब एप्लिकेशन के ऑनलाइन होने के कारण, उम्मीदवार अपने प्रमाणपत्र, पैटर्न, दस्तावेजों को अंतिम तिथि तक यानी 10 दिनों तक 24 घंटों में किसी भी समय अपलोड करके आवेदन जमा कर सकते हैं।

उम्मीदवार एक से अधिक प्रयास में अपने प्रमाण पत्र, दस्तावेज, दाखिला अपलोड कर सकते हैं। और सभी दस्तावेज अपलोड करने के बाद वह सबमिट कर सकते हैं। उम्मीदवार के पास निर्धारित समय सीमा में प्रमाण पत्र, चित्र और दस्तावेज अपलोड करने के प्रयासों की सीमा नहीं होगी।

गलत दस्तावेज़ अपलोड किए जाने के मामले में, यदि उम्मीदवार ने आवेदन जमा नहीं किया हो तो उम्मीदवार निर्धारित समय सीमा के भीतर प्रमाण पत्र, पैटर्न, दस्तावेजों को दोबारा अपलोड करने में सक्षम होगा।

यदि कोई उम्मीदवार आवेदन जमा नहीं करता है, तो आवेदन की अंतिम तिथि तय होने के समय स्वचालित रूप से आवेदन जमा हो जाएगा और उम्मीदवारों को प्रमाण पत्र, पैटर्न, दस्तावेजों के आधार पर जांच की जाएगी।

आवश्यक प्रमाणपत्रों के साथ आवेदन अपलोड करने के बाद, आवेदन और प्रमाण पत्र आयोग स्तर पर ऑनलाइन जाँच किए जाएंगे। इस जांच के अंत में योग्य/अयोग्य उम्मीदवारों की सूची प्रकाशित की जाएगी।

इस प्रकार, दस्तावेजों को जमा करने तक सभी प्रक्रियाएं डिजिटल गवर्नेंस के हिस्से के तहत आवेदन करके ऑनलाइन कर दी गई हैं। विज्ञापन के तहत इम्टरव्यू का कोई प्रावधान नहीं है। केवल लिखित परीक्षा के आधार पर पसंदगी की जाएगी। उम्मीदवारों को किसी भी समय जीपीएससी कार्यालय में नहीं आना होगा।