गुजरात में चेन स्नैचिंग का कानून हुआ सख्त तो अहमदाबाद में बढ़ी चेन स्नेचिंग की वारदात


(Photo Credit : jagran.com)

गुजरात में, कानून और व्यवस्था की स्थिति बिगड़ रही है, जिसके कारण गुजरात में लगातार आपराधिक गतिविधियां बढ़ रही हैं, कुछ दिनों पहले राज्य सरकार द्वारा कानून को सख्त करके चेन स्नैचिंग की सजा को बढ़ा दिया गया है, ताकी चेन स्नेचिंग अपराधों में कमी आए। लेकिन कानून लागू होने के बाद चेन स्नेचर्स उग्र हो गए हैं। अहमदाबाद में पुलिस ने 21 दिनों में 21 चेन स्नेचिंग की शिकायत दर्ज की है।

एक रिपोर्ट के अनुसार, यदि आप अहमदाबाद में रहते हैं और रास्ते में महंगे सामानों के साथ जाते हैं या यदि आप गले में गहने पहनते हैं, तो सावधान हो जाइये क्योंकि अब अहमदाबाद में चेन स्नैचर्स को पुलिस और कानून का डर नहीं है। अहमदाबाद के पूर्व में चेन स्नेचिंग की घटनाएं अधिक होती हैं। हालांकि चेन स्नेचिंग को रोकने के लिए पुलिस के पास हॉक स्क्वाड और रेसर बाइक है, लेकिन पुलिस अभी भी स्नैचरों को पकड़ने में नाकाम साबित हो रही है। हॉक स्कवॉड में दो पुलिस कर्मियों को बाइक पर थाना क्षेत्र में गश्त करने के भी आदेश हैं, लेकिन बढ़ती चेन स्नैचिंग के मामलों को देखते हुए हॉक स्कवॉड के काम के बारे में सवाल खड़े हो रहे हैं।

अगर अहमदाबाद में प्रति क्षेत्र चेन स्नेचिंग की बात की जाए तो नरोडा क्षेत्र में 4 घटनाएं हुई हैं। माधुपुर, वस्त्रापुतर, एलिसब्रिज क्षेत्र में 2-2 घटनाएं हैं। सोला, चांदखेड़ा, निकोल, मेघाणी नगर, मणिनगर, नारणपुरा, रिवर फ्रंट, शहरकोटडा, कागडापीठ और वासणा में 1-1 चेन स्नैचिंग की घटनाएं हुई हैं।

उल्लेखनीय है कि चेन स्नैचिंग को रोकने के लिए राज्य सरकार द्वारा कानून को सख्त किया गया था। जिसमें चेन छीनने वाले व्यक्ति को कम से कम पांच साल की कैद और अधिकतम दस साल की सजा और 25,000 रुपये का जुर्माना होगा। 

अगर चेन छीनने वाला व्यक्ति किसी को घायल करता है और किसी को धमकी दे कर उन्हे डराता है, तो उसे तीन साल के कठोर कारावास की सजा होगी। 

मौत या चोट के लिए, या उसका प्रयास करने वाले को कम से कम सात साल की कैद अधिकतम दस वर्ष सजा और 25 हजार का दंड भुगतान करना पड़ेगा।