बोर्ड परिक्षा सर पर, हॉल टिकिट के कारण कई बच्चों को हो रही दिकक्त


(PhotoCredit: India.com)

कक्षा 10 और 12 के 18 लाख छात्र इस साल बोर्ड की परीक्षाएं देंगे। अब परीक्षा में गिनती के दिन ही शेष हैं। इससे GSEB द्वारा बोर्ड के सभी छात्रों को परिक्षा के हॉल टिकट वितरित किए जा रहे हैं। इस साल लगभग 3,000 हॉल टिकट में गलती सामने आई है। कुछ हॉल टिकटों में छात्रों के नाम बदल गए हैं, और कुछ हॉल टिकटों में उपनाम और विषय परिवर्तन के बारे में शिक्षा बोर्ड को शिकायतें मिली हैं।

(PhotoCredit: sarkarirecruitment.com)

शिक्षा अधिकारी ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि सभी स्कूल के प्रधानाचार्य और शिक्षकों को फॉर्म भरने से पहले त्रुटियों के रूप में प्रशिक्षित किया जाता है और फॉर्म को पूरा करने से पहले इसे कैसे टाला जा सकता है यह भी सिखाया जाता है। हालांकि इसके पष्चाट भी कुछ स्थानों से आए फॉर्म में विद्यार्थी का नाम, उपनाम, पिता का नाम और विषय में त्रुटियां पाई जाती है। इसलिए इस साल ऐसे 3000 मामले सामने आए। जिनको हमने छुट्टी के दिनों में हल किया था। इसके अलावा, हॉल टिकट के वितरण के बाद, छात्रों को कुछ गलतीयं मिली हैं, क्षति को सुधारने का कार्य भी शुरू कर दिया गया है।

इस साल, कक्षा 10 के 11,59,772 छात्रों द्वारा बोर्ड परीक्षा दी जाएगी, जिसमें 7,05,465 छात्र और 4,54,297 छात्राएं शामिल हैं। इसके अलावा कक्षा 12 की सामान्य स्ट्रीम के 5,33,626 छात्र और विज्ञान स्ट्रीम के 1,47,302 छात्र परीक्षा देंगे, तो विज्ञान स्ट्रीम के ए समूह के 57,511 छात्र और बी समूह के 89,760 छात्र होंगे।