अल्पेश ठाकोर के भाजपा में शामिल होने की अटकलों पर लगा पूर्ण विराम


(Photo Credit : Jansatta.com)

नहीं छोडूंगा कांग्रेस, दिल्ली से लौटकर बोले अल्पेश, जानिये और क्या-क्या कहा

पिछले कई दिनों से गुजरात के राधनपुर से कांग्रेसी विधायक अल्पेश ठाकोर के भाजपा में शामिल होने संबंधी चल रही अटकलों पर अब पूर्ण विराम लग गया है। अल्पेश ठाकोर ने शनिवार सुबह पत्रकार परिषद को संबोधित करते हुए दो-टूक कहा कि वे अब कांग्रेस नहीं छोड़ेंगे।

बता दें कि अल्पेश ठाकोर पिछले लंबे अरसे से प्रदेश कांग्रेस के नेतृत्व से नाराज चल रहे थे। यह नराजगी इतनी हद बढ़ गई थी कि राजनीतिक हलकों में कहा जाने लगा कि अब अल्पेश भाजपा शामिल हो जायेंगे और संभव है कि मंत्री भी बनें।

पत्रकार परिषद में अल्पेश ने स्वीकार भी किया कि वे कांग्रेस पार्टी और उनके क्रियाकलापों से नाराज थे। उन्हें पार्टी में पहले जैसा महत्व नहीं दिया जा रहा था। एक बार तो मन में मंत्री बन जाने का विचार भी आया। लेकिन अब कांग्रेस आलाकमान के साथ हुई उनकी बैठक और विचार-विमर्श के बाद उनके मन की सारी शंकाओं का समाधान हो गया है। वे अब तक असमंजस में थे कि कांग्रेस में रहें या न रहें, लेकिन अब स्थिति बिलकुल स्पष्ट हो गई है।

अल्पेश ठाकोर ने आगे कहा कि वे लोगों के जनादेश से कांग्रेस में शामिल हुए, चुनाव लड़े और जीते। आगे भी वे अपने लोगों के कहे अनुसार काम करते जायेंगे। गरीबों, बेरोजगारों, किसानों, पिछले वर्गों आदि के विकास और लाभ के लिये संघर्ष करते रहेंगे।

उनकी पत्नी के लोकसभा चुनाव लड़ने की अकटलों के संबंध में पूछने पर अल्पेश ने कहा कि उनकी पत्नी का राजनीति में आने का कोई इरादा न था और न आगे है।

प्रदेश की राजधानी गांधीनगर में ऐसी अकटलें थीं कि दिल्ली से लौटने के बाद शुक्रवार देर रात अल्पेश की किसी स्थानीय उद्योगपति की ‌उपस्थिति में भाजपा के दिग्गज नेता के साथ बैठक हुई थी। इस विषय में पत्रकार द्वारा पूछे गये प्रश्न पर अल्पेश ठाकोर ने मुस्कुराते हुए इस बात को खारिज कर दिया।