पट्टी काटने के बजाय नर्स ने बच्ची का अंगूठा काट दिया, जानिये फिर क्या हुआ…


youtube.com

अहमदाबाद की वीएस होस्पीटल में लापरवाही का एक मामला सामने आया है, जिसमें एक नन्हीं बच्ची को अपने हाथ का अंगूठा गंवाना पड़ गया है। वैसे तो अहमदाबाद की वीएस होस्पीटल को गरीबों की जीवनरेखा माना जाता है। लेकिन इस होस्पीटल ने एक गरीब परिवार की मु‌श्किलें बढ़ा दी हैं। इसका कारण यह है कि यहां की एक नर्स ने नन्ही बच्ची के हाथ में लगी हुई पट्टी निकालते समय कैंची से मासूम बच्ची का अंगूठा ही काटा डाला।

एक रिपोर्ट के अनुसार दो वर्षीय इस बालिका को सामान्य सर्दी-खांसी की शिकायत पर अस्पताल में दाखिल कराया गया था। बच्ची को ईलाज के बाद जब घर जाने के लिये छुट्टी दी गई तो उस वक्त बच्ची के हाथ के अंगूठे में लगाई गई पट्टी काटते समय नर्स की लापरवाही से अंगूठे का ऊपरी हिस्सा कट गया। इस घटना के बाद बच्ची के परिजन गुस्से में हैं। फिलहाल बालिका को अस्पताल के पिडियाट्रिक विभाग में ईलाज के लिये स्थानतिरित किया गया है।

बच्ची के परिजनों ने मीडिया से बातचीत में कहा कि २९ मई को बच्ची की तबियत ठीक न होने पर वे दवा लेने अस्पताल पहुंचे। चिकित्सकों के कहने पर बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया गया। २ जून को बच्ची को अस्पताल से छुट्टी दी गई और तभी नर्स की लापरवाही से यह घटना घटी। अन्य नर्सों ने कहा कि नन्हीं बच्ची की पट्टी खोलने में कैंची का उपयोग नहीं होता, लेकिन इस नर्स द्वारा ऐसा करने पर यह घटना घट गई। घटना के बाद डॉक्टरों ने कहा कि आप अन्य बड़ी हॉस्पीटल में बच्ची को ईलाज के लिये ले जाएं। बच्ची का अंगूठा ऑपरेशन करके जोड़ दिया गया है। यद्यपि डॉक्टर का यह भी कहना है कि बच्ची के भाग्य में होगा तो उसका अंगूठा जुड़ा रहेगा, नहीं तो भगवान की इच्छा। हमारी मांग यह है कि बच्ची का अंगूठा जैसा था, वैसा ही हमे चाहिये।