अहमदाबाद में श्रद्धालुओं को सस्ते में तीर्थयात्रा पड़ी महंगी


(Photo Credit : pramukhtravels.com)

अहमदाबाद में कुछ लोगों को चार धामों की यात्रा पर जाना महंगा पड़ा। अहमदाबाद की चिंतन फाउंडेशन की संचालक रेखा नाम की महिला द्वारा अहमदाबाद के कुछ बुजुर्ग व्यक्तियों को 22,000 रुपये में 4 धाम की तीर्थयात्रा करने के लिए कहा गया था। इतनी कम कीमत में चार धाम यात्रा की घोषणा सुनने के बाद कुछ लोगों ने अपने नाम लिखवाए। इन सभी लोगों को रेखा देसाई नामक एक महिला द्वारा यात्रा पर भी ले जाया गया था। लेकिन वहां महिला ने बुजुर्ग लोगों से पैसे ले लिए थे। होटल के बजाय, उन्हें सड़क पर सुलाया गया था और सभी लोगों को हरिद्वार छोड़ कर रेखा देसाई फरार हो गई। तीर्थयात्रा पर गए सभी लोग बड़ी कठिनाइयों के साथ वापस अहमदाबाद आए।

यात्रियों ने कहा कि रेखाबेन जेंतिभाई देसाई नाम की एक महिला ने हमारे पास से चिंतन फाउंडेशन के नाम पर 22,000 रुपये एकत्र किए और हमें उस पैसे से यात्रा पर ले जाया गया। लेकिन हमें कोई सुविधा नहीं दी गई। हमें बताया गया था कि आपको गेस्ट हाउस ले जाया जाएगा। लेकिन हमें वहां सड़क पर सुलाया गया था। हमें किसी भी तरह का पानी, खाना और सोने की सुविधा नहीं दी गई। उन लोगों ने हमें बहुत परेशान किया और उन्होंने हमारे पास से पैसे निकलवाने के लिए कई नाटक किए थे। उन लोगों ने हमारे दशा को भीखारी से भी बदतर कर दिया था। हमारे पास लौटने के लिए भी पैसे नहीं थे।

अन्य तीर्थयात्रियों ने कहा कि, पहले हमसे 22,000 रुपये लिए। फिर हमें हरिद्वार छोड़ दिया और वहां भी हमसे 12,000 रुपये ले लिए। हमें किसी तरह की सुविधा नहीं दी गई और हमसे पैसे ले लिए गए।