लोकतेज https://www.loktej.com Latest Hindi News Sat, 04 Apr 2020 18:25:24 +0000 en-US hourly 1 https://wordpress.org/?v=4.9.10 https://www.loktej.com/wp-content/uploads/2018/09/loktej-150x150.png लोकतेज https://www.loktej.com 32 32 ऑस्ट्रेलिया के वैज्ञानिकों ने लैब में कोरोना वायरस को खत्म किया https://www.loktej.com/world/australian-scientists-eliminate-corona-virus-in-lab-66293 https://www.loktej.com/world/australian-scientists-eliminate-corona-virus-in-lab-66293#respond Sat, 04 Apr 2020 18:25:24 +0000 https://www.loktej.com/?p=66293 मेलबर्न (ईएमएस)। ऑस्ट्रेलिया में वैज्ञानिकों ने लैब में कोरोना वायरस से संक्रमित कोशिका को इस घातक वायरस को महज 48 घंटे में ही मुक्ति दिला दी। यह एक ऐसी दवा से किया गया जो पहले से ही मौजूद है। वैज्ञानिकों ने पाया कि दुनिया में पहले से ही मौजूद एक ऐंटी-पैरासाइट ड्रग यानी परजीवियों को...]]>

मेलबर्न (ईएमएस)। ऑस्ट्रेलिया में वैज्ञानिकों ने लैब में कोरोना वायरस से संक्रमित कोशिका को इस घातक वायरस को महज 48 घंटे में ही मुक्ति दिला दी। यह एक ऐसी दवा से किया गया जो पहले से ही मौजूद है। वैज्ञानिकों ने पाया कि दुनिया में पहले से ही मौजूद एक ऐंटी-पैरासाइट ड्रग यानी परजीवियों को मारने वाली दवा ने कोरोना वायरस को खत्म कर दिया। यह कोरोना वायरस के इलाज की दिशा में बड़ी कामयाबी है और इससे अब क्लिनिकल ट्रायल का रास्ता साफ हो सकता है।

ऐंटी-वायरल रिसर्च जर्नल में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक इवरमेक्टिन नाम की दवा की सिर्फ एक डोज कोरोना वायरस समेत सभी वायरल आरएनए को 48 घंटे में खत्म कर सकता है। अगर संक्रमण ने कम प्रभावित किया है तो वायरस 24 घंटे में ही खत्म हो सकता है। दरअसल आरएनए वायरस उन वायरसों को कहा जाता है जिनके जेनेटिक मटीरियल में आरएनए यानी रिबो न्यूक्लिक ऐसिड होता है। इस स्टडी को ऑस्ट्रेलिया के मोनाश यूनिवर्सिटी की काइली वैगस्टाफ ने अन्य वैज्ञानिकों के साथ मिलकर लिखा है।

स्टडी में वैज्ञानिकों ने कहा है कि इवरनेक्टिन एक ऐसा ऐंटी-पैरासाइट ड्रग है जो एचआईवी, डेंगू, इन्फ्लुएंजा और जीका वायरस जैसे तमाम वायरसों के खिलाफ कारगर है।

]]>
https://www.loktej.com/world/australian-scientists-eliminate-corona-virus-in-lab-66293/feed 0
कोरोना मरीजों का भारत में ट्रेंड दुनिया से उलटा https://www.loktej.com/india/corona-corona-patients-reverse-trend-world-in-india-66291 https://www.loktej.com/india/corona-corona-patients-reverse-trend-world-in-india-66291#respond Sat, 04 Apr 2020 17:34:00 +0000 https://www.loktej.com/?p=66291 भारत में कुल मामलो में सबसे ज्यादा 20 से 40 की उम्र के लोग 42 फीसदी नई दिल्ली (ईएमएस)। कोरोना वायरस संक्रमण के शिकार लोगों में एक अलग ट्रेंड भारत में सामने आ रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक यूरोप और पूरी दुनिया से ठीक अलग भारत में सबसे ज्यादा बुजुर्ग नहीं बल्कि बीच वाली...]]>

भारत में कुल मामलो में सबसे ज्यादा 20 से 40 की उम्र के लोग 42 फीसदी

नई दिल्ली (ईएमएस)। कोरोना वायरस संक्रमण के शिकार लोगों में एक अलग ट्रेंड भारत में सामने आ रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक यूरोप और पूरी दुनिया से ठीक अलग भारत में सबसे ज्यादा बुजुर्ग नहीं बल्कि बीच वाली उम्र और कम उम्र के लोग संक्रमण के शिकार हो रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल के मुताबिक जीरो से 20 साल की उम्र के 9 फीसदी मामले भारत में संक्रमण के सामने आए हैं। इसी तरह से 20 से 40 की उम्र के 42 फीसदी संक्रमण के केस भारत में सामने आ रहे हैं, जबकि 40 से 60 साल की उम्र के 33% संक्रमण के मामले भारत में सामने आए हैं और 7 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के मामले से 17 फीसदी हैं। अभी तक जो भी संक्रमण के केस भारत में है, उनमें से 58 क्रिटिकल हालत में है।

स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि हर स्तर पर लोजिस्टिक्स उपलब्ध कराने का सरकार पूरा प्रयास कर रही है। गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने तबलीगी जमात से जुड़े संक्रमण के मामलों को लेकर कहा कि अभी तक तबलीगी जमात से जुड़े 22000 लोगों को क्वारंटाइन कर दिया गया है। इनमें से एक हजार 23 लोगों में संक्रमण के मामले कंफर्म हो चुके हैं। लव अग्रवाल ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्रालय ने गाइडलाइन जारी की है। उन्होंने कहा कि परिवार में भी अपना फेस कवर या मास्क किसी से शेयर ना करें। आईसीएमआर की तरफ से और गंगाखेड़कर ने कहा कि अभी तक 75000 लोगों के टेस्ट किए गए हैं।

]]>
https://www.loktej.com/india/corona-corona-patients-reverse-trend-world-in-india-66291/feed 0
सूरत : लॉकडाऊन में एक ही रूम में रहने वाले युवकों में झगड़े के बाद हत्या हो गई https://www.loktej.com/surat-news/urat-youth-murder-his-companion-residing-in-same-room-during-corona-lockdown-66289 https://www.loktej.com/surat-news/urat-youth-murder-his-companion-residing-in-same-room-during-corona-lockdown-66289#respond Sat, 04 Apr 2020 16:28:39 +0000 https://www.loktej.com/?p=66289 घर का काम करने के संबंध में झगड़ा हुआ था सूरत। अपना-अपना काम अच्छी तरह से करने के विषय पर पांडेसरा की दीपक नगर सोसायटी में रहने वाले रुम पार्टनरों के बीच हुए झगड़े के बाद एक दूसरे के गले तथा पेट में वार कर हत्या कर दिये जाने की घटना प्रकाश में आई है।...]]>

घर का काम करने के संबंध में झगड़ा हुआ था

सूरत। अपना-अपना काम अच्छी तरह से करने के विषय पर पांडेसरा की दीपक नगर सोसायटी में रहने वाले रुम पार्टनरों के बीच हुए झगड़े के बाद एक दूसरे के गले तथा पेट में वार कर हत्या कर दिये जाने की घटना प्रकाश में आई है।

पुलिस सूत्रों की जानकारी के अनुसार पांडेसरा मेन विस्तार में स्थित दीपक नगर सोसायटी के प्लॉट नं. 82 की पहली मंजिल रुम नं. 1 स्थित है। जिसमें सुमित उर्फ पंजाबी तथा अभिषेक पारस यादव रुम पार्टनर के तौर पर साथ रहता था। दोनों के बीच अपना-अपना काम योग्य तौर पर करने के संबंध में इससे पहले झगड़ा हुआ था। इस दौरान तैश में आए अभिषेक ने सुमित को जान से मारने की धमकी भी दी थी।

गत रोज रात के 10 बजे के आसपास दोनों रुम पार्टनरों के बीच फिर झगड़ा हुआ था। इस दौरान दोनों के बीच मारपीट भी होने लगा। जिससे तैश में आकर अभिषेक ने धागा लपेटने की फिरकी तथा लोहे की पाइप की मदद से सुमित के गले तथा पेट में जानलेवा वार कर दिया था। उसके बाद वह रुम छोड़कर वहां से भाग गया था।

इस घटना में गंभीर तौर पर घायल सुमित की मौत हो गई। घटना की जानकारी पांडेसरा पुलिस को होने पर पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर अपराध वाली जगह का पंचनामा कर शव को नई सिविल अस्पताल के पोस्टमॉर्टम रुम में रखवाया । घटना के संबंध में पांडेसरा पुलिस ने हत्या का अपराध दर्जकर अधिक जांच पुलिस इन्स्पेक्टर डी.के. पटेल कर रहे हैं।

]]>
https://www.loktej.com/surat-news/urat-youth-murder-his-companion-residing-in-same-room-during-corona-lockdown-66289/feed 0
सूरत : तबलीगी जमात के जलसे में शामिल हुए जिले के 39 संदिग्धों का कोरोना टेस्ट करवाया गया https://www.loktej.com/surat-news/surat-39-suspects-from-the-district-involved-in-the-tabligi-jamaat-passes-through-corona-test-66286 https://www.loktej.com/surat-news/surat-39-suspects-from-the-district-involved-in-the-tabligi-jamaat-passes-through-corona-test-66286#respond Sat, 04 Apr 2020 16:22:19 +0000 https://www.loktej.com/?p=66286 सभी 39 लोग फिलहाल कोरोन्टाइन में सूरत। दिल्ली की मरकज में उपस्थिति सूरत जिले के 39 लोगों को सूरत जिला आरोग्य विभाग ने कोरोन्टाइन करने के बाद इन सभी लोगों का कोरोना वायरस का चिकित्सकीय जांच के लिए नमूना लेकर संबंधित लैब में भेजा गया है। दिल्ली में आयोजित सम्मेलन के बाद अपने घर रवाना...]]>

सभी 39 लोग फिलहाल कोरोन्टाइन में

सूरत। दिल्ली की मरकज में उपस्थिति सूरत जिले के 39 लोगों को सूरत जिला आरोग्य विभाग ने कोरोन्टाइन करने के बाद इन सभी लोगों का कोरोना वायरस का चिकित्सकीय जांच के लिए नमूना लेकर संबंधित लैब में भेजा गया है। दिल्ली में आयोजित सम्मेलन के बाद अपने घर रवाना हुए तबलीगी जमात के लोगों में अधिक पैमाने पर कोरोना वायरस पोजिटीव रोगी मिलने से समग्र देश में हड़कंप मच गया है। इस मरकज में उपस्थिति देनेवाले सूरत जिले के 39 तबलीगी जमात के लोगों का लिस्ट मिलने से सूरत जिले के स्वास्थ्य प्रशासन ने सभी लोगों को ढूंढ निकालकर कोरोन्टाइन किया था।

इन सभी व्यक्तियों को फिलहाल समरस होस्टल में रखा गया है। सरकारी गाइडलाइन के अनुसार इस तबलीगी जमात के संदिग्ध केसों के रोगी का कोरोना वायरस संदर्भ का परीक्षण शुरु कर दिया गया है।

]]>
https://www.loktej.com/surat-news/surat-39-suspects-from-the-district-involved-in-the-tabligi-jamaat-passes-through-corona-test-66286/feed 0
सूरत : लॉकडाउन के बीच शहर-जिले में कोरोना संक्रमण की स्थिति नियंत्रण में https://www.loktej.com/surat-news/surat-coronel-infection-situation-under-control-in-city-district-amid-lockdown-66283 https://www.loktej.com/surat-news/surat-coronel-infection-situation-under-control-in-city-district-amid-lockdown-66283#respond Sat, 04 Apr 2020 16:15:39 +0000 https://www.loktej.com/?p=66283 कोरोन्टाइन में  रखे गये संदिग्ध लक्षणों वाले 187 लोगों में से 171 का कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आया सूरत। तीन दिनों के बाद शनिवार शाम को शहर में एक कोरोना वायरस का रोगी दर्ज होने पालिका का स्वास्थ्य विभाग सतर्क हो गया। सूरत शहर में कुल 11 पोजिटीव केस हो गये जिसमें से तीन मरिजों का...]]>

कोरोन्टाइन में  रखे गये संदिग्ध लक्षणों वाले 187 लोगों में से 171 का कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आया

सूरत। तीन दिनों के बाद शनिवार शाम को शहर में एक कोरोना वायरस का रोगी दर्ज होने पालिका का स्वास्थ्य विभाग सतर्क हो गया। सूरत शहर में कुल 11 पोजिटीव केस हो गये जिसमें से तीन मरिजों का स्वास्थ्य ठीक होने पर दो दिन पुर्व छुट्टी दी गई थी और एक की पिछले सप्ताह महावीर अस्पताल में मौत हुई थी। शनिवार को 19 नये संदिग्ध केस आए और 13 का रिपोर्ट निगेटिव तथा 1 का रिपोर्ट पोजिटिव आया एवं 5 का रिपोर्ट पेन्डिग है।

सूरत महानगरपालिका के स्वास्थ्य विभाग की जानकारी के अनुसार पिछले 24 घंटे में 19 संदिग्ध केस मिले हैं। सभी को सरकारी और प्राइवेट अस्पताल में कोरोन्टाइन अंतर्गत रखा गया है। शनिवार को दर्ज नए संदिग्ध केसों में स्मीमेर अस्पताल के आयशोलेशन वॉर्ड में पाल की 47 वर्षीय महिला, वरियाली बाजार का 64 वर्षीय पुरुष, हीराबाग का 16 वर्षीय किशोर, भटार का 44 वर्षीय पुरुष, कापोद्रा के 22 वर्षीय युवक को चिकित्सकीय निरीक्षण अंतर्गत रखा गया है। जबकि नई सिविल अस्पताल में सरथाणा का 22 वर्षीय युवक, कतारगाम की 34 वर्षीय महिला, पांडेसरा का 20 वर्षीय युवक, पांडेसरा की 75 वर्षीय महिला, 49 वर्षीय पुरुष, 40 वर्षीय महिला, रांदेर का 55 वर्षीय पुरुष, पांडेसरा के 19 वर्षीय युवक को कोरोन्टाइन किया गया है। इसमें पांडेसरा के चार रोगी पोजिटीव वाले रोगी के संपर्क में आने से नई सिविल अस्पताल में कोरोन्टाइन किया गया है। जबकि मिशन अस्पताल में पाल की 67 वर्षीय महिला, पांडेसरा का 36 वर्षीय पुरुष, वेडरोड की 28 वर्षीय महिला, बेगमपुरा का 65 वर्षीय पुरुष को कोरोन्टाइन किया है।

युनिक अस्पताल में वेसु का 48 वर्षीय पुरुष को कोरोन्टाइन अंतर्गत रखा गया है। आज की स्थिति के अनुसार 187 संदिग्ध केस है। जिसमें से 171 रोगी का नेगेटिव रिपोर्ट आया है। 11 का रिपोर्ट पोजिटिव है जबकि 5 रोगी के केस में रिपोर्ट पेंंडिंग है।

]]>
https://www.loktej.com/surat-news/surat-coronel-infection-situation-under-control-in-city-district-amid-lockdown-66283/feed 0
सूरत : D’mart कर्मचारी के परिवार के सदस्यों को कोरोना टेस्ट नैगेटिव https://www.loktej.com/surat-news/surat-corona-test-negative-of-family-members-of-dmart-employee-66280 https://www.loktej.com/surat-news/surat-corona-test-negative-of-family-members-of-dmart-employee-66280#respond Sat, 04 Apr 2020 16:08:52 +0000 https://www.loktej.com/?p=66280 नैगेटिव टेस्ट रिपोर्ट के बावजूद परिवार के सदस्य कोरोन्टाईन में रहेंगे सूरत। दो दिन पूर्व पांडेसरा स्थित डी मार्ट के पैकेजिंग विभाग के कर्मचारी का कोरोना रिपोर्ट पोजिटिव आया था। इस कर्मचारी के साथ स्टाफ के सदस्य एवं परिवार के सदस्यों को कोरोन्टाईन किया गया था। अब कर्मचारी के परिवार में चार सदस्योंं को संदिग्ध...]]>

नैगेटिव टेस्ट रिपोर्ट के बावजूद परिवार के सदस्य कोरोन्टाईन में रहेंगे

सूरत। दो दिन पूर्व पांडेसरा स्थित डी मार्ट के पैकेजिंग विभाग के कर्मचारी का कोरोना रिपोर्ट पोजिटिव आया था। इस कर्मचारी के साथ स्टाफ के सदस्य एवं परिवार के सदस्यों को कोरोन्टाईन किया गया था। अब कर्मचारी के परिवार में चार सदस्योंं को संदिग्ध लक्षण पाये जाने पर शुक्रवार शाम को ही सिविल अस्पताल में भर्ती किया था। चारों के सेम्पल लेब में भेज दिए हैं। शाम तक रिपोर्ट निगेटिव आने की जानकारी मिली है। फिर भी चारों को कोरोन्टाईन में रखा गया है।

बता दें कि इस कर्मचारी के पोजीटीव रिजल्ट आने के बाद सूरत शहर के जिस क्षेत्र में यह स्टोर मौजूद है, उस वॉर्ड में पालिका ने एसएमएस के द्वारा संदेश भेजा था। लोगों से आह्वान किया गया था कि प्रत्यक्ष-परोक्ष रूप से जो भी लोग स्टोर से संपर्क में रहें हों, वे स्वयं को आईसोलेशन में रख लें। साथ ही यहां से खरीदारी करने वाले ग्राहकों को भी कोरोन्टाईन में रखा गया था।

]]>
https://www.loktej.com/surat-news/surat-corona-test-negative-of-family-members-of-dmart-employee-66280/feed 0
सूरत : पाल की महिला का कोरोना रिपोर्ट पोजिटिव, RKT मार्केट या मुंबई कनेक्शन संभव https://www.loktej.com/surat-news/surat-palas-woman-corona-report-positive-rkt-market-or-mumbai-connection-possible-66277 https://www.loktej.com/surat-news/surat-palas-woman-corona-report-positive-rkt-market-or-mumbai-connection-possible-66277#respond Sat, 04 Apr 2020 16:00:51 +0000 https://www.loktej.com/?p=66277 61 वर्षीय रजनीबेन की कोई ट्रावेल हिस्ट्री नहीं, पुत्र के जरिए संक्रमण लगने होने की आशंका सूरत। पाल विस्तार की 61 वर्षीय महिला का कोरोना रिपोर्ट पोजिटिव आने के साथ शहर में 11 और जिले में 2 मिलाकर कुल 13 कोरोना पोजिटिव मरीज हुए। महिला का पुत्र आरकेटी मार्केट में व्यापारी है और इस मार्केट...]]>

61 वर्षीय रजनीबेन की कोई ट्रावेल हिस्ट्री नहीं, पुत्र के जरिए संक्रमण लगने होने की आशंका

सूरत। पाल विस्तार की 61 वर्षीय महिला का कोरोना रिपोर्ट पोजिटिव आने के साथ शहर में 11 और जिले में 2 मिलाकर कुल 13 कोरोना पोजिटिव मरीज हुए। महिला का पुत्र आरकेटी मार्केट में व्यापारी है और इस मार्केट से एक व्यक्ति का कोरोना पोजिटिव रिपोर्ट आ चुका है। इसके अलावा पुत्र ने 8 और 9 मार्च को मुंबई की यात्रा भी की है। महिला को पुत्र के जरिए संक्रमण लगे होने की आशंका है।

शनिवार शाम को हेल्थ डिपार्टमेन्ट द्वारा जारी सूचना के अनुसार पिछले दो दिनों से शहर जिले में एक भी कोरोना पोजिटिव रिजल्ट नहीं था। पाल नक्षत्र प्लेटिनियम, राज कोर्नर के पास पालनपुर केनाल की निवासी 61 वर्षिय रजनीबेन मनहरलाल लीलाणी को सर्दी खांसी और बुखार के लक्षण पाये जाने से उन्हे शुक्रवार को मिशन अस्पताल में संदिग्ध कोरोना पेशन्ट के रुप में भर्ती किया था। उनके सेम्पल जांच के लिए लेब में भेजे थे। शनिवार शाम को रजनीबेन का रिपोर्ट कोरोना पोजिटिव आया।

रजनीबेन के पुत्र अनिल लीलाणी ने चिकित्सकों से कहा कि पिछले 30 दिनों से उनकी माता सूरत से कहीं बाहर गई नहीं। अनिलभाई आरकेटी मार्केट की पहली मंजिल पर दुकान चलाते हैं। इस मार्केट में एक व्यक्ति का कोरोना रिपोर्ट पोजिटिव आ चुका है। इसके अलावा अनिलभाई 8 और 9 मार्च को मुंबई से लौटे थे। रजनीबेन को पुत्र अनिल के जरिए संक्रमण लगे होने की आशंका है। अनिलभाई को भी संदिग्ध लक्षण दिखे थे, पर वे 30 मार्च को स्वस्थ हो गये।

दो दिनों के विराम के बाद एक पोजिटिव केस आने पर पालिका ने प्रोपर्टी वोर्ड नं. 93-ए अंतर्गत पंजीकृत सभी संपत्ति धारकों को ग्रुप मेसेज करके उनके क्षेत्र में कोरोना पोजिटिव मरीज होने की जानकारी दी है। रजनीबेन के परिवार के सदस्यों को कोरोन्टाईन किया गया है। लोगों से निवेदन है कि इमरजेंसी के अलावा घर से बाहर न निकलें। घर में भी सदस्य एक मीटर का अंतर बनाए रखें। विशेष रुप से बच्चों एवं बुजुर्गों को कोरोना वायरस से बचाएं।

]]>
https://www.loktej.com/surat-news/surat-palas-woman-corona-report-positive-rkt-market-or-mumbai-connection-possible-66277/feed 0
कोरोना लॉकडाऊन में घर पर फुर्सत के पल बिता रहे बुमराह को ट्रोल करना पाक क्रिकेटरों को महंगा पड़ा https://www.loktej.com/sports/cricket/pak-cricketers-found-it-expensive-to-troll-bumrah-who-was-spending-time-at-home-in-corona-lockdown-66270 https://www.loktej.com/sports/cricket/pak-cricketers-found-it-expensive-to-troll-bumrah-who-was-spending-time-at-home-in-corona-lockdown-66270#respond Sat, 04 Apr 2020 09:04:14 +0000 https://www.loktej.com/?p=66270 नई दिल्ली (ईएमएस)। कोरोना संक्रमण के चलते भारत में 21 दिनों के लॉकडाऊन के दौरान भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बूमराह अपने घर पर ‌क्रिकेट से दूर रूम में सफाई करने, बरामदे में बागवानी करने और खाली समय में हीटमैन रोहित शर्मा के साथ इन्सटाग्राम पर लाईव बातचीत करके समय बिता रहे हैं। View this post on...]]>

नई दिल्ली (ईएमएस)। कोरोना संक्रमण के चलते भारत में 21 दिनों के लॉकडाऊन के दौरान भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बूमराह अपने घर पर ‌क्रिकेट से दूर रूम में सफाई करने, बरामदे में बागवानी करने और खाली समय में हीटमैन रोहित शर्मा के साथ इन्सटाग्राम पर लाईव बातचीत करके समय बिता रहे हैं।

 

इसी दौरान पाकिस्तानी क्रिकेट लीग पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) की टीम इस्लामाबाद यूनाइटेड को भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को ट्रोल करना महंगा पड़ा है। उसे बुमराह के प्रशंसकों ने ट्रॉल किया है। इसमें चैंपियंस ट्रॉफी के साल 2017 के फाइनल में की गई बुमराह की एक नो-बॉल की तस्वीर को साझा किया गया है। इसके जवाब में एक भारतीय प्रशंसक ने भी मैच फिक्सिंग के कारण विवादों में रहे गेंदबाज मोहम्मद आमिर की तस्वीर शेयर करते हुए पीएसएल को करारा जवाब दिया है।

इस दौरान इस्लामाबाद टीम ने कोरोना वायरस से जागरुक करने के लिए उसने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, लाइन को क्रॉस मत करो, महंगा पड़ सकता है। बिना जरूरत के घर से मत निकलो। इसके साथ ही कहा कि सामाजिक दूरी बनाएं, लेकिन ध्यान रखें कि आपके दिल करीब रहें। इसके साथ ही उसने बुमराह की चैंपियंस ट्रॉफी-2017 के फाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ की गई नो-बॉल की तस्वीर भी साझा की है।

यह बात भारतीय क्रिकेट प्रशंसकों को अच्छी नहीं लगी। इस पर एक यूजर ने तो आमिर की नो-बॉल की तस्वीर शेयर करते हुए जवाब दिया, जिसकी वजह से आमिर को जेल हुई थी। उसने आमिर की तस्वीर के साथ लिखा, अंदर रहो और सुरक्षित रहो, नहीं तो पांच साल की जेल होगी। गौरतलब है कि आमिर ने 2010 में इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए लॉर्ड्स टेस्ट के दौरान जानबूझकर नो-बॉल फेंकी थी और मैच फिक्सिंग की वजह से उन्हें जेल भी हुई थी।

]]>
https://www.loktej.com/sports/cricket/pak-cricketers-found-it-expensive-to-troll-bumrah-who-was-spending-time-at-home-in-corona-lockdown-66270/feed 0
बड़े लोगों की बड़ी तकलीफें; अब देखो लॉकडाउन में ट्विंकल खन्ना को क्या-क्या प्रोब्लेम हो रही है! https://www.loktej.com/entertainment/big-problems-for-big-people-now-see-what-the-problem-twinkle-khanna-is-getting-in-lockdown-66267 https://www.loktej.com/entertainment/big-problems-for-big-people-now-see-what-the-problem-twinkle-khanna-is-getting-in-lockdown-66267#respond Sat, 04 Apr 2020 08:43:54 +0000 https://www.loktej.com/?p=66267 मुंबई (ईएमएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लॉकडाउन का ऐलान किए जाने के बाद से सभी अपने घरों में रहने के लिए मजबूर हैं। ऐसे में तमाम चीजें ऐसी हैं जो जीने के लिए जरूरी तो नहीं कही जा सकतीं लेकिन हां जिंदगी में उनका अहम रोल होता है. न तो हम ऐसी चीजों को खरीदने...]]>

मुंबई (ईएमएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लॉकडाउन का ऐलान किए जाने के बाद से सभी अपने घरों में रहने के लिए मजबूर हैं। ऐसे में तमाम चीजें ऐसी हैं जो जीने के लिए जरूरी तो नहीं कही जा सकतीं लेकिन हां जिंदगी में उनका अहम रोल होता है. न तो हम ऐसी चीजों को खरीदने के लिए घर से बाहर जा सकते हैं और न उनकी मरम्मत कराने के लिए। ऐसे में बॉलीवुड कलाकार ट्विंकल खन्ना अपने घर में कॉमन मैन वाली प्रॉब्लम्स से जूंझती नजर आ रही हैं। हाल ही में ट्विंकल ने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया था जिसमें वह कह रही हैं कि न जाने अभी और कितने दिन लॉकडाउन रहना होगा। साथ ही ट्विंकल दिखा रही हैं कि कैसे वह अभी भी मिडिल क्लास प्रॉब्लम्स से स्ट्रगल कर रही हैं। वीडियो में ट्विंकल एक चप्पल को चिपका कर जोड़ने की कोशिश करती नजर आ रही हैं। ट्विंकल कहती हैं अब मैं बस आपा खोने की स्थिति में हूं क्योंकि ये जो स्लिपर टूट गई है वो इस मैचिंग शू की है। ट्विकंल अपना पैर दिखाती हैं जिस पर प्लास्टर लगा है। वीडियो में टूटा चश्मा और टूटी चप्पल दिखाने और अपनी प्रॉब्लम बताते-बताते ट्विकंल बहुत जोर से हंसने लगती हैं और बैकग्राउंड से अक्षय कुमार के हंसने की आवाज भी आती है।

ट्विकंल का ये वीडियो काफी लाइक और शेयर किया जा रहा है।

]]>
https://www.loktej.com/entertainment/big-problems-for-big-people-now-see-what-the-problem-twinkle-khanna-is-getting-in-lockdown-66267/feed 0
महाराष्ट्र में 14 अप्रैल के बाद भी जारी रह सकता है लॉकडाउन https://www.loktej.com/regional/lockdown-may-continue-in-maharashtra-even-after-april-14-66264 https://www.loktej.com/regional/lockdown-may-continue-in-maharashtra-even-after-april-14-66264#respond Sat, 04 Apr 2020 08:30:08 +0000 https://www.loktej.com/?p=66264 महाराष्ट्र में अब तक कोरोना के कुल 490 मामले मुंबई (ईएमएस)। महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने प्रदेश के कुछ हिस्सों में लॉकडाउन की अव‎धि बढ़ाने के संकेत दिए हैं। मंत्री टोपे ने कहा है कि हाल ही में आए कई मामलों को देखते हुए प्रदेश के कुछ...]]>

महाराष्ट्र में अब तक कोरोना के कुल 490 मामले

मुंबई (ईएमएस)। महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने प्रदेश के कुछ हिस्सों में लॉकडाउन की अव‎धि बढ़ाने के संकेत दिए हैं। मंत्री टोपे ने कहा है कि हाल ही में आए कई मामलों को देखते हुए प्रदेश के कुछ हिस्सों में लॉकडाउन की अव‎धि 14 अप्रैल के बाद बढ़ाई जा सकती है। हालांकि उन्होंने यह स्पष्ट किया कि वह निजी रूप से ऐसा चाहते हैं और सरकार ने अभी इसे लेकर कोई फैसला नहीं किया है।

महाराष्ट्र में अब तक कोरोना के कुल 490 केस सामने आ चुके हैं और प्रदेश सारे देश की अपेक्षा कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित हुआ है। टोपे का यह बयान महाराष्ट्र में हाल ही में बढ़े कोरोना के कई मामलों को देखते हुए आया है। इनमें मुंबई के धारावी इलाके में मिले कई पॉजिटिव केस भी शामिल हैं। हजारों झुग्गियों वाले इलाके धारावी में कोरोना के कई पॉजिटिव केस मिल चुके हैं, ऐसे में अधिकारियों के लिए यहां पर संक्रमण को रोकना एक बड़ी चुनौती बन गया है। इसके साथ ही मुंबई में शुक्रवार को सीआईएसएफ के 6 जवान भी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। शुक्रवार को मुंबई में कोरोना के 43 नए मामले सामने आए हैं। अब यहां कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 278 तक पहुंच गई है।

राज्य में कोरोना के 67 नए मामले दर्ज किए गए। यहां पिछले 24 घंटों में कोरोना की वजह से 6 मरीजों की जान गई है। अब तक मरने वालों की संख्या बढ़कर 26 हो गई है। उपचार के बाद डॉक्टरों ने 50 मरीजों को कोरोनामुक्त घोषित कर दिया है। बीएमसी ने मुंबई के इलाकों को चिह्नित किया है, जहां कोरोना के सबसे ज्यादा और सबसे कम मरीज मिले हैं। पांच सबसे ज्यादा प्रभावित इलाके मालाड, वर्ली, घाटकोपर, भायखला और शिवाजी नगर गोवंडी हैं। बीएमसी ने कोरोना वायरस के कारण एम वेस्ट वॉर्ड, चेंबूर, देवनार में सर्वाधिक 21 परिसरों को प्रतिबंधित किया है। इसी तरह एन विभाग के अंतर्गत 20 परिसर, एच पश्चिम के अंतर्गत बांद्रा से सांताक्रुज के बीच 11 परिसर और डी विभाग के तहत मलबार हिल में 11 परिसर सील किए गए हैं। गौरतलब है ‎कि आदित्य ठाकरे का विधानसभा क्षेत्र सबसे ज्यादा प्रभावित है।

]]>
https://www.loktej.com/regional/lockdown-may-continue-in-maharashtra-even-after-april-14-66264/feed 0
पीएम नरेंद्र मोदी ने शेयर की वाजपेयी की कविता, कहा- आओ दिया जलाएं https://www.loktej.com/india/pm-narendra-modi-shares-vajpayees-poem-say-aao-diya-jalaye-66261 https://www.loktej.com/india/pm-narendra-modi-shares-vajpayees-poem-say-aao-diya-jalaye-66261#respond Sat, 04 Apr 2020 08:19:42 +0000 https://www.loktej.com/?p=66261 नई दिल्ली (ईएमएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को एक ट्वीट के जरिए लोगों से अपील की है कि रविवार को सभी लोग रात के 9 बजे 9 मिनट के लिए घर की लाइट्स बंद कर मोमबत्ती, दीया, फ्लैशलाइट्स जलाएं। पीएम ने पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की एक कविता शेयर कर लिखा...]]>

नई दिल्ली (ईएमएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को एक ट्वीट के जरिए लोगों से अपील की है कि रविवार को सभी लोग रात के 9 बजे 9 मिनट के लिए घर की लाइट्स बंद कर मोमबत्ती, दीया, फ्लैशलाइट्स जलाएं। पीएम ने पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की एक कविता शेयर कर लिखा है- ‘आओ दिया जलाएं। इस वीडियो में दिवंगत प्रधानमंत्री कविता पाठ करते दिख रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में देश की ‘सामूहिक शक्ति’ के महत्व को रेखांकित करते हुए रविवार पांच अप्रैल को देशवासियों से अपने घरों की बालकनी में खड़े रहकर नौ मिनट के लिए मोमबत्ती, दिया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाने की अपील की। प्रधानमंत्री ने अपने वीडियो संदेश में कहा, हमें कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में 130 करोड़ देशवासियों के महासंकल्प को नई ऊंचाइयों पर ले जाना है।

 

इसलिए 5 अप्रैल, रविवार को रात नौ बजे मैं आप सबके 9 मिनट चाहता हूं। आप घर की सभी लाइटें बंद करके, घर के दरवाजे पर या बालकनी में खड़े रहकर 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दिया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाएं। उन्होंने कहा इस रविवार हम सबको मिलकर, कोविड-19 के संकट के अंधकार को चुनौती देनी है, उसका प्रकाश की ताकत से परिचय कराना है। हमें 130 करोड़ देशवासियों की महाशक्ति का जागरण करना है। पीएण मोदी मोदी ने इस दौरान लोगों से सामाजिक दूरी को बनाए रखने की अपील भी की।

]]>
https://www.loktej.com/india/pm-narendra-modi-shares-vajpayees-poem-say-aao-diya-jalaye-66261/feed 0
टेक्सटाईल उद्योग को मंदी से उबारने सरकार लिक्विडटी की समस्या सुलझाये, पैंडिंग सब्सिडी रीलीज करे https://www.loktej.com/surat-news/government-should-solve-the-problem-of-liquidity-by-reviving-textile-industry-release-panding-subsidy-entrepreneur-kamal-vijay-tulsian-66259 https://www.loktej.com/surat-news/government-should-solve-the-problem-of-liquidity-by-reviving-textile-industry-release-panding-subsidy-entrepreneur-kamal-vijay-tulsian-66259#respond Sat, 04 Apr 2020 07:34:25 +0000 https://www.loktej.com/?p=66259 पिछले कुछ समय से सूरत का टेक्सटाईल उद्योग मंदी के दौर से गुजर रहा है। उसी में कोरोना की महामारी ने आग में घी डालने का काम किया है। 21 दिनों के लॉकडाऊन के बाद तो हालात और बिगड़ सकते हैं। श्रमिक वर्ग वतन की ओर पलायान कर गया है और जो शेष हैं वो...]]>

पिछले कुछ समय से सूरत का टेक्सटाईल उद्योग मंदी के दौर से गुजर रहा है। उसी में कोरोना की महामारी ने आग में घी डालने का काम किया है। 21 दिनों के लॉकडाऊन के बाद तो हालात और बिगड़ सकते हैं। श्रमिक वर्ग वतन की ओर पलायान कर गया है और जो शेष हैं वो भी लॉकडाऊन के खुलने का इंतजार कर रहे हैं। ऐसे में टेक्सटाईल उद्योग को आर्थिक मंदी के गर्त में न समा जाए इसका क्या हल हो सकता है?

इस बाबत शहर के पांडेसरा इंडस्ट्रीयल को. ओ. सोसायटी के प्रमुख और उद्यमी कमल विजय तुलस्यान ने राज्य के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी के समक्ष समस्या के निराकरण स्वरुप कुछ मुद्दे रखे हैं। उनके अनुसार टेक्सटाईल उद्योग वर्तमान में आर्थिक तरलता की कमी से झूझ रहा है। ऐसे में यदि इंडस्ट्रीयल और ड्राफ्ट टेक्सटाईल पॉलिसी की बकाया सब्सिडी सरकार रीलीज कर देती है तो यह असरदार पहला कदम होगा। सूरत के टेक्सटाईल क्लस्टर की कैपिटल और ब्याज की सब्सिडी से उद्योग में लिक्विडिटी बढ़ेगी जिससे उद्यमियों को बैंक की किश्तें, ब्याज की राशि, कारीगरों के वेतन आदि चुकाने में बड़ी आसानी हो जायेगी। इससे श्रमिकों के पलायान पर भी रोक लगेगी।

कमल विजय तुलस्यान के अनुसार फिलहाल व्यापार ठप है, निर्यात रूका पड़ा है। अशि‌क्षित श्रमिक वर्ग अफवाहों में जल्दी आ जाता है, ऐसे में उसे रोके रखना दुभर भी है और चुनौती भी। ऐसे उद्योग और सरकार दोनों को मिलकर ‌अग्रिमता से कदम उठाने होंगे। अभी भी मशीनरी से लेकर ग्रुप वर्क शेड सहित की योजनाओं संबंधी आवेदन कमिश्नरेट में लंबित हैं। इन आवेदनों को जल्द निपटा दिया जाना चाहिये। ज्ञात रहे कि निटिंग इंडस्ट्री का 2 हजार करोड़ रुपया का फंड पिछले दो वर्षों से अटका पड़ा है। जिस भी क्लियर करने के लिये टेक्सटाईल कमिश्नरेट में पेशकश की गई है।

]]>
https://www.loktej.com/surat-news/government-should-solve-the-problem-of-liquidity-by-reviving-textile-industry-release-panding-subsidy-entrepreneur-kamal-vijay-tulsian-66259/feed 0
रविवार को 9 मिनट ‘दीया जलाने’ के अभियान से टैंशन में आ गया है बिजली विभाग https://www.loktej.com/india/the-electricity-department-has-come-in-tension-due-to-the-9-minutes-diya-jalne-campaign-on-sunday-66256 https://www.loktej.com/india/the-electricity-department-has-come-in-tension-due-to-the-9-minutes-diya-jalne-campaign-on-sunday-66256#respond Sat, 04 Apr 2020 06:27:53 +0000 https://www.loktej.com/?p=66256 बिजली विभाग के लिए बड़ी चुनौती बनी पीएम मोदी की 9 मिनट लाइट बंद करने की अपील नई दिल्ली (ईएमएस)। पीएम मोदी ने देशवासियों से 5 अप्रैल की रात 9 बजे 9 मिनट के लिए घर की लाइटें बंद कर दिया, मोमबत्ती या मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाने की अपील की है। पीएम मोदी ने...]]>

बिजली विभाग के लिए बड़ी चुनौती बनी पीएम मोदी की 9 मिनट लाइट बंद करने की अपील

नई दिल्ली (ईएमएस)। पीएम मोदी ने देशवासियों से 5 अप्रैल की रात 9 बजे 9 मिनट के लिए घर की लाइटें बंद कर दिया, मोमबत्ती या मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाने की अपील की है। पीएम मोदी ने कोरोना महामारी का सामना कर रहे लोगों से संकट की घड़ी में एकजुटता का संदेश देने के लिए यह अपील की है। पीएम मोदी की इस अपील ने बिजली वितरण कंपनियों के सामने बड़ी मुश्किल खड़ी कर दी है।

पीएम मोदी की इस अपील के बाद बिजली कंपनियों ने भी इस चुनौती से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। कंपनियों के लिए सबसे बड़ी चुनौती ब्लैकआउट टालने की होगी। अगर 130 करोड़ देशवासी एकसाथ बिजली बंद करते हैं और 9 मिनट बाद फिर एक साथ जलाते हैं तो ब्लैकआउट का खतरा काफी ज्यादा होगा। बिजली के काम से जुड़े एक अधिकारी ने कहा यह एक चलती हुई कार में अचानक ब्रेक लगाने और फिर तेज एक्सीलरेटर देने जैसी स्थिति है। ऐसा करने पर इसका अनुमान लगाना मुश्किल है कि कार का व्यवहार क्या होगा। बिजली विभाग के पास इस 9 मिनट की चुनौती से निपटने की तैयारी के लिए अब केवल एक दिन का ही समय बचा है।

हालांकि विशेषज्ञों का मानना है कि बिजली विभाग इस चुनौती का सामना करने में सक्षम है। आपको बता दें कि हमारे घर तक 3 तरीकों से बिजली पहुंचाई जाती है। पहला पॉवर जनरेटर जैसे एनटीपीसी, दूसरा हर राज्य में मौजूद वितरण कंपनियां और तीसरा राज्य भार प्रेषण केंद्र या एसएलडीसी। एलसीडीसी बिजली की मांग के साथ आपूर्ति में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं। बिजली आपूर्ति को एक दिन में प्रत्येक 15 मिनट के 96 ब्लॉक में विभाजित किया गया है। एसएलडीसी हर राज्य में ब्लॉक के लिए मांग और आपूर्ति का शेड्यूल बनाता है।

अगर पीएम नरेंद्र मोदी 15 मिनट के लिए बिजली बंद करने को कहते तो 15 मिनट का एक ब्लॉक बंद कर दिया जाता, लेकिन उन्होंने 9 मिनट लाइट बंद करने की अपील की है। इसमें एसएलडीसी की भूमिका काफी महत्वपूर्ण है। पावर ग्रिड लाइनों में बिजली की आवृत्ति 48.5 और 51.5 हर्ट्ज के बीच हो,यह एसएलडीसी सुनिश्चित करता है। अगर यह बहुत अधिक हो जाता है (अगर सप्लाई बहुत ज्यादा हो) या बहुत कम (जब मांग काफी ज्यादा हो), तो लाइनें कट सकती हैं। इससे देशभर में बिजली संकट खड़ा हो सकता है।

आपमें से कुछ लोगों को याद होगा कि सन 2012 में दुनिया का सबसे बड़ा ब्लैकआउट कुछ ऐसे ही घटित हुआ था, जब अचानक मांग बढ़ने से ट्रिपिंग हुई थी और लगभग 60 करोड़ भारतीयों के घरों की बिजली चली गई थी और बहुत बड़ा क्षेत्र अंधेरे में डूब गया था।

]]>
https://www.loktej.com/india/the-electricity-department-has-come-in-tension-due-to-the-9-minutes-diya-jalne-campaign-on-sunday-66256/feed 0
अब तबलीग जमात के सारे कांड उजागर होंगे, जानें कैसे कसने लगा है शिंकजा https://www.loktej.com/india/now-all-the-scandal-of-tablig-jamaat-will-be-exposed-know-how-shinkja-has-started-tightening-66253 https://www.loktej.com/india/now-all-the-scandal-of-tablig-jamaat-will-be-exposed-know-how-shinkja-has-started-tightening-66253#respond Sat, 04 Apr 2020 06:14:01 +0000 https://www.loktej.com/?p=66253 मांगे फंडिंग के स्रोत और विदेशी सदस्यों की जानकारी नई दिल्ली (ईएमएस)। कहा जाता है कि ‘बात निकलेगी तो वहीं तक नहीं रुकी रहेगी। तबलीगी जमात और इसके निजामुद्दीन मरकज की करतूतों के कारण दूर-दूर तक कोरोना का संक्रमण फैलने लगा, तो प्रशासन ने भी शिकंजा कसना शुरु कर दिया है। दिल्ली पुलिस ने अब...]]>

मांगे फंडिंग के स्रोत और विदेशी सदस्यों की जानकारी

नई दिल्ली (ईएमएस)। कहा जाता है कि ‘बात निकलेगी तो वहीं तक नहीं रुकी रहेगी। तबलीगी जमात और इसके निजामुद्दीन मरकज की करतूतों के कारण दूर-दूर तक कोरोना का संक्रमण फैलने लगा, तो प्रशासन ने भी शिकंजा कसना शुरु कर दिया है। दिल्ली पुलिस ने अब मरकज के मौलाना साद कंधालवी समेत तबलीगी जमात की कोर कमेटी के सात सदस्यों को नोटिस जारी किया है। इन सातों की तलाश में जुटी पुलिस टीम से कहा गया है कि वे छानबीन के दौरान किसी भी अहाते में घुसने से पहले एहतियात बरतें क्योंकि संभव है कि ये सातों भी कोविड-19 से पीड़ित हों। पुलिस ने उनसे आलमी मरकज और इसके निजामुद्दीन स्थित मुख्यालयों की फंडिंग के स्रोत की जानकारी मांगी है।

जमात ने पिछले तीन सालों में कितना टैक्स भरा है, उसके बैंक खातों में कहां-कहां से कितने पैसे आए हैं, इन सब डिटेल्स के साथ पैन भी मांगा गया है। मरकज के प्रमुख मौलाना साद और छह अन्य सदस्यों से उन विदेशियों और भारतीय जमातियों की लिस्ट भी मांगी गई है जिन्होंने 11 से 13 मार्च के दौरान आयोजित ‘जोड़’ कार्यक्रम में शिरकत की थी।

मरकज के सदस्यों से पूछा गया है कि क्या उन्होंने इतने बड़े आयोजन के लिए प्रशासन की अनुमति ली थी, क्या उन्हें इसकी लिखित अनुमति दी गई थी और क्या आलमी मरकज ने प्रशासन से किसी और मामले में संपर्क किया था? उन्हें कमेटी मेंबर्स और मरकज के कर्मचारियों की लिस्ट भी पुलिस को सौंपनी होगी। पुलिस ने मरकज से कहा कि वह 1 जनवरी से 1 अप्रैल तक वहां हुए सारे आयोजनों में शामिल लोगों की संख्या, नक्शा या साइट प्लान और परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरों की संख्या बताए।

इसके साथ ही, 12 मार्च के बाद जिन लोगों ने कार्यक्रमों में हिस्सा लिया, उनके ऑडियो या वीडियो रिकॉर्डिंग के साथ-साथ ओरिजनल रजिस्टर भी मांगा गया है, जिसमें बाहर से आए लोगों के डिटेल्स दर्ज किए गए। मरकज को इस दौरान पार्किंग की देखरेख करने वालों और वॉलंटियरों की जानकारी भी पुलिस को देनी होगी। मौलाना साद और उनकी कोर कमिटी के सदस्यों को यह भी बताना होगा कि क्या कोई श्रद्धालु कार्यक्रम के दौरान वहां बीमार भी पड़ा था और आलमी मरकज ने लोगों को निकालने के लिए कौन-कौन से कदम उठाए थे, खासकर देशव्यापी लॉकडाउन घोषित होने के बाद। 12 मार्च के बाद मरकज के जिन लोगों को अस्पताल ले जाया गया, उनका विवरण भी मांगा गया है।

]]>
https://www.loktej.com/india/now-all-the-scandal-of-tablig-jamaat-will-be-exposed-know-how-shinkja-has-started-tightening-66253/feed 0
कोरोना ने तो धरती का कंपन भी कम दिया! जानिये क्या कह रहे हैं भूवैज्ञानिक https://www.loktej.com/weird-news/corona-gave-even-less-vibration-of-the-earth-know-what-the-geologists-are-saying-66250 https://www.loktej.com/weird-news/corona-gave-even-less-vibration-of-the-earth-know-what-the-geologists-are-saying-66250#respond Sat, 04 Apr 2020 12:30:08 +0000 https://www.loktej.com/?p=66250 कोरोना के चलते किए गए लॉकडाउन से वैश्विक स्तर पर शांत हुई दुनिया ब्रसेल्स (ईएमएस)। दुनियाभर में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव के कारण आम लोग न केवल घरों में कैद हो गए हैं बल्कि, सार्वजनिक परिवहन और उद्योग धंधों की रफ्तार पर भी ब्रेक लग गया है। जिन सड़कों पर कभी लाखों की संख्या...]]>

कोरोना के चलते किए गए लॉकडाउन से वैश्विक स्तर पर शांत हुई दुनिया

ब्रसेल्स (ईएमएस)। दुनियाभर में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव के कारण आम लोग न केवल घरों में कैद हो गए हैं बल्कि, सार्वजनिक परिवहन और उद्योग धंधों की रफ्तार पर भी ब्रेक लग गया है। जिन सड़कों पर कभी लाखों की संख्या में लोग मौजूद रहते थे, इस समय उनपर कुछ गिने-चुने लोग ही दिखाई देते हैं। कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने की कोशिशों ने वैश्विक स्तर पर दुनिया को शांत बना दिया है। इसकी पुष्टि कई भूगर्भ वैज्ञानिक भी कर रहे हैं।

बेल्जियम में रॉयल ऑब्जर्वेटरी के भूविज्ञानी थॉमस लेकोक ने ब्रसेल्स में कहा कि कोरोना वायरस के रोकने के उपायों के कारण पृथ्वी के ऊपरी परत में कंपन का स्तर भारी मात्रा में कम हुआ है। उन्होंने बताया यह कंपन कार, बस, ट्रक, ट्रेन और फैक्ट्रियों के चलने से पैदा होते थे। थॉमस लेकोक ने बताया कि केवल ब्रसेल्स में ही मार्च में धरती के कंपन में 30 प्रतिशत से 50 प्रतिशत तक की कमी दर्ज की गई है। लेकोक ने कहा कि इसका कारण कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए आम लोगों की गतिविधियों पर विराम लगना और सामाजिक दूरी बनाना है।

लेकोक ने कहा, कम शोर का मतलब है कि भूकंप विज्ञानी छोटी से छोटी भूगर्भीय हलचल का भी पता लगा सकते हैं। धरती की ये कंपन सामान्य समय में ऊपरी परत में मानव निर्मित कंपन के कारण रिकॉर्ड में नहीं आते थे। इसलिए भूकंप मापन केंद्र हमेशा शहरों से बाहर स्थापित किए जाते हैं क्योंकि कम मानवीय शोर में उन कंपनों को सुनना आसान होता है। उन्होंने यह भी बताया कि भूकंप वैज्ञानिक (सीस्मोलॉजिस्ट) धरती के कंपनों का पता लगाने के लिए बोरहोल स्टेशन (जमीन के अंदर बने केंद्र) का उपयोग करते हैं। लेकिन, वर्तमान में शहर में छाई शांतता के कारण इसे बाहर से भी उतनी ही अच्छी तरह सुना जा सकता है जितनी अच्छी तरह ये नीचे सुनाई देती हैं।

लेकोक ने कहा कि धरती के ऊपरी परत के कंपन में आई कमी यह दर्शाता है कि पूरी दुनिया में लोग लॉकडाउन के नियमों का पालन कर रहे हैं। इसके साथ ही सामाजिक दूरी को भी बनाकर रख रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि धरती के कंपन में आई कमी के डाटा से इस बात का निर्धारण किया जा सकता है कि कहां के लोग लॉकडाउन के नियमों का ज्यादा पालन कर रहे हैं।

]]>
https://www.loktej.com/weird-news/corona-gave-even-less-vibration-of-the-earth-know-what-the-geologists-are-saying-66250/feed 0
CM उद्धव ठाकरे को 28 मई तक विधायक बनना जरूरी, कोरोना के चलते चुनाव नहीं हुए तो? https://www.loktej.com/regional/cm-uddhav-thackeray-required-to-become-mla-by-may-28-if-elections-are-not-held-due-to-corona-66248 https://www.loktej.com/regional/cm-uddhav-thackeray-required-to-become-mla-by-may-28-if-elections-are-not-held-due-to-corona-66248#respond Sat, 04 Apr 2020 05:54:58 +0000 https://www.loktej.com/?p=66248 मुंबई (ईएमएस)। लॉकडाउन के कारण महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के लिए अनिर्णय की स्थिति बन गई है। नवंबर 2019 में जब उन्होंने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। वह विधान परिषद अथवा विधानसभा के सदस्य नहीं थे। 6 माह के अंदर उन्हें विधायक या विधान परिषद का सदस्य बनना जरूरी है। कोरोनावायरस के कारण...]]>

मुंबई (ईएमएस)। लॉकडाउन के कारण महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के लिए अनिर्णय की स्थिति बन गई है। नवंबर 2019 में जब उन्होंने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। वह विधान परिषद अथवा विधानसभा के सदस्य नहीं थे। 6 माह के अंदर उन्हें विधायक या विधान परिषद का सदस्य बनना जरूरी है।

कोरोनावायरस के कारण राजनीतिक गतिविधियां पूरी तरह से थम गई हैं। ऐसी हालत में यदि 28 मई के पहले वह विधायक नहीं बन पाए तो उन्हें इस्तीफा देना पड़ सकता है। इसको लेकर महाराष्ट्र में राजनीतिक अटकलों का दौर शुरू हो गया है। चुनाव आयोग की गतिविधियां अभी पूरी तरह शांत है। राज्यसभा के चुनाव भी टल गए हैं। ऐसी ‎स्थिति में उप-चुनावों एवं चुनाव प्र‎क्रिया को लेकर संशय है।

]]>
https://www.loktej.com/regional/cm-uddhav-thackeray-required-to-become-mla-by-may-28-if-elections-are-not-held-due-to-corona-66248/feed 0
भारत की कोरोना वायरस होम टेस्ट किट लॉन्च, आप घर पर करे टेस्ट https://www.loktej.com/business/indias-corona-virus-home-test-kit-launched-you-test-at-home-66244 https://www.loktej.com/business/indias-corona-virus-home-test-kit-launched-you-test-at-home-66244#respond Sat, 04 Apr 2020 05:50:53 +0000 https://www.loktej.com/?p=66244 नई दिल्ली (ईएमएस)। कोरोना वायरस के कारण भारत में अभी तक 2,328 लोग संक्रमित हैं और 56 लोगों की मौत हो चुकी है। बंगलूरू की एक कंपनी ने भारत का पहला कोविड-19 होम टेस्ट किट पेश किया है जिसकी मदद से आप घर पर ही कोरोना वायरस का टेस्ट क सकते हैं। इस कंपनी का...]]>

नई दिल्ली (ईएमएस)। कोरोना वायरस के कारण भारत में अभी तक 2,328 लोग संक्रमित हैं और 56 लोगों की मौत हो चुकी है। बंगलूरू की एक कंपनी ने भारत का पहला कोविड-19 होम टेस्ट किट पेश किया है जिसकी मदद से आप घर पर ही कोरोना वायरस का टेस्ट क सकते हैं।

इस कंपनी का नाम बायोन है जिसने रैपिड कोविड-19 एट-होम स्क्रीनिंग टेस्ट किट लॉन्च की है। इस उपलब्धि को हासिल करने वाली यह भारत की पहली हेल्थकेयर कंपनी बन गई है। इस किट के जरिए मिनटों में कोरोना वायरस संक्रमण का रिजल्ट मिलेगा। बायोन के इस किट को चिकित्सा नियामक से मंजूरी भी मिल गई है। कोविड-19 एट-होम स्क्रीनिंग किट bione.in से खरीदा जा सकता है।

कंपनी का दावा है कि ऑर्डर करने के बाद 2-3 दिनों में टेस्ट किट की डिलिवरी हो जाएगी। कंपनी फिलहाल एक सप्ताह में 20,000 किट सप्लाई कर रही है। कोविड-19 स्क्रीनिंग टेस्ट किट 1 आईजीजी एंड आईजीएम बेस्ड टूल है, जिसके नतीजे 5-10 मिनट में मिल जाते हैं। किट प्राप्त करने के बाद यूजर को अल्कोहल स्वैब से अपनी उंगली साफ करनी होती है और प्रदान की गई लैंसेट को उंगली पर चुभाना होता है। इसके बाद कार्ट्रेज खून के नमूने से 5-10 मिनट में कोरोनावायरस होने या न होने का नतीजा बता देता है। यह टेस्ट ठीक शुगर के टेस्ट की तरह ही है।

बायोन के सीईओ डॉ. सुरेन्द्र चिकारा का कहना है कि हम लंबे समय से कोरोनावायरस का अध्ययन कर रहे हैं। हमने सभी संसाधनों का इस्तेमाल करते हुए इस पर फोकस किया है ताकि प्रकोप पर अंकुश लगाने के लिए प्रभावी साधन विकसित किया जा सके। ऐसे अभूतपूर्व समय में कोविड-19 होम स्क्रीनिंग टेस्ट किट एक सफल प्रोडक्ट के तौर पर प्रस्तुत किया है। हम टेस्ट के नतीजों का वेटिंग टाइम कम कर इसे भारत की कोविड-19 से लड़ाई में प्रभावी मदद करना चाहते हैं। हमारा यकीन है कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई का नेतृत्व करने में सरकार का समर्थन अहम है।

]]>
https://www.loktej.com/business/indias-corona-virus-home-test-kit-launched-you-test-at-home-66244/feed 0
चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत ने कहा, तैयार रहो या अंजाम भुगतो https://www.loktej.com/india/chief-of-defense-staff-bipin-rawat-said-be-ready-or-suffer-the-consequences-66242 https://www.loktej.com/india/chief-of-defense-staff-bipin-rawat-said-be-ready-or-suffer-the-consequences-66242#respond Sat, 04 Apr 2020 11:31:36 +0000 https://www.loktej.com/?p=66242 नई दिल्ली (ईएमएस)। भारत के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत का मानना है कि भारत 14 अप्रैल तक कोविड-19 की चेन को लॉकडाउन और सामाजिक दूरी के जरिए तोड़ देगा। जनरल रावत ने कहा कि या तो हम सभी को तैयार होना होगा वरना हमें इस महामारी के लंबे समय तक परिणाम...]]>

नई दिल्ली (ईएमएस)। भारत के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत का मानना है कि भारत 14 अप्रैल तक कोविड-19 की चेन को लॉकडाउन और सामाजिक दूरी के जरिए तोड़ देगा। जनरल रावत ने कहा कि या तो हम सभी को तैयार होना होगा वरना हमें इस महामारी के लंबे समय तक परिणाम झेलने होंगे। उन्होंने कहा कि ‘एक सैन्य कहावत है, ‘तैयार रहो या मर जाओ’ लेकिन कोरोना वायरस के समय में हमने इसे ‘तैयार रहो या भुगतो’ में बदल दिया है। हम 14 अप्रैल तक वायरस के प्रसार को 100 प्रतिशत लॉकडाउन और सामाजिक दूरी के जरिए रोक सकते हैं। चूंकि कटाई का मौसम आसपास है, ऐसे में भारत संक्रमितों की बढ़ती संख्या को बर्दाश्त नहीं कर सकता है। सरकार और लोगों द्वारा की गई मांगों को पूरा करने के लिए सेना पूरी तरह से तैयार है। उन्होंने कहा कि सेना, नौसेना और वायुसेना संक्रमितों की देखभाल के लिए 17-18 अस्पतालों को समर्पित करने के काम में जुट गई है और सशस्त्र बलों की कुल बेड क्षमता को 15,000 तक बढ़ा दिया है।

जनरल रावत ने कहा, ‘हमारे पास नगालैंड में दीमापुर और जखामा जैसी दूर-दूर जगहों पर भी अस्पताल तैयार हैं, भले ही यह वायरस उत्तर-पूर्व भारत में नहीं फैला है। अब हमारे पास संक्रमण के उपचार, प्रबंधन और नियंत्रण के लिए प्रत्येक क्षेत्र में दो से तीन अस्पताल तैयार हैं।

सीडीएस रावत ने कहा कि सेना और उसके डॉक्टर लगातार केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संपर्क में हैं और वह सैन्य मामलों के सचिव के रूप में, प्रधानमंत्री के मुख्य सचिव पीके मिश्रा और कैबिनेट सचिव राजीव गौबा के साथ बैठकों में भाग ले रहे हैं। जनरल रावत ने कहा कि हर अस्पताल में एक वार्ड, जिसमें दिल्ली जैसे स्थान भी शामिल हैं जहां बेस अस्पताल में आमतौर पर भीड़ होती है, वह कोविड-19 रोगियों के लिए समर्पित होगा। उन्होंने कहा कि हमने जैसलमेर, जोधपुर और झांसी में आइसोलेशन और एकांतवास सुविधाओं का निर्माण किया है ताकि उपचार के लिए 500 रोगियों को वहां रखा जा सके, जैसा कि मानेसर में है।’ सरकार के सैन्य सलाहकार ने कहा कि चूंकि सेना, नौसेना और वायुसेना के स्कूल लॉकडाउन के कारण बंद हैं इसलिए परिसर को क्वारंटाइन (एकांतवास) केंद्रों के रूप में तैयार किया जा सकता है।

]]>
https://www.loktej.com/india/chief-of-defense-staff-bipin-rawat-said-be-ready-or-suffer-the-consequences-66242/feed 0
लॉकडाउन में सोशल मीडिया पर बढ़ी सक्रियता, शिखर धवन बने जितेंद्र, पत्नी के साथ किया डांस https://www.loktej.com/sports/cricket/increased-activism-on-social-media-in-lockdown-shikhar-dhawan-became-jitendra-dance-with-wife-66239 https://www.loktej.com/sports/cricket/increased-activism-on-social-media-in-lockdown-shikhar-dhawan-became-jitendra-dance-with-wife-66239#respond Sat, 04 Apr 2020 11:00:05 +0000 https://www.loktej.com/?p=66239 नई दिल्ली (ईएमएस)। शिखर धवन सोशल मीडिया पर बहुत एक्टिव रहते हैं। वह अपने प्रशंसकों के साथ अकसर अपने विडियो और तस्वीरें शेयर करते रहते हैं। धवन अब अपनी पत्नी आयशा के साथ बॉलिवुड के एक गीत पर एक्ट करते नजर आ रहे हैं। साथी खिलाड़ियों के बीच गब्बर नाम से जाने जाने वाले शिखर...]]>

नई दिल्ली (ईएमएस)। शिखर धवन सोशल मीडिया पर बहुत एक्टिव रहते हैं। वह अपने प्रशंसकों के साथ अकसर अपने विडियो और तस्वीरें शेयर करते रहते हैं। धवन अब अपनी पत्नी आयशा के साथ बॉलिवुड के एक गीत पर एक्ट करते नजर आ रहे हैं। साथी खिलाड़ियों के बीच गब्बर नाम से जाने जाने वाले शिखर धवन, मैदान के बाहर भी फैंस को इंटरटेन करते रहते हैं।

कोविड-19 के चलते लगभग सारी दुनिया में खेल गतिविधियों पर ब्रेक लगा हुआ है। क्रिकेटर्स भी घर पर ही हैं। धवन भी परिवार के साथ समय बिता रहे हैं। हाल ही में उनका एक विडियो वायरल हुआ था, जिसमें वह घर के कपड़े धो रहे थे और बैकग्राउंड में फिल्मी गीत- ‘जब से हुई है शादी, आंसू बहा रहा हूं…’ बज रहा था।

ताजा विडियो में वह जितेंद्र बने नजर आ रहे हैं। अपनी पत्नी आयशा के साथ वह ‘ढल गया दिन, हो गई शाम’ पर डांस करते हुए नजर आ रहे हैं। धवन के कपड़ों का स्टाइल भी जितेंद्र की तरह ही क्लासिक वाइट है। वहीं आयशा लीना चंद्रावरकर को एक्ट करते समय काला सूट पहना है। फिल्म हमजोली के इस गीत में अदाकार बैडमिंटन खेलते दिखाई दिए थे लेकिन धवन और आयशा टेबल टेनिस पर एक्ट कर रहे हैं। इसमें भी उन्होंने लय बहुत अच्छी मिलाई है।

]]>
https://www.loktej.com/sports/cricket/increased-activism-on-social-media-in-lockdown-shikhar-dhawan-became-jitendra-dance-with-wife-66239/feed 0
क्या जोफ्रा आर्चर को पता था कि पीएम मोदी ‘दीया जलाने’ को कहेंगे!? https://www.loktej.com/sports/cricket/did-jofra-archer-know-that-pm-modi-would-say-diya-jalane-66234 https://www.loktej.com/sports/cricket/did-jofra-archer-know-that-pm-modi-would-say-diya-jalane-66234#respond Sat, 04 Apr 2020 05:36:18 +0000 https://www.loktej.com/?p=66234 पीएम नरेंद्र मोदी की दीप जलाने की अपील, वायरल हुआ जोफ्रा आर्चर का पुराना ट्वीट नई दिल्ली (ईएमएस)। इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं और उनके ट्वीट अकसर वायरल होते हैं। ऐसा ही उनका एक पुराना ट्वीट सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। इसका कारण प्रधानमंत्री...]]>

पीएम नरेंद्र मोदी की दीप जलाने की अपील, वायरल हुआ जोफ्रा आर्चर का पुराना ट्वीट

नई दिल्ली (ईएमएस)। इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं और उनके ट्वीट अकसर वायरल होते हैं। ऐसा ही उनका एक पुराना ट्वीट सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। इसका कारण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की शुक्रवार को देशवासियों से की गई अपील है। जिसमें उन्होंने देशवासियों से पांच अप्रैल को रात नौ बजे अपने घरों की सारी बत्तियां बुझा कर 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दिया, टार्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाने का आग्रह किया है।

(PC : crictracker.com)

24 वर्षीय आर्चर ने साल 2014 में 12 मार्च को ट्वीट किया था, ‘जलाएं’ । उनके इस ट्वीट को पीएम मोदी की अपील से जोड़कर देखा जा रहा है। एक यूजर ने लिखा आप भविष्यज्ञाता हो, प्लीज बताएं कि मैं करोड़पति कब बनूंगा। आर्चर के एक और ट्वीट को इससे जोड़कर देखा जा रहा है। इससे पहले भी उनका एक ट्वीट खूब वायरल हुआ था जिसमें उन्होंने लिखा था कि घर पर 3 सप्ताह पर्याप्त नहीं होंगे। उनके उस ट्वीट को भारत में घोषित लॉकडाउन से जोड़कर देखा गया। वहीं, एक और ट्वीट, एक दिन आएगा जब भागने को कोई जगह नहीं बचेगी’ भी आर्चर का ट्वीट काफी वायरल हुआ था। आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के दौरान भी आर्चर के पुराने ट्वीट सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुए थे। आर्चर ने बारिश और सुपर ओवर को लेकर 2014 में ही कुछ ट्वीट किए थे।

]]>
https://www.loktej.com/sports/cricket/did-jofra-archer-know-that-pm-modi-would-say-diya-jalane-66234/feed 0