लोकतेज https://www.loktej.com Latest Hindi News Wed, 03 Jun 2020 17:41:50 +0000 en-US hourly 1 https://wordpress.org/?v=5.4.1 https://www.loktej.com/wp-content/uploads/2018/09/loktej-150x150.png लोकतेज https://www.loktej.com 32 32 लॉकडाउन : दिव्यांग पति को पीठ पर लादकर कानपुर से महाराष्ट्र ले गई पत्नी https://www.loktej.com/regional/lockdown-wife-taken-from-kanpur-to-maharashtra-with-handicapped-husband-on-her-back-73529 https://www.loktej.com/regional/lockdown-wife-taken-from-kanpur-to-maharashtra-with-handicapped-husband-on-her-back-73529#respond Wed, 03 Jun 2020 17:48:31 +0000 https://www.loktej.com/?p=73529 उसकी पत्नी उसे नया जीवन दे रही है]]>

कोरोना जैसी महासंकट आखिर आई कैसे क्या किसी ने इस बारे में सोचा? देश में करुणा का भाव खत्म हो गया था तो कोरोना ने दस्तक दी। अब जरुरत है कि हम अपने में करुणा का भाव लाएं। चलिए आप इस कहानी पर गौर फरमाइए जहां आप करुणा का अंश जरुर पाएंगे।

उत्तर प्रदेश में कानपुर सेन्ट्रल स्टेशन पर मंगलवार को पति-पत्नी के बीच का अटूट प्रेम और श्रद्घा का दृश्य देखने को मिला। भीषण गर्मी में सिर से टपकता पसीना और पीठ पर अपने पति को लादकर महिला जब कानपुर सेन्ट्रल पहुंची तो सभी उसे देखते रह गए। स्टेशन पर इंतजार करने के बाद भी पति को ले जाने के लिए आसपास कोई साधन नहीं दिखा तो महिला ने अपना पत्नी धर्म निभाया। पति चलने में असमर्थ था तो पत्नी उसका सहारा बनी और उसे अपने पीठ पर लादकर प्लेटफॉर्म तक ले गई।

श्रमिक दीपक केस्को में बिजली ठेकेदार के अंतर्गत काम करता है। उसकी पत्नी उसे नया जीवन दे रही है। डेढ़ महीने पहले फजलगंज में केस्को में काम करते समय एक दुर्घटना में दीपक के दोनों पैर टूट गए थे। अभी थोड़े दिन पहले ही प्लास्टर खुला है तो पता चला कि वह अभी चलने में सक्षम नहीं है। ऐसे में उसकी पत्नी ज्योति उसका सहारा बनी है। दम्पति महाराष्ट्र के जलगांव के निवासी हैं, जो यहां कानपुर में काम करने के लिए आए थे। लॉकडाउन के बाद वे अपने घर जाना चाहते हैं।

amarujala.com

ज्योति सोमवार से अपने पति के साथ ट्रेन से जाने के लिए स्टेशन पर ही रुकी थी। ज्योति अपने पति को हर प्रकार से सहयोग दे रही है। ज्योति दीपक को कंधे पर लादकर ले जाती है। वह मंगलवार को पुष्पक एक्सप्रेस से अपने पति को लेकर मुंबई के लिए रवाना हुई।

बता दें कि कोरोना वायरस के कारण लागु लॉकडाउन से श्रमिक वर्ग बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। आजीविका पर असर पहुंचने से उनकी जीवनशैली प्रभावित हुई है। अब अनलॉक 1 चरण का प्रारंभ हो चुका है। जिसमें सरकार कई तरह की राहत दे रही है। इसके बावजूद आर्थिक संकट के कारण कई कारखाने और उद्योग अपने आधे कर्मचारियों को निकाल रहे हैं। ऐसे में उनके लिए जीना और दुभर हो रहा है।
000

]]>
https://www.loktej.com/regional/lockdown-wife-taken-from-kanpur-to-maharashtra-with-handicapped-husband-on-her-back-73529/feed 0
सूरती बने लापरवाह, कोरोना भी हुआ अनलॉक https://www.loktej.com/surat-news/surti-became-careless-corona-also-unlocked-73528 https://www.loktej.com/surat-news/surti-became-careless-corona-also-unlocked-73528#respond Wed, 03 Jun 2020 17:50:09 +0000 https://www.loktej.com/?p=73528 लोग छुटछाट कि गाईडलाईन का पालन किए बिना घूम रहे है ]]>

शहर में लॉकडाउन-4 के समय लगातार बढ़ रहे कोरोना के संक्रमण के बाद अब अनलॉक-1 में तो लोग मानो कोरोना चला गया हो इस तरह लापरवाह होकर बाहर घूम रहे हैं।

बिनजरुरी कार्य से और किसी भी प्रकार की गाइडलाइन का पालन किए बिना घूम रहे हैं। जिससे कोरोना पॉजिटीव के आंकड़ों में भी उछाल देखा जा रहा है। अब तो ऐसा लगने लगा है कि 50 से अधिक केस मानो सामान्य बात है। ऐसे में बुधवार को और 96 केस दर्ज होने से शहर में कोरोना के संक्रमितों का कुल आंकड़ा 1900 पर पहुंच गया है।

कोरोना की चपेट में आ रहे लोगों में इससे पहले लॉकडाउन के समय जरुरी सेवा के साथ जुड़े जिस तरह से सब्जी विक्रेता, दूध की डेरीवाले, किराणावाले वगैह सुपर स्प्रेडर की भूमिका में थे। जिससे उनमें संक्रमण भी अधिक दिख रहा था। जो अभी भी उसी गति में आगे बढ़ रहा है। तो अब राहत के बाद जो नए व्यवसाय शुरु हुए हैं उसमें सैलून, गल्लेवाले के अलावा कुरियर सर्विस, वॉचमैन, चिकित्सकों में बढ़ रहा संक्रमण बड़ी चिंता का कारण है।

क्योंकि ये सभी व्यवसाय वाले ऐसे हैं कि रोज-रोज अनेक लोगों के संपर्क में आ रहे हैं। इसके अलावा एक देशी शराब का व्यवसाय करनेवाली महिला बुटलेगर और एक सफाई कामगार की माता भी कोरोना की चपेट में आई है। इसके साथ शहर में अन्य 48 कोरोना पॉजिटीव रोगियों के अच्छे हो जाने से छुट्टी दे दी गई थी। बुधवार को अन्य 2 की मौत दर्ज होने पर मौत का आंक ड़ा 96 पर पहुंचा है।

]]>
https://www.loktej.com/surat-news/surti-became-careless-corona-also-unlocked-73528/feed 0
सूरत: लिंबायत जोन की 13 टेक्षटाईल मार्केट भी आज से खुलेगी https://www.loktej.com/surat-news/surat-13-markets-of-limbayat-zone-will-also-open-from-today-73525 https://www.loktej.com/surat-news/surat-13-markets-of-limbayat-zone-will-also-open-from-today-73525#respond Wed, 03 Jun 2020 17:40:12 +0000 https://www.loktej.com/?p=73525 कपड़ा व्यापारी और राजकीय अग्रणियों की मध्यस्थता काम आयी]]>

पालिका आयुक्त ने लिंबायत जोन में आनेवाली 13 मार्केटों में भी जरूरी निति नियमों का पालन तथा गाईडलाईन क अनुसार व्यापार करने की अनुमति दी है। व्यापारी प्रतिनिधि मंडल, सांसद सी.आर.पाटिल, विधायक संगीता पाटिल तथा व्यापारी अग्रणियों के सफल प्रयास से अब रिंगरोड की सभी मार्केट खुलेगी।

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए पालिका आयुक्त ने व्यापारी अग्रणियों के साथ रिंगरोड की मार्केटों का निरीक्षण करन के बाद 1 जुन से सेन्ट्रल जोन की मार्केटों को निति नियमों के पालन के साथ शुरू करने का आदेश दिया था। लिंबायत जोन विस्तार में आनेवाली 13 मार्केट कन्टेनमेन्ट जोन में होने से उन्हे खोलने के बारे में कोई निर्णय नही लिया था।

कपड़ा व्यापारियों ने पालिका आयुक्त, सांसद तथा विधायक से मिलकर लिंबायत जोन में आनेवाली मार्केटों को भी अन्य मार्केटों की तरह खोलने की परमिशन मांगी थी।

फोस्टा अध्यक्ष मनोज अग्रवाल और महामंत्री चंपालाल बोधरा ने सोशल मीडिया के माध्यम से जानकारी देते हुए कहा कि सूरत कपडा बाजार के 13 मार्केट जो लिंबायत जोन में थे उन्हे भी पालिका आयुक्त ने खोलने का परमिशन दिया है।

व्यापारी अग्रणी पारस जैन (रोजी हाऊस), भरत जैन, दिनेश राजपुरोहित, कैलासजी (हिमानी साडी), राकेशभाई (रुपम साडी) ने भी इस प्रयास में महेनत की होने की जानकारी मार्केट के सूत्रों से मिली है।

]]>
https://www.loktej.com/surat-news/surat-13-markets-of-limbayat-zone-will-also-open-from-today-73525/feed 0
मजबूरी क्या होती है.. कोई इस दम्पति को पूछे, घर पहुंचने के लिए बेच दिया मंगलसूत्र https://www.loktej.com/regional/what-is-helplessness-somebody-ask-this-couple-sold-mangalsutra-to-reach-home-73513 https://www.loktej.com/regional/what-is-helplessness-somebody-ask-this-couple-sold-mangalsutra-to-reach-home-73513#respond Wed, 03 Jun 2020 17:08:43 +0000 https://www.loktej.com/?p=73513 5-5 हजार रुपए की दो सायकल खरीदा]]>

कोरोना के कारण कई लोग अपने गांव पैदल ही निकल जाते हैं। इस बीच एक और वाकया सामने आया है। एक श्रमिक परिवार अपने गांव उड़ीसा जाने के लिए सायकल की खरीदी कर रवाना हुआ। श्रमिक परिवार ने 5-5 हजार रुपए की दो सायकल की खरीदी की थी। इस बात की जानकारी जब सेवाभावी संस्थाओं को हुई तो उन्होंने श्रमिक परिवार को उनके घर पहुंचाने तक की पूरी व्यवस्था करके दी। सायकल की खरीदी के लिए श्रमिक परिवार को मंगलसूत्र बेचना पड़ गया।

रिपोर्ट के अनुसार 3 प्रवासी श्रमिकों को बैंग्लोर से कटक अपने घर पहुंचना था। जिसमें से एक विवाहित जोड़ा भी था। पैसे की कमी के कारण महिला ने अपना 15 हजार रुपए का मंगलसूत्र भी बेच दिया।

twimg.com

महिला के पति चंदन ने बताया कि पिछले दो महीने से कुछ भी कमाई नहीं हुई। अंतिम उपाय के रुप में अपनी पत्नी का 15000 रुपए में मंगलसूत्र बेचना पड़ा। उसके बाद अपने दोस्त के साथ मिलकर 5-5 हजार रुपए की दो सायकल खरीदा और कर्णाटक से अपने गृह राज्य उड़ीसा जाने के लिए पत्नी के साथ निकल पड़ा।

चंदन ने कहा कि कटक से कुछ सामाजिक कार्यकर्ता उनकी मदद के लिए आए आएं। उन्होंने उनके लिए न सिर्फ भोजन-पानी की व्यवस्था की बल्कि उड़ीसा के बासुदेवपुर के भद्रक तक भी पहुंचाया।

]]>
https://www.loktej.com/regional/what-is-helplessness-somebody-ask-this-couple-sold-mangalsutra-to-reach-home-73513/feed 0
सूरतः पानी के पाईप में बैठा था अजगर, मचा हड़कम्प https://www.loktej.com/surat-news/surat-python-was-sitting-in-a-water-pipe-stirred-up-73499 https://www.loktej.com/surat-news/surat-python-was-sitting-in-a-water-pipe-stirred-up-73499#respond Wed, 03 Jun 2020 16:44:03 +0000 https://www.loktej.com/?p=73499 भारी मशक्कत के बाद मादा अजगर को किया गया काबू , 16 अंडे भी बरामद]]>

कीम(सूरत)। सूरत जिले के कामरेज समीप शामपुरा गांव में जीतूभाई कांतिभाई पटेल के खेत में पानी के पाईप लाईन में अजगर बैठे होने की सूचना मिलने से नागरिकों में हड़कंप मच गया। अजगर को देखने के लिए नागरिकों की भीड़ उस वक्त जमा हो गयी जब वनविभाग और फ्रेंड्स आफ एनिमल की टीम मौके पर पहुंची। अजगर की सूचना वनविभाग को मिलने पर आरएफओ. आशाबेन चौधरी मौके पर पहुंचकर अजगर को पकड़ने  के लिए फ्रेंड्स आफ एनिमल टीम बारडोली से सलाह मशविरा के बाद पकड़ने की कार्यवाही शुरू की गयी और काफी मशक्कत के बाद अजगर को पकड़ लिया गया। जांच में  अजगर के मादा प्रजाति के होने की पुष्टि हुयी जो पाईपलाईन में अंडे देकर सेव रही थी। अजगर के साथ 16 जितने अंडो को भी वनविभाग ने कब्जे में ले लिया।
वनविभाग से परमिशन लेने के बाद फ्रेंड्स आफ एनिमल वेल्फेर ट्रष्ट बारडोली में अंडे और अजगर को रखा गया है। कामरेज समीप शामपुरा व आसपास के गांवो के लोग अजगर की सूचना पाकर स्थल परजिमा हो गए थे। फ्रेंड्स आफ एनिमल वेल्फेर ट्रष्ट अध्यक्ष जतीन राठौड़ से मिली जानकारी के अनुसार मादा अजगर और मादा किंग कोब्रा सुरक्षित स्थान बनाकर अंडो को सेते हैं तत्पश्चात 90 से 120 दिन के अंतराल बच्चे अंडे से बाहर आते हैं जिनकी लंबाई दो से अढ़ाई फुट की होती है। आज जिस अजगर को पकड़ा गया है उसकी जांच के बाद जंगल में छोड़ दिया जाएगा और अंडो को कृत्रिम तरीके से संभाल किया जाएगा। अजगर कितने दिनों से यहां रैनबसेरा बना रखा था, इलाके में नर अजगर भी होने की चर्चाएं नागरिकों में चर्चित हैं।

]]>
https://www.loktej.com/surat-news/surat-python-was-sitting-in-a-water-pipe-stirred-up-73499/feed 0
सूरतः जिले में बुधवार को 11 लोग पाए गए कोरोना संक्रमित https://www.loktej.com/surat-news/surat-11-people-found-corona-infected-on-wednesday-in-the-district-73497 https://www.loktej.com/surat-news/surat-11-people-found-corona-infected-on-wednesday-in-the-district-73497#respond Wed, 03 Jun 2020 16:27:02 +0000 https://www.loktej.com/?p=73497 वैष्णोदेवी हाईट्स भेसाण में 30 वर्षीय महिला के कोरोना पोजीटीव होने की सूचना से मचा हड़कम्प]]>

सूरत। अनलाक 1.0 जारी होते ही जनपद में कोरोना संक्रमण के मामलो में तीव्रता से उछाल आ रहा है। जिले में बुधवार को 11 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए इसके साथ ही जनपद में कुल संख्या 136 पर पहुंच गयी है। मंगलवार को 6 मामले कोरोना पोजीटीव के सामने आए थे। चौर्यासी तहसील में लाजपोर जेल में बंद चेतन सुखलाल खलासी(47)वर्ष की रिपोर्ट पोजीटीव आने से विभाग में हड़कंप मच गया है। इच्छापुर में चिराग भरत पटेल (34) वर्ष, देलाड़वा में सुशील लाला (40) वर्ष, वैष्णोदेवी हाईट्स वणकला भेसाण कैनाल रोड निवासी मोहिनी प्रतीक शिरके फ्लैट नंबर एफ. 504 (30) वर्ष, उमरपाड़ा तहसील में वड़पाड़ा गांव में रमेश रायसिंग वसावा (40) वर्ष, विजय रूपजी वसावा (45) वर्ष, मौलीपाड़ा निवासी मानसिंग मनजी वसावा (24)वर्ष कामरेज तहसील में विपुल मनजी धेवाड़िया (32) वर्ष निवासी वेलंजा, कामरेज निवासी विलासबेन भरतभाई रादड़िया (48) वर्ष, शिल्पाबेन रूपेश भंड़ारी निवासी पासोदरा की रिपोर्ट पोजीटीव आयी है। सभी को कोविड 19 अस्पताल में इलाज के लिए भेजा गया है।

बुधवार को तीन कोरोना पोजीटीव स्वस्थ होकर घर लौटे जिसमें बबली गामित उमरपाड़ा, हेतल कमलेश पटेल निवासी लिंडीयात मांगरोल तहसील, खालप धनजी राठोड निवासी तराज तहसील पलसाना को अस्पताल से छुट्टी दिए जाने की जानकारी प्राप्त हुयी है। विभागीय जानकारी के अनुसार सूरत जिले में कुल 136 पोजीटीव लोगो मे 91 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं, 43 उपचाराधीन हैं और दो लोगो की मौत हो चुकी है।

]]>
https://www.loktej.com/surat-news/surat-11-people-found-corona-infected-on-wednesday-in-the-district-73497/feed 0
सूरतः मशाले की आड़ में गोवा से लायी गयी लाखों की मदिरा बरामद https://www.loktej.com/surat-news/surat-liquor-recovered-from-goa-brought-under-the-garb-of-mashale-73491 https://www.loktej.com/surat-news/surat-liquor-recovered-from-goa-brought-under-the-garb-of-mashale-73491#respond Wed, 03 Jun 2020 16:15:39 +0000 https://www.loktej.com/?p=73491 अनलाक 1.0 में, पुराने ढर्रे पर तेजी से सक्रिय होते दिख रहे अपराधी]]>

कीम (सूरत)। गांधीनगर स्टेट मानिटरिंग सेल की टीम सूरत जिले में गश्त पर थी, तभी मुखबीरों ने सूचना दी कि, नवसारी की ओर से एक ट्रक कामरेज की ओर जा रहा है जिसमें भारी मात्रा में विदेशी मदिरा भरी हुयी है। ट्रक कामरेज से सटे बौधान गांव के रास्ते से होकर गुजरने वाला है। सूचना पाते ही पुलिस निशान देही पर ट्रक संख्या उ.प्र.63 के. 9759 की निगरानी मे थे। घला गांव के रास्ते बौधान जाने सड़क पर जैसे ही ट्रक मुड़ा पुलिस पीछा करते हुए ट्रक रोकने में सफल हो गयी।
ट्रक चालक से पूछताछ करने पर उसने अपना नाम हवलदार पुत्र रामउग्रह यादव निवासी फरीदपुर जनपद गाजीपुर(उ.प्र.) बताया। ट्रक की तलासी लेने पर ट्रक में मशाले के बाक्सों के बीच कुल 6480 नंग मदिरा की बोतलें पायी गयी। ट्रक चालक बताया कि विदेशी मदिरा की खेप गोवा के कलगुड निवासी संदीप नामक शख्स ने भेजा है, जिसे सूरत के नवीन को देना था। गोवा के संदीप ने चालक से यह कहा था कि सूरत के कामरेज में पथकर पर पहुंचने के बाद फोन करना, ट्रक आगे कहां ले जाना होगा हमारा आदमी संपर्क कर लेगा। कामरेज पथकर पर पहुंचने के बाद जब संदीप को चालक हवलदार ने फोन किया तो उसने सुनील नामक शख्स को भेजा। सुनील मोटरसाइकल लेकर आया और आगे रास्ता दिखाते जा रहा था, सुनील ने देखा कि पुलिस ट्रक रोक ली है वह भाग निकला।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मशाला,चटनी और टमाटरपूड़ी के कुल बाक्स 533 बाक्स ट्रक में भरे हैं जिसकी कीमत 25.83 लाख, मदिरा के 6480 बोतलों की कीमत 6 लाख व ट्रक की कीमत समेत कुल 41.89 लाख रूपए का माल-सामान बरामद हुआ है। ट्रक चालक से विस्तृत पूछताछ जारी है। इस अपराध में नवीन,संदीप तथा सुनील वांछित घोषित किए गए हैं।
फोटो-

]]>
https://www.loktej.com/surat-news/surat-liquor-recovered-from-goa-brought-under-the-garb-of-mashale-73491/feed 0
लॉकडाउन में सुरंग बनाकर शराब की दुकान में घुसे चोर, 13 लाख के शराब की चोरी https://www.loktej.com/world/thieves-broke-into-liquor-store-by-making-tunnel-in-lockdown-theft-of-13-lakh-liquor-73488 https://www.loktej.com/world/thieves-broke-into-liquor-store-by-making-tunnel-in-lockdown-theft-of-13-lakh-liquor-73488#respond Wed, 03 Jun 2020 16:08:28 +0000 https://www.loktej.com/?p=73488 लॉकडाउन प्रतिबंधों के कारण लोगों को शराब नहीं मिल रही]]>

वर्तमान में विश्व के अधिकतर देशों में कोरोना वायरस को लेकर लॉकडाउन चल रहा है। इस दौरान साउथ आफ्रिका के जोहानिसबर्ग में कुछ ऐसा हुआ जिसे पढ़कर आप भी चौंक जाएंगे।

कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई के लिए लागु 66 दिन का लॉकडाउन पूर्ण होने के ठीक एक दिन पहले शहर में कुछ चोर सुरंग बनाकर एक शराब की दुकान में घुस गए और वहां से शराब की चोरी कर ली। चोर वहां से 300000 रैंड (लगभग 18000 अमेरिकी डॉलर) का शराब लेकर फरार हो गए। इस संबंध में दुकान के मालिक को सोमवार सुबह दुकान खोलने के बाद पता चला।

देश में मार्च से लागु लॉकडाउन के कारण शराब के विक्रय पर प्रतिबंध है। दुकान के मालिक ने कहा कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर चोरों की पहचान की गई है। वे 10 दिन पहले भी दुकान पर आए थे। उन तक पहुंचने के संबंध में किसी भी तरह की जानकारी देने के लिए 50000 रैंड का इनाम रखा गया है। देश में शराब की दुकान पर बढ़ रही चोरी की घटनाओं के कारण दुकान मालिकों ने सुरक्षा गार्ड तैनात किया है।

wp.com

उल्लेखनीय है कि लॉकडाउन प्रतिबंधों के कारण लोगों को शराब नहीं मिल रही। जिससे उसकी चोरी करके ब्लैक मार्केट में 10 गुणा भाव पर बेचा जा रहा है।

भारत में भी ऐसी ही परिस्थिति है। लॉकडाउन 4.0 में शराब की दुकानें खोलने की स्वीकृति मिलते ही दिल्ली समेत बड़े शहरों में सुबह से ही शराब की दुकानों पर लंबी लाइनें लग गई थी और लोग सोशल डिस्टेंसिंग भूलकर एक दूसरे से चिपककर खड़े थे। कुछ जगहों पर तो इतनी भीड़ हुई कि पुलिस को बुलाना पड़ गया।

दिल्ली में सरकार ने शराब पर 70 प्रतिशत सेस लगा दिया तो भी शराब लेने के लिए लोगों की लंबी लाइनें लगी थी। गुजरात में 1 जून से परमिट का शराब मिलना शुरु हो गया। जिससे सुबह से लोगों की लाइनें लग गई थी। इस तरह देश हो या विदेश सभी जगह ऐसी ही परिस्थिति है।

]]>
https://www.loktej.com/world/thieves-broke-into-liquor-store-by-making-tunnel-in-lockdown-theft-of-13-lakh-liquor-73488/feed 0
लुटेरी दुल्हन : शादी के नाम पर 1 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी https://www.loktej.com/regional/fraudulent-bride-1-crore-rupees-in-the-name-of-marriage-73479 https://www.loktej.com/regional/fraudulent-bride-1-crore-rupees-in-the-name-of-marriage-73479#respond Wed, 03 Jun 2020 15:48:07 +0000 https://www.loktej.com/?p=73479 44 वर्ष की महिला मालविका की गिरफ्तारी]]>

हैदराबाद में पुलिस ने शादी के नाम पर अमेरिका के एनआरआई के पास से 65 लाख रुपए ठगनेवाली एक महिला की गिरफ्तारी की। पुलिस को हैरानी तब हुई जब महिला की गिरफ्तारी के संंबंध में जानकारी होने पर अन्य एक युवक भी पुलिस थाने पहुंच गया। युवक ने कहा कि उसके साथ भी महिला ने शादी के नाम पर 1 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी की है।

पुलिस ने मैट्रिमनी फ्रॉड में एक 44 वर्ष की महिला मालविका की गिरफ्तारी की है। 33 वर्षीय युवक ने पुलिस को महिला के साथ वॉट्सएप और टेलिग्राम पर हुई चैट भी दिखाई है। उसने कहा कि मालविका देवती ने उसे प्रेम जाल में फंसाकर उसकी मेहनत की आज तक की बचत की रकम वसूल ली।

महिला के बेटे पर भी आरोप

मालविका और उसका 22 वर्ष का बेटा प्रणव ललित गोपाल को जुबली हिल्स पुलिस ने 27 मई को गिरफ्तार किया था। दोनों पर अमेरिका के एनआरआई केे साथ शादी के नाम पर 65 लाख रुपए वसूलने का आरोप था। पुलिस ने कहा कि इसके पहले मालविका के खिलाफ नल्लाकुंता मारेडपल्ली और सीसीएस पुलिस थाने में भी केस दर्ज हुई है।

मैट्रिमनी साइट पर फेक प्रोफाइल बनाया

पुलिस ने जानकारी दी कि 33 वर्षीय पीडि़त ने पुलिस को कहा कि वर्ष 2018 में एक तेलुगु मैट्रिमनी साइट द्वारा वह मालविका के संपर्क में आया था। इस महिला ने साइट पर अनु पल्लवी मगंती नाम से फेक प्रोफाइल बनाई थी। उसने युवक को भारतीय मूल की डॉक्टर बताकर अमेरिका में काम क रने की जानकारी दी।

मजबूरी बताकर रुपए लिये

मालविका ने युवक को यह भी कहा कि वह एक राजनैतिक परिवार से है। फरवरी 2018 में उसने युवक को कहा कि उसका फोन हैक हो गया है और वह अपना अकाउण्ट ऑपरेट नहीं कर पा रही है। उसने मजबूरी बताकर युवक के पास से पैसे मांगे। युवक ने मालविका के आईडीबीआई बैंक के गचीवाउली शाखा और एसबीआई की शंकरपल्ली शाखा में 1.02 करोड़ रुपए ट्रान्सफर कर दिया।

आईटी प्रोफेशनल ने कहा कि उसका मासिक वेतन 80,000 रुपया है। उसने खर्चे बचाकर इतने रुपए की बचत की थी। मालविका ने इस रकम को झुठ बोलकर वसूल लिया है। पुलिस ने जानकारी दी है कि मालविका के खिलाफ आईपीसी की अलग-अलग धाराओं समेत आईटी एक्ट अंतर्गत केस दर्ज किया गया है।

]]>
https://www.loktej.com/regional/fraudulent-bride-1-crore-rupees-in-the-name-of-marriage-73479/feed 0
अमिताभ-जया के विवाह के पूरे हुए 47 साल, अभिषेक-श्वेता ने दी बधाई https://www.loktej.com/entertainment/abhishek-shweta-congratulated-47-years-of-amitabh-jayas-marriage-73476 https://www.loktej.com/entertainment/abhishek-shweta-congratulated-47-years-of-amitabh-jayas-marriage-73476#respond Wed, 03 Jun 2020 16:30:47 +0000 https://www.loktej.com/?p=73476 अभिषेक और श्वेता दोनों ने सोशल मीडिया पर शेयर की खूबसूरत तस्वीरें ]]>

मुंबई (ईएमएस)। वॉलीवुड शहंशाह अमिताभ बच्चन और जया बच्चन 3 जून को अपनी शादी की 47वीं सालगिरह मना रहे हैं। उनके बच्चों अभिषेक और श्वेता ने सोशल मीडिया पर उन्हें विश किया है। अभिषेक और श्वेता दोनों ने ही इंस्टाग्राम पर अमिताभ और जया की खूबसूरत तस्वीरें शेयर की हैं।

View this post on Instagram

Happy Anniversary Ma and Pa. Love you.

A post shared by Abhishek Bachchan (@bachchan) on

फोटो शेयर करते हुए अभिषेक ने लिखा- हैप्पी एनिवर्सरी मां एंड पापा। लव यू। वहीं श्वेता ने अमिताभ और श्वेता की अनसीन तस्वीर शेयर करते हुए लिखा- हैप्पी एनिवर्सरी।

View this post on Instagram

Happy Anniversary ♥

A post shared by S (@shwetabachchan) on

फोटोज में अमिताभ और जया की केमिस्ट्री देखते ही बनती है। अमिताभ और जया की तस्वीरों को काफी पसंद किया जा रहा है। बता दें कि अमिताभ बच्चन ने भी सोशल मीडिया पर अपनी शादी की तस्वीरें शेयर की हैं। उन्होंने पत्नी जया को वेडिंग एनिवर्सरी विश की है। तस्वीरों के साथ अमिताभ ने अपनी शादी को लेकर एक दिलचस्प वाकया भी शेयर किया है।

]]>
https://www.loktej.com/entertainment/abhishek-shweta-congratulated-47-years-of-amitabh-jayas-marriage-73476/feed 0
अगस्‍त-सितंबर के बीच प्रैक्टिस कराने मैदान में उतर सकती हैं विराट सेना https://www.loktej.com/sports/cricket/virat-sena-may-enter-the-field-of-practice-between-august-september-73464 https://www.loktej.com/sports/cricket/virat-sena-may-enter-the-field-of-practice-between-august-september-73464#respond Wed, 03 Jun 2020 19:30:53 +0000 https://www.loktej.com/?p=73464 लॉकडाउन की वजह से काफी समय से घर पर ही हैं क्रिकेटर]]>

नई दिल्‍ली (ईएमएस)। कोरोना के कारण लागू लॉकडाउन में मोदी सरकार अब धीरे-धीरे रियायत दे रही है, इसी के कारण देश में खेल के आयोजन की उम्‍मीद भी बनने लगी है।अब खबर आ रही है कि बीसीसीआई अपने खिलाडिय़ों के लिए अगस्‍त- सितंबर के बीच कैंप लगाने पर विचार कर रहा है। इससे बीसीसीआई ने साफ कर दिया है कि उनकी प्‍लानिग साथ में प्रैक्टिस कराने की है। बीसीसीआई के एक पदाधिकारी ने कहा कि बोर्ड मानसून के बाद खिलाडिय़ों को साथ लाने पर विचार कर रहा है, ताकि उन्‍हें ट्रेनिंग में लौटने में मदद मिल सके।

दरअसल लॉकडाउन की वजह से क्रिकेटर्स काफी समय से घर पर ही हैं। सूत्र के अनुसार मानूसन खत्‍म होने के बाद की तैयारी हो रही है, यह अगस्‍त-सितंबर के आसपास होना चाहिए। इस सवाल पर कि कैंप राष्‍ट्रीय क्रिकेट एकेडमी में लगेगा, इस पर सूत्र ने कहा कि यह कहना जल्‍दबाजी होगी। अभी देखना होगा कि एक महीने में चीजें कहां ठहरती हैं। इसके बाद कैंप के आयोजन स्‍थल पर फैसला लिया जा सकता है कि कैंप एनसीए में होगा या किसी और जगह।

भारत के फील्डिंग कोच आर श्रीधर का कहना है कि देश के बड़े क्रिकेटरों के लिए चार चरण का अभ्यास कार्यक्रम तैयार किया जा रहा है, जो शिविर शुरू होने के बाद चार से छह सप्ताह के अभ्यास में पूरी फिटनेस हासिल कर सकते हैं।

]]>
https://www.loktej.com/sports/cricket/virat-sena-may-enter-the-field-of-practice-between-august-september-73464/feed 0
वो घड़ी आ गई; माल्या आज आ सकता है भारत https://www.loktej.com/india/that-time-has-come-mallya-can-come-to-india-today-73459 https://www.loktej.com/india/that-time-has-come-mallya-can-come-to-india-today-73459#respond Wed, 03 Jun 2020 18:45:09 +0000 https://www.loktej.com/?p=73459 यूके की कोर्ट ने 14 मई को दिए थे प्रत्यर्पण के आदेश]]>

नई दिल्ली (ईएमएस)। भारतीय बैंकों का 9 हजार करोड़ रुपए लेकर भागे शराब कारोबारी विजय माल्या गुरुवार को भारत पहुंच सकता है। माल्या को भारत प्रत्यर्पित करने के लिए यूके की कोर्ट ने 14 मई को आदेश दिए थे, जिसके तहत 28 दिनों में उसका प्रत्यर्पण जरूरी है। प्रत्यर्पण की सारी कानूनी प्रक्रिया पहले ही पूरी हो चुकी है। सूत्रों ने उसके मुंबई पहुंचने की संकेत दिए है।

यूके कोर्ट ने 14 मई को माल्या के भारत प्रत्यर्पण पर आखिरी मुहर लगाई थी। नियम के अनुसार, भारत सरकार को माल्या को उस तारीख से 28 दिन के अंदर यूके से ले आना है। उसके पास सिर्फ एक सप्ताह का समय ही बाकी है। जानकारी के अनुसार, माल्या के खिलाफ मुंबई में मामला दर्ज है, इसलिए उसे वहीं लाया जाएगा। बता दें कि किंगफिशर एयरलाइंस के मालिक माल्या पर देश के 17 बैंकों का 9 हजार करोड़ रुपए बकाया है। वह 2 मार्च, 2016 को भारत छोड़कर ब्रिटेन भाग गया था।

मेडिकल जांच के बाद कोर्ट में किया जाएगा पेश

माल्या के साथ सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के कुछ अधिकारी विमान पर होंगे। रात में पहुंचने पर उसकी मेडिकल जांच होगी और उसके बाद उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा। यदि माल्या गुरुवार सुबह भारत पहुंचता है तो उसे सीधे कोर्ट में पेश किया जाएगा। कोर्ट में जांच एजेंसियां उसकी रिमांड की मांग करेंगी। पुलिस ने उसके आर्थर रोड जेल मेें रखने के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली है।

]]>
https://www.loktej.com/india/that-time-has-come-mallya-can-come-to-india-today-73459/feed 0
ऑनलाइन मिल रहा है मावा-मसाला, होम डिलीवरी के लिए कोई चार्ज नहीं https://www.loktej.com/gujarat-news/mawa-masala-is-available-online-no-charge-for-home-delivery-73447 https://www.loktej.com/gujarat-news/mawa-masala-is-available-online-no-charge-for-home-delivery-73447#respond Wed, 03 Jun 2020 15:25:46 +0000 https://www.loktej.com/?p=73447 लॉकडाउन के समय में लूट मचाई जा रही है]]>

समग्र राज्य में जीवन जरुरत की चीज-वस्तुओं के लिए प्रशासन और सरकार ने राहतें दी है। अब सूरत, राजकोट, जामनगर और जूनागढ़ जैसे शहर में इस राहत में पान, मसाला-मावा का ऑनलाइन ऑर्डर मिलने लगा है। इतना ही नहीं होम डिलीवरी के लिए भी कोई चार्ज नहीं ली जाती। राजकोट, जामनगर तथा सूरत जैसे शहर में कुछ पान के व्यापारी इस प्रकार फोन पर बात करके माल तैयार कर रहे हैं। इसके अलावा ग्राहकों को होम डिलीवरी सर्विस भी दे रहे हैं।

कुछ व्यसनी इसका उपयोग भी कर रहे हैं। फोन तथा मैसेज के माध्यम से उनका इस प्रकार का ऑर्डर मिल रहा है। राजकोट जैसे शहर में अंदर ही अंदर पान, फाकी, मावा-मसाला का दो गुणा भाव वसूला जा रहा है। इस तरह लॉकडाउन के समय में लूट मचाई जा रही है। मावा के 15 रुपए और सिगरेट 600 रुपए में बेचे जा रहे हैं। सामान्य तौर पर ऐसा भी देखा जा रहा है कि डिलीवरी बॉय घर पर डिलीवरी देने के लिए आता है तो उससे रास्ते में पडऩेवाले विक्रेताओं के घर से उसे लाने का कहा जाता है।

इसके अलावा दूसरे पैकेट और सूखी सुपारी का भाव भी मनमाने ढंग़ से लिया जा रहा है। कुछ व्यसनी जत्थाबंद पान-मसाला का स्टॉक कर रहे हैं। कुछ कच्चा माल जैसे कि कच्ची सुपारी, सेंकी हुई सुपारी या मुखवास के डब्बे घर मंगाकर काम चला रहे हैं। बता दें ऐसे समय में ऐसे माल भी सरलता से नहीं मिलती और सस्ती भी नहीं है। लॉकडाउन के समय में जीवन जरुरत की वस्तुओं की राहत का कुछ हद तक दुरुपयोग भी हो रहा है। दूसरी तरफ इस बात को लेकर पुलिस भी सतर्क हो गई है।

गत सप्ताह को अहमदाबाद में थर्मस में पान मसाला लेकर जा रहे ग्राहक को पुलिस ने दबोच लिया। इस शख्स ने बड़े स्टील के थर्मस में पान मसाला छुपाया था, और पुलिस को कहा था कि गरीबों को चाय-नाश्ता देने के लिए जा रहा है। जब पुलिस को शक हुआ तो जांच करने पर भांडा फूट गया। थर्मस में ऊपर से दूध की थैली रखी थी जबकि उसके नीचे इस प्रकार की सामग्री थी।

]]>
https://www.loktej.com/gujarat-news/mawa-masala-is-available-online-no-charge-for-home-delivery-73447/feed 0
गुजरात : कोरोना की रफ्तार न थम रही और न ही कम हो रही https://www.loktej.com/surat-news/gujarat-the-speed-of-corona-has-not-stopped-nor-is-it-decreasing-73456 https://www.loktej.com/surat-news/gujarat-the-speed-of-corona-has-not-stopped-nor-is-it-decreasing-73456#respond Wed, 03 Jun 2020 15:30:51 +0000 https://www.loktej.com/?p=73456 485 नए केसों के साथ कोरोना का आंकड़ा 18000 के पार, 4783 एक्टिव]]>

अहमदाबाद (ईएमएस)| गुजरात में कोरोना की रफ्तार न थम रही है और न ही कम हो रही है| राज्य में कोरोना का ग्राफ 18000 को पार कर गया है| राहत की बात यह है कि इनमें से 12000 से ज्यादा लोग ठीक हो चुकी है| पिछले 24 घंटों में 485 नए केसों के साथ राज्य में कोरोना मामलों की संख्या 18117 हो गई है|

सबसे अधिक केस अहदाबाद में

485 नए केसों में सबसे अधिक अहमदाबाद में 290 केस दर्ज हुए हैं| जबकि सूरत में 77, वडोदरा में 34, गांधीनगर में 39, भावनगर में 4, बनासकांठा में 10, आणंद में 1, राजकोट में 2, अरवल्ली में 2, मेहसाणा में 4, पंचमहल में 3, खेडा में 5, पाटन में 5, भरुच में 3, साबरकांठा में 1, दाहोद में 1, नवसारी में 2, जूनागढ़ में 1 और सुरेन्द्रनगर में कोरोना का एक मामला सामने आया है| इस दौरान 318 लोग ठीक हुए हैं|

अहमदाबाद में कोरोना को मात देकर 205 लोग स्वस्थ हुए हैं| जबकि वडोदरा में 43, सूरत में 31, बनासकांठा में 8, गांधीनगर में 8, गिर सोमनाथ में 6, जामनगर में 5, साबरकांठा में 3, सुरेन्द्रनगर में 3, पोरबंदर में 2, वलसाड में 2, जूनागढ़ में 1 और नवसारी में कोरोना से एक-एक व्यक्ति ठीक होकर अस्पताल से घर लौट चुका है| इस दौरान कोरोना से राज्य में 30 मरीजों की मौत हुई है| जिसमें अहमदाबाद में 22, वडोदरा में 3, सूरत में 2, भावनगर, कच्छ और नवसारी में 1 मरीज की मौत हुई है|

राज्य में अब तक 227898 टेस्ट किए गए हैं| राज्य में फिलहाल कोरोना के 4783 मरीज हैं और इसमें 4719 मरीजों की हालत स्थिर है और 64 वेन्टीलेटर पर हैं| जबकि 12212 लोग अब तक ठीक होकर अस्पताल से घर लौट चुके हैं और 1122 मरीजों की अब तक मौत हो चुकी है| राज्य में 232833 लोग कोरन्टाइन हैं| जिसमें 225304 होम कोरन्टाइन और 7529 लोग सरकारी कोरन्टाइन में हैं|

]]>
https://www.loktej.com/surat-news/gujarat-the-speed-of-corona-has-not-stopped-nor-is-it-decreasing-73456/feed 0
अश्वेत की मौत पर अमेरिका वासियों का विरोध प्रदर्शन इतना व्यापक कि रोक पाना है मुश्किल https://www.loktej.com/world/protests-by-americans-on-black-death-are-so-widespread-that-it-is-difficult-to-stop-73453 https://www.loktej.com/world/protests-by-americans-on-black-death-are-so-widespread-that-it-is-difficult-to-stop-73453#respond Wed, 03 Jun 2020 15:10:09 +0000 https://www.loktej.com/?p=73453 कई शहरों में कर्फ्यू का उल्लंघन कर लोगों ने किया विरोध प्रदर्शन]]>

वॉशिंगटन (ईएमएस)। अमेरिका में इन दिनों एक अश्वेत नागरिक की पुलिस हिरासत में मौत के बाद बवाल मचा है। फिलाडेल्फिया, शिकागो और वाशिंगटन डीसी समेत अमेरिका के कई शहरों में नागरिकों ने मिनियापोलिस में अफ्रीकी-अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड की हिरासत में मौत के खिलाफ जोरदार विरोध प्रदर्शन किए। इनमें से कुछ स्थानों पर हिंसक प्रदर्शन भी हुए।

 

ह्यूस्टन निवासी फ्लॉयड की मिनियापोलिस में 25 मई को उस समय मौत हो गई थी, जब एक श्वेत पुलिस अधिकारी ने उसके गले को अपने घुटने से तब तक दबाए रखा, जब तक कि उसकी सांसें नहीं रुक गई। इस घटना के विरोध में देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं। कुछ स्थानों पर शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन हिंसक हो गए और बड़े पैमाने पर लूटपाट की गई, सम्पत्ति एवं स्मारकों को नुकसान पहुंचाया गया और वाहनों को आग लगा दी गई। ऐसा बताया जा रहा है कि अमेरिका में हालिया दशकों में इतने बड़े पैमाने पर असैन्य अशांति नहीं फैली है। रात में कई प्रदर्शनों के हिंसक हो जाने के कारण न्यूयॉर्क और वाशिंगटन डीसी समेत कई शहरों में कर्फ्यू लगाया गया।

 

प्रदर्शनकारियों ने इन शहरों में कई स्थानों पर कर्फ्यू का कथित रूप से उल्लंघन किया। वाशिंगटन डीसी में सैन्य वाहनों को व्हाइट हाउस के निकट सड़कों पर देखा गया और लफायेते पार्क में बड़ी संख्या में सशस्त्र कर्मी देखे गए। फ्लॉयड की हिरासत में मौत के विरोध में इस पार्क में हजारों प्रदर्शनकारी एकत्र हुए थे।

पुलिस की बर्बरता के खिलाफ हजारों लोगों ने न्यूयॉर्क की सड़कों पर मार्च निकाला। मैनहट्टन के एक लोकप्रिय डिपार्टमेंटल स्टोर समेत न्यूयॉर्क में कई स्थानों पर सोमवार रात लूटपाट की घटनाएं हुईं। न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रियू कुओमो ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘मुझे लगता है कि न्यूयॉर्क पुलिस विभाग और मेयर ने कल रात अपना काम संजीदगी से नहीं किया।’ हालांकि न्यूयॉर्क में कई जगह प्रदर्शनकारी दुकानों में लूटपान ना हो इसके प्रयास भी करते दिखे।

 

सेंट लुइस में चार पुलिसकर्मी प्रदर्शनकारियों को काबू करने के दौरान घायल हो गए। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। लास वेगास में भी प्रदर्शनकारियों की भीड़ को काबू करने की कोशिश में एक पुलिस अधिकारी को गोली लग गई। वह अस्पताल में भर्ती है और उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है।

]]>
https://www.loktej.com/world/protests-by-americans-on-black-death-are-so-widespread-that-it-is-difficult-to-stop-73453/feed 0
महाराष्ट्र में निसर्ग तूफान ने मचाई तबाही, लेकिन सौभाग्य से जन हानि की खबर नहीं https://www.loktej.com/regional/nisarga-storm-caused-havoc-in-maharashtra-but-fortunately-no-news-of-mass-loss-73446 https://www.loktej.com/regional/nisarga-storm-caused-havoc-in-maharashtra-but-fortunately-no-news-of-mass-loss-73446#respond Wed, 03 Jun 2020 15:00:14 +0000 https://www.loktej.com/?p=73446 कहीं पेड़ उखड़े तो कहीं बिजली के खंभे गिरे]]>

मुंबई, (ईएमएस)। बुधवार दोपहर 1 बजे चक्रवात निसर्ग महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले के अलीबाग में 120 किलोमीटर प्रति घंटा की हवाओं की रफ्तार के साथ समंदर तट से जा टकराया. चक्रवात निसर्ग तूफान की आहट से समंदर में ऊंची-ऊंची लहरें उठने लगीं और तेज हवाओं की वजह से पेड़ उखड़ने लगे. कई जगहों पर बिजली के खंभे जमीन पर आ गिरे. चक्रवात निसर्ग के असर से मुंबई में भी कई स्थानों पर पेड़ गिरे और नवी मुंबई में तो एक बस स्टॉप धराशायी हो गया. समाचार लिखे जाने तक मुंबई के ज्यादातर इलाकों में तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही थी. तेज हवाओं के चलते मरीन लाइन्स समेत कई इलाकों में पेड़ गिरने से वाहनों को नुकसान हुआ. सड़कें जाम हो गई.

मुंबई में 100 सालों बाद इस तरह का तूफान

हालांकि कहा जा रहा है कि मुंबई में आने वाला चक्रवात 50 किलोमीटर दक्षिण में चला चला गया. इससे मुंबई पर इसका खतरा कम हुआ है. आपको बता दें कि मुंबई को 100 सालों बाद इस तरह के तूफान का सामना करना पड़ा. तूफ़ान की तबाही से निपटने के लिए एनडीआरएफ की 21 टीमों को तैनात किया गया था. इस तूफ़ान का ज्यादा असर मुंबई, ठाणे, रायगढ़ और रत्नागिरी में देखा गया. कई जगहों पर तेज हवाओं के चलते मकानों के छत हवा में उड़ गए. वहीं बारिश और तेज हवाएं चलने से मुंबई पुलिस ने बांद्रा-वर्ली समुद्री लिंक पर वाहनों की आवाजाही रोक दी. इंट्री और एग्जिट दोनों पॉइंट पर पुलिसर्मियों ने बेरिकेटिंग कर दी थी, ताकि किसी भी वाहन के प्रवेश से रोका जा सके.

तूफान की वजह से मुंबई के समुन्द्र में भी काफी तेज उंची लहरें उठीं. वहीं एनडीआरएफ के डीजी ने लोगों को सलाह दी कि वे कम से कम छह या सात घंटे बाहर न निकलें. उधर मुंबई के छत्रपति शिवाजी अंतरराष्ट्रीय टर्मिनस पर विमानों की लैंडिंग या टेकऑफ को बुधवार शाम ७ बजे तक के लिए रोक दिया गया. बहरहाल चक्रवात निसर्ग से फिलहाल किसी तरह की जन हानि की खबर नहीं है. जो नुकसान हुआ है वो घरों की टिन की छत टूटने या पेड़ गिरने से गाड़ियों को नुकसान होने की खबरें हैं.

मुंबई में कई जगहों पर पेड़ उखड़े

निसर्ग तूफान की वजह से मुंबई स्थित विधान भवन परिसर के अंदर भी 4 पेड़ उखड़ गए. इसके अलावा ब्रेबोन स्टेडियम इलाके में भी कई वाहनों पर पेड़ गिर गए, जिससे कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गए. मरीन लाइंस इलाके में भी एक विशाल पेड़ सड़क के बीच में गिर गया. जिससे काफी समय तक उस रास्ते पर आवाजाही बंद रही. कालाचौकी इलाके में एक पेड़ टैक्सी पर गिर गया, जिससे वाहन पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया. वहीं सायन इलाके में भी पेड़ गिरने की खबर है.

(PC : Twitter)

कोंकण में तबाही का मंजर

कोंकण तट पर बसे रत्नागिरी में तबाही का मंजर ज्यादा दिखाई दिया. जहां टिन शेड और छतें चादर की तरह उड़ गईं. तूफान के टकराने के बाद यहां हवाएं 100 किमी से भी तेज गति से चली. जिसके कारण कई घरों की छतों को नुकसान पहुंचा और बिजली के खंभे उखड़ गए. सोशल मीडिया पर तेज हवाओं के साथ हो रही बारिश के वीडियो वायरल हो रहे हैं. इस बीच एक वीडियो में तूफान की तेज रफ्तार के कारण एक मकान की छत उड़ती नजर आ रही है. हालांकि, मकान की छत टीन से बनी हुई थी. उधर पालघर के अलीबाग इलाके में चक्रवात के बाद जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया. वहीं कई बड़े पेड़ जड़ समेत उखड़ गए. जबकि तेज हवा और बारिश के चलते रायगढ़ जिले में कई जगहों पर मोबाइल नेटवर्क सेवा प्रभावित हुई है.

(PC – konkan_bhumi (Instagram))

करीब 110 किमी/घंटा की रफ्तार से चली हवा

निसर्ग’ चक्रवात बुधवार दोपहर महाराष्ट्र और गुजरात के समुद्री तट से टकराया और इस दौरान हवा की गति 100-110 किलोमीटर प्रतिघंटा है, जो कि 120 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार तक जा सकती है. समुद्र में लगातार ऊंची-ऊंची लहरें उठ रही थी। मुंबई एवं इसके आस-पास के शहरों में भी तेज हवाओं का असर दिखा जब कई जगहों पर पेड़ उखड़ गए और तो कहीं बिजली के तार टूट गए. वहीं कुछ जगह मकान की टीन की छत उड़ गई.

लहरें इतनी ऊंची कि जहाज भी हिलने लगा

मुंबई में समुद्र में तैनात जहाजों पर भी चक्रवात निसर्ग का असर दिख रहा था. समुद्र में उठ रही लहरें इतनी ऊंची थी कि जहाज भी हिल रहे थे. एहतियातन प्रशासन ने समुद्र के पास से सभी लोगों को हटा दिया.

महाराष्ट्र में एनडीआरएफ की 21 टीमें

एनडीआरएफ की टीमें लगातार राहत कार्य में जुटी हैं. एनडीआरएफ के डीजी एस एन प्रधान ने कहा कि महाराष्ट्र और गुजरात में निसर्ग चक्रवात के मद्देनजर एनडीआरएफ की 43 टीमें तैनात की गई हैं. इनमें से एनडीआरएफ की 21 टीमें महाराष्ट्र में चक्रवात प्रभावित इलाकों में तैनात हैं. चक्रवात के मद्देनजर एक लाख लोगों को सुरक्षित जगहों पर ले जाया गया है.

]]>
https://www.loktej.com/regional/nisarga-storm-caused-havoc-in-maharashtra-but-fortunately-no-news-of-mass-loss-73446/feed 0
दिल्ली दंगों साजिश में निजामुद्दीन मरकज और देवबंद का नाम https://www.loktej.com/regional/nizamuddin-markaz-and-deoband-named-in-delhi-riots-conspiracy-73444 https://www.loktej.com/regional/nizamuddin-markaz-and-deoband-named-in-delhi-riots-conspiracy-73444#respond Wed, 03 Jun 2020 14:35:30 +0000 https://www.loktej.com/?p=73444 क्राइम ब्रांच की चार्जशीट में ज्रिक]]>

नई दिल्ली (ईएमएस)। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा के दौरान नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में हुए दंगों की साजिश में पहली बार हजरत निजामुद्दीन स्थित मरकज और सहारनपुर स्थित देवबंद का नाम सामने आया है। राजधानी स्कूल केस में दाखिल चार्जशीट में क्राइम ब्रांच ने खुलासा हुआ है। इसके पहले पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई), महिला स्टूडेंट ग्रुप पिंजरा तोड़, इंडिया अगेंस्ट हेट, जेएनयू के पूर्व स्टूडेंट उमर खालिद, जामिया को-ऑर्डिनेशन कमिटी और जेएनयू के अलगाववादी विचारधारा से जुड़े छात्रों का ही साजिश में लिंक बताया जा रहा था। दिल्ली पुलिस ने दंगों को लेकर 752 मुकदमे दर्ज कर 1300 से ज्यादा आरोपियों को गिरफ्तार किया है। क्राइम ब्रांच को 59 केसों की तफ्तीश सौंपी गई, जिसने पांच केसों की चार्जशीट कोर्ट में दाखिल कर दी है।

दंगे से पहले गया था देवबंद

दयालपुर थाना इलाके के शिव विहार तिराहे पर न्यू मुस्तफाबाद स्थित राजधानी पब्लिक स्कूल के मालिक फैसल फारूखी को एरिया में दंगे फैलाने का साजिशकर्ता करार दिया गया है। चार्जशीट में दावा किया है कि फैसल की कॉल डिटेल रिकॉर्ड खंगालने पर सामने आया कि वह पीएफआई, पिंजरा तोड़, जामिया को-ऑर्डिनेशन कमिटी, मरकज और देवबंद के अहम सदस्यों के संपर्क में था। यहीं नहीं, इलाके में दंगे से ठीक एक दिन पहले यानी 23 फरवरी को वह देवबंद भी गया था।

क्राइम ब्रांच ने चार्जशीट में क्रॉनोलाजी दी है। इसमें दावा किया गया है कि 11 दिसंबर 2019 को नागरिकता संशोधन कानून के संसद से पास होने के बाद एक धर्म विशेष के लोगों ने पूरे देश में योजनाबद्ध तरीके धरने-प्रदर्शन शुरु कर लोगों को भड़काया। जामिया यूनिवर्सिटी में 13 दिसंबर को हिंसा से इसका आगाज हुआ। न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में 15 दिसंबर को पीएफआई के लोगों के अलावा जेएनयू के स्टूडेंट शरजील इमाम और पूर्व छात्र उमर खालिद ने भड़काऊ भाषण दिए।

]]>
https://www.loktej.com/regional/nizamuddin-markaz-and-deoband-named-in-delhi-riots-conspiracy-73444/feed 0
भावनगर : कुडा गाँव के पास समुद्र के बीच में हुआ रहस्यमयी धमाका, प्रशासन और लोग हुए सतर्क https://www.loktej.com/gujarat-news/bhavnagar-mysterious-explosion-in-middle-of-sea-near-kuda-village-administration-and-people-alert-73440 https://www.loktej.com/gujarat-news/bhavnagar-mysterious-explosion-in-middle-of-sea-near-kuda-village-administration-and-people-alert-73440#respond Wed, 03 Jun 2020 15:30:55 +0000 https://www.loktej.com/?p=73440 मौसम विभाग ने स्पष्ट किया था कि प्राकृतिक तूफान से नहीं है कोई खतरा]]>

भावनगर जिले में कोरोना वायरस के साथ-साथ तूफान जैसी प्राकृतिक आपदाओं का भी खतरा बना हुआ है। प्रकृति तूफान की आपदा के बीच भावनगर के समुद्र में कूदा गांव के पास एक रहस्यमय विस्फोट ने प्रशासन और लोगों को आश्चर्यचकित कर दिया। विस्फोट के बाद प्रशासन अचानक सक्रिय हो गया। आसमान में काले धुंआ देखा गया। प्रशासन ने विस्फोट के कारणों की जांच शुरू कर दी है।

मौसम विभाग ने स्पष्ट किया था कि प्राकृतिक तूफान से सौराष्ट्र को कोई खतरा नहीं है। लेकिन राज्य के दक्षिण गुजरात में कई जगहों पर भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है। वर्तमान में भावनगर बंदरगाह पर सिग्नल नंबर दो स्थापित किया गया है। अरब सागर का गहरा दबाव तूफान में बदल गया है। इससे पहले राज्य के मौसम विभाग ने भावनगर जिले में तूफान के आने का अनुमान लगाया था। जिसके कारण तटीय क्षेत्र के कई गांव अलर्ट किए गए थे। जबकि दक्षिण गुजरात के कुछ संवेदनशील इलाकों से लोगों को निकालने का काम भी शुरू हो गया है।

प्राकृतिक आपदा के कारण समुद्र का संकट बढ़ रहा है। इस आपदा के मद्देनजर गुजरात राज्य के 47 गांवों को खाली कर दिया गया है। चक्रवात 120 किमी / घंटा की तेज़ गति से बढ़ रहा है। उधर मुंबई में भी हाई टाइड का अलर्ट जारी किया गया है। देश के मौसम विभाग ने बुधवार को मुंबई के अधिकारियों को तूफान के बारे में सचेत किया था। तूफान से 6 फुट ऊंची लहर पैदा हो सकती है। इसके लिए मुंबई में स्टैंड-बाय पर एक विशेष टीम रखी गई है। 80,000 से अधिक लोगों को स्थानांतरित किया गया है। एनडीआरएफ की 20 टुकड़ियों को विभिन्न क्षेत्रों में तैनात किया गया है। उचित उपकरणों के साथ एक आपातकालीन नाव भी तैयार की गई है। दोपहर बाद मुंबई में तेज हवाएं चलने लगीं। आपदा को देखते हुए ट्रेन और बस के समय में भी बड़े बदलाव किए गए हैं। मुंबई के कुछ हिस्सों में दोपहर के समय भी धीरे-धीरे बारिश होने लगी। दूसरी ओर, दक्षिण गुजरात में सतर्कता के तहत कुछ कदम उठाए गए हैं। ऐसे वातावरण में, मछुआरों को सख्त निर्देश दिया गया है कि वे समुद्र की ओर ना जाए।

]]>
https://www.loktej.com/gujarat-news/bhavnagar-mysterious-explosion-in-middle-of-sea-near-kuda-village-administration-and-people-alert-73440/feed 0
मध्यप्रदेश : बीजेपी नेता ने मांगी सोनू से मदद, सोनू सूद ने कहा खिलना पड़ेगा पोहा https://www.loktej.com/weird-news/madhya-pradesh-bjp-leader-asked-for-help-from-sonu-sonu-sood-said-pohna-will-have-to-blossom-73437 https://www.loktej.com/weird-news/madhya-pradesh-bjp-leader-asked-for-help-from-sonu-sonu-sood-said-pohna-will-have-to-blossom-73437#respond Wed, 03 Jun 2020 15:00:50 +0000 https://www.loktej.com/?p=73437 जरूरतमंद लोगों के लिए किसी मसीहा से कम नही है सोनू सूद]]>

बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद लॉकडाउन में श्रमिकों और जरूरतमंदों के लिए एक मसीहा बनकर सामने आए हैं। उन्होंने अब तक हजारों श्रमिकों को उनके घरों तक पहुँचाने में बहुत मदद की है। इतना ही नहीं उन्होंने श्रमिकों के लिए भोजन और पानी की भी व्यवस्था की है। सोशल मीडिया पर बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद की काफी प्रशंसा हो रही है। इसी बीच मध्य प्रदेश के रीवा से भारतीय जनता पार्टी के विधायक राजेंद्र शुक्ला ने भी असली हीरो सोनू सूद से मदद मांगी।

बीजेपी विधायक राजेंद्र शुक्ला ने ट्विटर पर लिखा, सोनू सूद जी। ये रीवा / सतना मध्य प्रदेश के निवासी कई दिनों से मुंबई में फंसे हुए हैं और अभी तक नहीं लौटे हैं। कृपया उन्हें वापस लाने में हमारी मदद करें। इस पर अभिनेता ने लिखा, सर अब कोई नहीं फंसा है। मैं कल अपने भाइयों को आपके पास भेजूं दूंगा, सर। अगर मैं मध्य प्रदेश आता हूं, तो मुझे पोआ खिलाना पड़ेगा।

इसके जवाब मे बीजेपी नेता राजेन्द्र शुक्ल ने लिखा, धन्यवाद सोनू सूद जी, विन्ध्य की पावन भूमि में आपका हमेशा स्वागत है। मुम्बई में अभी बचे हुए 168 में से करीब 55 लोगों को भिजवा दिया गया है, करीब 113 लोग बचे हुए हैं जिन्हें सकुशलता से भिजवाने के लिए मैं आपको अग्रिम धन्यवाद व भविष्य के लिए शुभकामनाएं देता हूँ।

हालांकि राजेंद्र शुक्ला के अभिनेता सोनू सूद से मदद मांगने पर कांग्रेस नेता अलका लांबा ने भाजपा विधायक की खिल्ली उड़ाई। उन्होंने कहा, ” आँखों पर यक़ीन नहीं होता कि जो खुद विधायक और पूर्व में मंत्री भी रहा, मध्यप्रदेश और देश में इन्हीं की सरकार है,मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री इन्हीं की पार्टी के हैं, महाराष्ट्र में भी इनके सांसद और विधायक हैं, फिर भी मदद सोनू सूद  से माँग रहे हैं,थोड़ी भी शर्म हो तो इस्तीफ़ा देकर घर बैठ जाओ,बेहतर होगा।

उल्लेखनीय है कि सोनू सूद लॉकडाउन के बाद से लगातार देश में फंसे प्रवासी कामगारों की मदद कर रहे हैं। अभिनेता अपने खर्च पर इन श्रमिकों को बसों और ट्रेनों से उनके घर भेज रहे हैं। । अभिनेता ने कोरोना वायरस से लड़ने वाले मेडिकल स्टाफ के लिए जुहू स्थित अपने होटल को उपलब्ध किया है। इसके अलावा, अभिनेता जरूरतमंद और गरीबों के लिए भोजन की व्यवस्था भी कर रहे हैं। । फिल्मों में काफी हद तक नकारात्मक भूमिका निभाने वाले अभिनेता ने वास्तविक जीवन में एक महानायक की भूमिका निभाई है। संकट के समय में उन्होंने देश के जरूरतमंदों की मदद की है और अब भी कर रहे हैं।

]]>
https://www.loktej.com/weird-news/madhya-pradesh-bjp-leader-asked-for-help-from-sonu-sonu-sood-said-pohna-will-have-to-blossom-73437/feed 0
गुजरात : पेट्रोल-डीजल हो सकते है महंगे, घर खरीदना होगा सस्ता https://www.loktej.com/gujarat-news/gujarat-petrol-and-diesel-can-be-expensive-buying-a-house-will-be-cheaper-73433 https://www.loktej.com/gujarat-news/gujarat-petrol-and-diesel-can-be-expensive-buying-a-house-will-be-cheaper-73433#respond Wed, 03 Jun 2020 14:30:57 +0000 https://www.loktej.com/?p=73433 लॉकडाउन के दौरान राज्य के राजस्व मे हुई कमी की भरपाई के लिए लिया जा सकता है फैसला]]>

गुजरात में सरकार के कर नीति में फेरबदल के कारण पेट्रोल, डीजल और गैस अधिक महंगे होंगे लेकिन मकान या फ्लैट सस्ते होंगे । राज्य वित्त मंत्रालय पेट्रोलियम उत्पादों पर मूल्य वर्धित कर (वैट) बढ़ाते हुए स्टांप शुल्क और पंजीकरण दरों को कम करना चाहता है।

उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा कि गुजरात सरकार के कर राजस्व में कमी आई है, इसलिए पेट्रोलियम उत्पादों पर वैट की दरें संक्रमण काल ​​के दौरान बढ़ सकती हैं, जबकि हम रियल एस्टेट क्षेत्र की सुरक्षा के लिए स्टांप शुल्क दरों को कम करने पर विचार कर रहे हैं, जो कि इस महामारी से सबसे अधिक प्रभावित हुआ है।

pc:internet

साफ शब्दों मे कहे तो इसका मतलब यह है कि गुजरात में पेट्रोल, डीजल और गैस अधिक महंगे हो जाएंगे, जबकि दस्तावेज पंजीकरण और पंजीकरण की दरें थोड़ी सस्ती हो जाएंगी। कई संगठनों ने सरकार से रियल एस्टेट क्षेत्र को राहत देने के लिए स्टाम्प शुल्क दरों को कम करने का आह्वान किया है। गुजरात के कर राजस्व में 25 प्रतिशत की सीधी बड़ी कमी के साथ, राज्य सरकार के पास राजस्व बढ़ाने का  एकमात्र विकल्प वैट दरें हैं, जो केवल पेट्रोल, डीजल और गैस पर लागू होती हैं।

गुजरात में पेट्रोल और डीजल को अधिक महंगा करने की तैयारी शुरू हो गई है। सरकार पेट्रोल पर मूल्य-कर (वैट) में दो प्रतिशत और डीजल पर एक प्रतिशत की वृद्धि कर सकती है क्योंकि कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन से राज्य का भंडार बुरी तरह प्रभावित हुआ हैं। सचिवालय के सूत्रों ने बताया कि बंद के दौरान राज्य सरकार के राजस्व पर बड़ा असर पड़ा है।  इसके मद्देनजर पेट्रोल, डीजल और प्राकृतिक गैस पर वैट भी बढ़ाया जाएगा ताकि कर्मचारियों को भुगतान करने के लिए ऋण लिया जा सके। राज्य के वित्त मंत्री नितिन पटेल ने विभाग के अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया है।

pc: internet

गुजरात में वर्तमान में पेट्रोल और डीजल पर 17 प्रतिशत वैट और चार प्रतिशत उपकर है। वित्त विभाग के अनुसार, गुजरात सरकार पेट्रोल और डीजल पर वैट से प्रति दिन 37 करोड़ रुपये कमाती है। इसका मतलब है कि सरकार को इन दोनों उत्पादों पर महीने में 1400 करोड़ रुपये मिलते हैं।आपको बता दें कि  अप्रैल 2019 से जनवरी 2020 अंत तक, सरकार को पेट्रोल और डीजल पर लगाए गए करों से 10,905 करोड़ रुपये मिले।

अब अगर राज्य सरकार पेट्रोल पर दो प्रतिशत वैट बढ़ाती है, तो पेट्रोल पर  कुल वैट 23 प्रतिशत हो जाएगा जबकि डीजल पर वैट 22 प्रतिशत हो जाएगा। सरकार को हर साल इन उत्पादों से राजस्व मे बढ़ोतरी मिलती है। 2017-18 में वैट राजस्व 12,874 करोड़ रुपये था जो 2018-19 में बढ़कर 14,001 करोड़ रुपये हो गया।

भारत में एक के बाद एक राज्य पेट्रोल और डीजल पर वैट बढ़ा रहे हैं। भारत सरकार ने हाल ही में इन दोनों उत्पादों पर उत्पाद शुल्क बढ़ाया है, जिसका सीधा प्रभाव उपभोक्ताओं पर नहीं बल्कि तेल कंपनियों पर पड़ा है। वैश्विक कच्चे तेल की कीमतें गिरने के बावजूद, भारत में लोगों को महंगा पेट्रोल और डीजल मिल रहा है। राजस्थान सरकार ने पेट्रोल पर वैट में दो प्रतिशत और डीजल में एक प्रतिशत की वृद्धि की है। अब गुजरात सरकार भी जल्द ही वैट में वृद्धि की घोषणा करने की संभावना है।

दूसरी ओर, स्टैम्प ड्यूटी और पंजीकरण शुल्क, अचल संपत्ति क्षेत्र को राहत देने के लिए एक से डेढ़ प्रतिशत तक कम किया जा सकता है। हालांकि यह निर्णय वित्त विभाग के शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक में लिए जाने की संभावना है। वैट और स्टांप ड्यूटी में वित्त विभाग के एक अधिकारी ने अनुमान लगाया है कि वैट में दरें बढ़ सकती हैं और स्टैंप ड्यूटी में दरें घट सकती हैं।

]]>
https://www.loktej.com/gujarat-news/gujarat-petrol-and-diesel-can-be-expensive-buying-a-house-will-be-cheaper-73433/feed 0