जीभर के राजमा खाइए नहीं होंगे मोटे, फायदे जानकर पड़ जाएंगे हैरत में


(Photo : Rajma)

नई दिल्ली(ईएमएस)। अक्सर लोगों को थाली से राजमा सिर्फ इसलिए हटाते देखा होगा क्योंकि उन्हें लगता है राजमा खाने से उनका वजन बढ़ जाएगा। अब इस खबर को पढ़ने के बाद लोग राजमा खाने के लिए किसी बहाने का इंतजार नहीं करेंगे। राजमा प्रोटीन का एक अच्छा स्रोत है। राजमा खाने से न सिर्फ वजन घटाने में मदद मिलती है बल्कि डायबिटीज जैसे रोग से भी बचाव होता है। राजमा का सेवन करने से शरीर को मिलते हैं आखिर कौन से गजब के फायदे। राजमा में मौजूद फाइबर की वजह से पेट देर तक भरा महसूस करवाता है। जिसकी वजह से व्यक्ति को लंबे समय तक भूख नहीं लगती है। इसके अलावा राजमा के लो फैट होने की वजह से इसका सेवन करने पर शरीर में देर तक ऊर्जा बनी रहती है।

यदि आपकी कमर के आसपास चर्बी ज्यादा है, तो राजमा आपकी परेशानी दूसर करने में आपकी मदद कर सकती है। हाल ही में एक अध्ययन में यह पाया गया है कि किसी भी प्रकार की बीन्स हफ्ते में 4 बार खाने से व्यक्ति का वजन कम होता है। राजमा में कम मात्रा में ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है। मधुमेह के रोगी यदि इसका सेवन करते हैं तो उनके शरीर में ब्लड ग्लूकोज का लेवल नहीं बढ़ता है। राजमा में अच्छी क्वालिटी का कार्बोहाइड्रेट और लीन प्रोटीन होने के साथ इंसुलिन स्तर को नियमित करने वाले दो अमिनो एसिड्स आर्जिनाइन और ल्यूसाइन भी पाए जाते हैं। राजमा में फाइबर और प्रोटीन के साथ अच्छी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स गुण भी पाए जाते हैं। ये एंटीऑक्सीडेंट्स गुण व्यक्ति के इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाने में मदद करते हैं और उसे फ्री रेडिकल्स से मुक्त रखते हैं। जिसकी वजह से एंटी-एजिंग इफेक्ट जल्दी चेहरे पर नजर नहीं आता है। भारत में राजमा तो मैक्सिकन सिटी में टैकोज नाम से फेमस राजमा को अंग्रेजी में किडनी बीन्स के नाम से भी जाना जाता है।