इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट में 4.24 लाख सीटें खत्म


देशभर के इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट, फार्मेसी, आर्किटेक्चर समेत अन्य प्रोग्राम में 4,24,689 सीटें खत्म कर दी गई हैं।
Photo/Twitter

नई दिल्ली। देशभर के इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट, फार्मेसी, आर्किटेक्चर समेत अन्य प्रोग्राम में 4,24,689 सीटें खत्म कर दी गई हैं। अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) 2019 सत्र में 32,09,703 सीटों पर स्नातक, स्नातकोत्तर और डिप्लोमा प्रोग्राम में दाखिला करेगा। इतना ही नहीं, 226 तकनीकी कॉलेजों ने छात्रों की कमी और खर्चा पूरा न होने के चलते अपने कैंपसों को बंद कर दिया है। वहीं नियमों को पूरा नहीं करने पर एआईसीटीई ने 237 कॉलेजों पर ताला लगा दिया है।

एआईसीटीई ने 2019 सत्र में दाखिला शुरू करने की प्रक्रिया पूरी कर ली है। इसी के साथ परिषद राज्यों के तकनीकी शिक्षा बोर्ड के साथ 2019 में मान्यता मिलने वाले कॉलेजों, सीट समेत प्रोग्राम की जानकारी साझा करने जा रहा है। देशभर के 735 तकनीकी कॉलेज 2019 सत्र में दाखिला नहीं कर सकेंगे। इंजीनियिरंग में 376 कॉलेज, फार्मेसी के 73 कॉलेज, मैनेजमेंट में 327 कॉलेज और आर्किटेक्चर, एमसीए, आर्ट एंड क्रॉफ्ट, एचएमसीटी व डिजाइन के 114 कॉलेज शामिल हैं। यह कॉलेज किसी भी डिग्री व डिप्लोमा प्रोग्राम में पहले वर्ष में दाखिला नहीं ले पाएंगे।

हालांकि दूसरे, तीसरे, चौथे वर्ष के छात्र पहले की तरह पढ़ाई कर सकते हैं। एआईसीटीई ने 850 तकनीकी कॉलेजों को 2019 सत्र से मान्यता दी है। इंजीनियरिंग के 154 कॉलेज, फार्मेसी के 842 कालेज, मैनेजमेंट के 74 कॉलेज व 38 कॉलेज शामिल हैं। इन नए कॉलेजों में छात्रों को पहली बार विभिन्न डिग्री प्रोग्राम में पढ़ाई का मौका मिलेगा।

– ईएमएस