स्मार्ट बैंडेज रखेगी जख्म का ध्यान


नई दिल्ली। अब एक ऐसी स्मार्ट बैंडेज बनाने के प्रयास हो रहे हैं जो अपने नाम के अनुरूप काम करते हुए जख्म की निगरानी करेगी। इस बैंडेज को इलेक्ट्रॉनिक रूप दिया गया है। इसकी वजह से यह घाव तक अपने आप दवा पहुंचाएगी, यह जख्म के ठीक होने का पता लगाएगी और संक्रमण बढ़ जाने पर डॉक्टर को अलर्ट भी भेजेगी। यह स्मार्ट बैंडेज पानी, दवा और इलेक्ट्रॉनिक्स के सहयोग से बनाई जा रही है। रबर से बनी इस हाईटेक बैंडेज के ९० फीसदी हिस्से में पानी है, दवा भंडारित करने की क्षमता है तथा यह बेहद कोमल और लचीली है। अगर किसी को घुटने या कोहनी पर चोट लगती है और वो वहां उसे लगाता है तो यह उसके काम में रुकावट नहीं लाएगी। बैंडेज में छोटे अलार्म लगे हैं जो तापमान अधिक होने पर बजने लगेंगे और इन्पेâक्शन रोकने के लिए बैंडेज से दवा घाव तक पहुंचेगी। अनुसंधानकर्ताओं ने बैंडेज को शरीर के टिश्यू जैसा रूप दिया गया है। बैंडेज में टाइटेनियम, एल्यूमीनियम, सिलिकोन, सेरामिक, स्वर्ण तथा अन्य धातुएं भी लगाई गई हैं जिन्हें सही अवस्था में रखने का काम जेल करता है। टाइटेनियम वायर बैंडेज तथा इलेक्ट्रॉनिक्स डिवाइसों को सक्रिय रखता है।
बैंडेज में सेमीवंâडक्टर के साथ एलईडी लाइट भी लगी हैं जो घाव के स्थान पर तापमान बढ़ जाए या दवा का प्रवाह कम हो जाए तो यह चमकती है। बैंडेज में बने छिद्रों से दवा घाव तक आवश्यकतानुसार पहुंचती है। मैसाचुसेट्स इंस्टीटयूट ऑफ टेक्नोलोजी के मुख्य अनुसंधानकर्ता जुआन्ह झाओ के अनुसार बैंडेज का एक महत्वपूर्ण दायित्व घाव पर संक्रमण बढ़ने पर चिकित्सक को अलर्ट करने का भी है। शोधकर्ता के अनुसार अगला कदम ऐसी पानीयुक्त इलेक्ट्रॉनिक बैंडेज माqस्तष्क की चोट के लिए भी बनाने का होगा।