वसा का भी पता लगाती है आपकी जीभ


मुंबई। लंबे अरसे से यह कहा जाता है कि हमारी जीभ मीठा, खट्टा, नमकीन, तीखा और चटपटा जैसे पांच मुख्य स्वाद का पता लगा सकती है लेकिन अब वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि यह वसा का भी पता लगा सकती है। लंदन में जर्नल लिपिड रिसर्च में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक वािंशगटन विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों की एक टीम ने वसा के स्वाद का पता लगाने के लिए एक संभावित रसायन अभिग्राहक (रिसेप्टर) की पहचान की है और यह भी पाया है कि इसकी संवेदनशीलता लोगों के बीच अलग-अलग होती है। वैज्ञानिकों के मुताबिक यह अभिग्राहक जीभ पर ाqस्थत होती है जो वसा के अणुओं की पहचान करती है। उनका कहना है कि इस नयी जानकारी से यह व्याख्या करने में मदद मिल सकती है कि कुछ लोग वसा युक्त चीजें क्यों अधिक मात्रा में खाते हैं जबकि वे जो कुछ खा रहे होते हैं, उसके स्वाद से अपेक्षाकृत कम वाकिफ होते हैं। लोगों में खाने की वस्तुओं के प्रति संवेदनशीलता बढ़ाकर मोटापे की रोकथाम करने में भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।