यौन हॉर्मोंस से महिलाओं में एलर्जी का खतरा 


लंदन। एक अध्ययन में यह बात सामने आई है कि महिला यौन हॉर्मोन एस्ट्रोजंस महिलाओं में एलर्जी प्रतिक्रियाओं को बढ़ाकर उन्हें जानलेवा स्तर तक ले जाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। अमेरिका के नेशनल इंस्टीटयूट ऑफ एलर्जी एंड इंफेकसियस डिजीजेज के एक अध्ययन के हवाले से टेलीग्राफ ने एक रिपोर्ट में कहा है कि एलर्जी प्रतिक्रियाओं के प्रति महिलाएं ज्यादा संवेदनशील होती हैं, क्योंकि महिला यौन हॉर्मोन इस स्थिति को और बद्तर कर देता है। इसी तरह की एक स्थिति एनाफाइलौक्सिस है, जो एलर्जी प्रतिक्रिया है और खाद्य पदार्थ, दवा या कीड़ों के काटने से होता है। शोध के दौरान मादा चूहे में एनाफाइलौक्तिक प्रतिक्रियाएं बेहद खतरनाक ढंग से हुर्इं। दरअसल, एस्ट्रोजन रक्त नलिकाओं को प्रभावित करता है, जो उस एंजाइम के स्तर व सक्रियता को बढ़ाती है, जो एनाफाइलौक्सिस  के कुछ लक्षणों का कारण होता है। शोध के मुताबिक जब मादा चूहे को एस्ट्रोजन ब्लॉिंकग ट्रीटमेंट दिया जाता है, तो उनकी एलर्जी प्रतिक्रियाएं बेहद कम हो जाती हैं।