मोटापा कम करने से लेकर ग्रीन टी के हैं कई फायदे


लंदन। ग्रीन टी आज ज्यादातर लोगों के रुटीन में अपनी जगह बना चुकी है। इसके फायदों को देखते हुए लोग मिल्क टी की जगह इसे पीना पसंद कर रहे हैं। नाश्ते से लेकर दोपहर की चाय तक में इसी का इस्तेमाल किया जाता है। वहीं कई लोग जो अपने मोटापे से परेशान हैं, वो भी इसका इस्तेमाल अपने को पतला करने में करते हैं। कई बार तो वे दिनभर में कई कप ग्रीन टी पी जाते हैं। ग्रीन टी के कई फायदे हैं। यह पेट पर जमे हुए पैâट को कम करती है, त्वचा को चमक देती है और पाचन सुधारती है। फिर भी इसे लगातार पीना ठीक नहीं। वैसे भी किसी भी चीज का इस्तेमाल जरूरत से ज्यादा नहीं किया जाना चाहिए। यह भी ध्यान रखा जाना चाहिए कि गलत समय पर ग्रीन टी पीने से कुछ दुष्परिणाम भी हो सकते हैं। ग्रीन टी में वैâफीन और टैनिन होता है, जो गौqस्ट्रक जूस को पतला कर देते हैं और आपकी पाचन प्रक्रिया को प्रभावित करते हैं। इसके कारण जी मिचलाना, गौqस्ट्रक पेन, पेट दर्द या एसिडिटी हो सकती है। ग्रीन टी को सही समय पर और सही मात्रा में लिया जाए तो ही हमें इसके अधिकतम लाभ मिलते हैं। दुनियाभर में की गई खोजों और अध्ययनों के अनुसार ग्रीन टी से कई लाभ होते हैं, लेकिन जरूरत से ज्यादा सेवन करने से स्वास्थ्य पर दुष्परिणाम भी हो सकते हैं। इसका फायदा उठाने के लिए दिन में अधिकतम २ से ३ कप ही ग्रीन टी पीएं। आप खाना खाने के आधा घंटा पहले या खाना खाने के २ घंटे बाद ग्रीन टी पीएं। ग्रीन टी में चीनी या दूध न मिलाएं। इसे शहद के साथ पीएं। ग्रीन टी में उपाqस्थत वैâफीन व शहद के विटामिन्स न्यूरोंस को पुनर्जीवित करते हैं। ये मिलकर शरीर में उपाqस्थत पैâट को बर्न करते हैं। शहद वैâलोरीज कम करने में मदद करता है और ग्रीन टी पाचन दर को बढ़ाती है। खाना खाने के तुरंत बाद ग्रीन टी न पीएं।