दाढ़ी से नहीं होते अल्ट्रावॉयलेट किरणों से होने वाले रोग


मुंबई। हाल में एक अध्ययन में पाया गया है कि जो पुरुष दाढ़ी बढ़ा कर रखते हैं, उन पर सूरज की हानिकारक अल्ट्रावॉयलेट रे का नुकसान कम पहुंचता है। शोधकर्ताओं द्वारा किए गए एक शोध के अनुसार दाढ़ी बढ़ा कर रखने से पुरुषों की त्वचा को अल्ट्रावॉयलेट किरणों से होने वाले रोग या वैंâसर का रिस्क कम होता है। शोधकर्ताओं का मानना है कि दाढ़ी चेहरे पर अल्ट्रावॉयलेट प्रोटेक्शन पैâक्टर (यूपीएफ) २ से लेकर २१ तक का प्रभाव देती है और किन्हीं मामलों में यह यूपीएफ ५० से भी अधिक प्रभावशाली है। यानी बाजार में बिकने वाले किसी भी सनस्क्रीन जितनी ही प्रभावी है। शोधकर्ताओं ने तीन अलग-अलग तरह की दाढ़ी रखने वाले पुरुषों के चेहरे का परीक्षण किया, जो एक घंटे तक धूप में रहे थे। उन्होंने पाया कि घनी दाढ़ी वाले पुरुषों के चेहरे की त्वचा ही नहीं बाqल्क होठ, जबड़े जैसे हिस्से भी धूप के प्रभाव से बचे रहते हैं। शोधकर्ताओं का दावा है कि ३.५ इंच घनी दाढ़ी यूपीएफ २१ की मात्र में कारगर है और यह ठीक उसी तरह त्वचा के लिए असरदार है जितना कपड़े या सनस्क्रीन लोशन से बचाव।