टूथपेस्ट से हो सकता है कैंसर, करें बचाव


नई दिल्ली। रोजाना इस्तेमाल में आने वाले कॉर्मिशयल टूथपेस्ट में सोडियम फ्लोराइड होता है, आमतौर पर इसका इस्तेमाल चूहों को मारने वाले पोइजन में किया जाता है। दांतों की सही प्रकार से देखभाल चाहते हैं तो घर में बनी कोकोनट ऑइल टूथपेस्ट का इस्तेमाल करके देखें अपने रेग्युलर टूथपेस्ट को भूल जाएंगे। हर सुबह और रात को आप किसी ब्रांडेड टूथपेस्ट से दांतों को साफ करती ही हैं। क्या आप जानती हैं कि ऐसा करने से आपकी बॉडी पर ना चाहते हुए भी कुछ अवांछित टॉाqक्सन्स का प्रभाव पड़ता ही है। यही समय है जब आप टूथपेस्ट में शामिल सोडियम फ्लोराइड, ट्राईक्लोसेन, एफडी एंड सी ब्लू डाई, सोडियम डूडीके सल्पेâट और हाईड्रेटेड सिलिका जैसे हानिकारक तत्वों को छोड़कर कोकोनट ऑइल टूथपेस्ट जैसी नेचरल चीज को इस्तेमाल करें और फर्वâ देखें। कोकोनट ऑइल मुंह को साफ करता है। ये अच्छा एंटी-बौqक्टरियल है जो आपके दांतों की सपेâदी बढ़ाने और उसे कायम रखने में मदद करता है। फोिंमग एजेंट्स से भरपूर टूथपेस्ट की वजह से पेस्ट में झाग बनते हैं, इससे मुंह में वैंâसर हो सकता है। इसकी बजाय नारियल के तेल से मसूढ़ों की मसाज की जा सकती है और मुंह में इसे भरकर ऑइल पुिंलग भी। ऐसा करने से दांतों पर जमा होने वाले जमर््स पॉजिटिव बौqक्टरिया, लोqक्टक एसिड बौqक्टरिया जिनकी वजह से दांतों और मसूढ़ों पर प्लाक जमा होकर पीलापन नजर आता है, नारियल तेल से ये प्रॉब्लम चमत्कारिक ढंग से खत्म की जा सकती है।