अवसाद से दिमाग और शरीर दोनों को नुकसान


लंदन। अवसाद मानसिक रोगों का कारण बनता है यह तो सभी जानते है लेकिन एक नए शोध में पता चला है कि इसका असर शरीर पर भी पड़ता है। शोध में वैज्ञानिकों ने साबित किया है कि अवसाद से होने वाले बदलाव पूरे शरीर को प्रभावित करते हैं। स्पेन की यूनिर्विसटी ऑफ ग्रेनेडा के वैज्ञानिकों ने बताया, अवसाद को एक प्रणालीगत रोग माना जाना चाहिए क्योंकि इससे शरीर के कई अंगों और ऊतकों पर असर पड़ता है। शोध में अवसाद के ह्रदय रोग और वैंâसर के साथ महत्वपूर्ण संबंध मिले हैं। साथ ही शोध ने अवसाद पीडित लोगों की जल्दी मृत्यु के कारणों की भी जानकारी दी है। इस शोध के विश्लेषण ने विभिन्न ऑक्सीडेटिव तनाव मापदंडों की वृद्धि और एंटीऑक्सीडेंट पदार्थो की कमी के बीच के असंतुलन का खुलासा किया है। शोध में पूर्व के २९ अध्ययनों का आकलन किया गया था जिसमें तीन हजार ९६१ लोग शामिल थे। यह पहला ऐसा शोध है जिसमें शरीर पर अवसाद से होने वाले दुष्प्रभाव की जानकारी दी गई है। शोधकर्ताओं का कहना है कि इस शोध से अवसाद को रोकने और इसके उपचार हेतु नई चिकित्सकीय खोज में मदद मिल सकती है।