शरमन जोशी तलाश रहे हैं थोड़े अलग तरह के रोल


बालीवुड अभिनेता शरमन जोशी ने खुलासा किया है कि उन्हें उनके यंग लुक के चलते तमाम फिल्में नहीं मिल पाईं। अब वह अलग तरह के रोल चाहते हैं।
(Photo: IANS)

अभिनेता का रियलिस्टिक होना भी जरूरी

मुंबई (ईएमएस)। बालीवुड अभिनेता शरमन जोशी ने खुलासा किया है कि उन्हें उनके यंग लुक के चलते तमाम फिल्में नहीं मिल पाईं। अपनी फिल्म ‘काशी: इन सर्च ऑफ गंगा‘ के प्रमोशन के दौरान उन्होंने कहा कि हर ऐक्टर की कोशिश होती है कि वह कुछ अलग करे। इसी तरह मैं भी कुछ डिफरेंट करना चाहता हूं। आप किसी एक जॉनर का ऐक्टर बनके नहीं रह सकते। अगर आप कुछ अलग करना चाहते हैं, तो आपका रियलिस्टिक होना भी जरूरी है।

Photo: IANS

‘रंग दे बसंती’, ‘गोलमाल’ और ‘3 इडियट्स’ जैसी सुपरहिट फिल्मों का हिस्सा रहे शरमन जोशी आजकल थोड़े अलग तरह के रोल तलाश रहे हैं। बकौल जोशी मैं सबसे पहले यह देखता हूं कि फिल्म किसी भी जॉनर से हो, लेकिन स्क्रिप्ट अच्छी होनी चाहिए। कैरक्टर अलग करने के लिए स्क्रिप्ट नहीं ढूंढी जाती। फिल्म ‘काशी’ मुझे ऐसे मोड़ पर मिली, जब मैं कुछ नया करना चाहता था और इस फिल्म में मुझे वह सब कुछ मिला, जो मैं करना चाहता था। ‘गोलमाल’ और ‘थ्री इडियट’ जैसी फिल्मों के लिए मैं उस वक्त परफेक्ट था। अब मैं खुद को आइने में देखता हूं, तो सोचता हूं कि बड़ा लग रहा है बंदा।

‘हेट स्टोरी 4’ के बारे में बात कर रहे हैं, तो मैं आपको बता देता हूं कि एरॉटिक फिल्म में काम करने का मेरा कोई इरादा नहीं था और न ही मुझे इस फिल्म के लिए पूछा गया था। भूषण ने भी मुझे कहा था कि अब आपको इस तरह की फिल्म नहीं करनी चाहिए। अगर हम बात ‘गोलमाल’ की करें, तो फिल्म को लेकर मेरे मैनेजमेंट और प्रड्यूसर में कोई मिस मैनेजमेंट हुआ था, जिस वजह से बात कभी बनी ही नहीं। आने वाले समय में अगर ‘गोलमाल’ सीरीज का ऑफर आया, तो मैं जरूर इस बारे में सोचूंगा। मेरे लिए सबसे अच्छी बात यह थी कि मेरी शुरुआत थिअटर से हुई और मुझे काम करने का काफी मौका मिला। मैं गुजराती थिअटर करता था और उस टाइम 20 से 25 शो तक कर लेते थे। हमने काफी मेहनत की है, पिछले 10 साल में 1 हजार से ज्यादा शो किए हैं, ये सारा एक्सपीरियंस मेरे काम आया। बहुत से लोग कहते हैं कि मेरा कॉमिक टाइमिंग अच्छा है, उसकी वजह थिअटर ही है। आने वाले समय में मेरे कैरक्टर में कई और वैरिएशन दिखने लगेंगे। दरअसल, मैं उम्र में बड़ा हूं, लेकिन दिखता यंग हूं। हालांकि अब मुझमें फिजिकली मैच्योरिटी बढ़ी है। पहले डायरेक्टर मुझे मैच्योर रोल देना चाहते थे, तो भी नहीं दे सकते थे, क्योंकि मेरी कुछ लिमिटेशन थीं। उस समय मैं काफी यंग दिखता था।