एनटीआर की बायोपिक का नाम बदलकर ‘कथानायकुडु’ हुआ


चेन्नई । दिग्गज अभिनेता और आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री नन्दमूरी तारक रामाराव (एनटीआर) के जीवन पर आधारित फिल्म ‘एनटीआर’ के निर्माताओं ने गुरुवार को घोषणा की कि फिल्म का नाम अब ‘कथानायकुडु’ हो गया है।

दो भागों में बन रही इस फिल्म का पहला भाग अगले साल 9 जनवरी को रिलीज होगा।

इस बदलाव की घोषणा एक नए पोस्टर के माध्यम से की गई।

यह फिल्म आधिकारिक तौर पर 29 मार्च को उप राष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू द्वारा हैदराबाद में लॉन्च की गई थी। इसमें तेलुगू फिल्म जगत के गई दिग्गजों ने शिरकत की थी। फिल्म में एनटीआर के बेटे नंदमुरी बालकृष्ण शीर्ष भूमिका में दिखेंगे।

तेजा को मूल रूप से फिल्म के निर्देशन के लिए चुना गया था। लेकिन, फिल्म लॉन्च के एक महीने बाद, तेजा रचनात्मक मतभेदों के कारण परियोजना से बाहर हो गए और अंत में कंगना रनौत अभिनीत फिल्म ‘मणिकर्णिका’ के निर्देशक कृष जगारलामुडी उनके स्थान पर आए।

फिल्म में विद्या बालन, राणा दग्गुबाती, सुमंत, प्रकाश राज और सचिन खेडेकर जैसे कलाकार प्रमुख भूमिकाओं में हैं।

फिल्म के निर्देशन के बारे में पूछे जाने पर कृष ने कहा, “मैं एनटीआर की फिल्मों को देखकर बड़ा हुआ। आज, उनके जीवन पर एक फिल्म बनाने का मौका मिलना मेरे लिए बहुत मायने रखता है।”

उन्होंने कहा, “मैं इसे अपने जीवन का सबसे बड़ा सम्मान मानता हूं और मैं इस परियोजना की सभी उम्मीदों पर खरा उतरने के लिए कड़ी मेहनत करूंगा। एनटीआर अद्भुत व्यक्ति थे। उनके जैसा कोई नहीं है और यही उन्हें खास बनाता है।”

फिल्म का संगीत एम.एम. कीरवानी ने दिया है। यह एनबीके फिल्म्स, वाराही चालाना चित्रम और विबरी मीडिया द्वारा निर्मित है।

-आईएएनएस