#Metoo : गुलशन कुमार की बायोपिक ‘मोगुल’ से निर्देशक सुभाष कपूर की छुट्टी, आमिर खान की फिर एन्ट्री


मीटू अभियान ने फिल्म निदेशक सुभाष कपूर को प्रोजेक्ट से गुलशन कुमार की बायोपिक मोगुल के प्रोजेक्ट से बाहर का रास्ता दिखा दिया है।
Image | dawn.com

मीटू अभियान के अंतर्गत सुभाष कपूर पर लगे थे यौन शोषण के आरोप

नई दिल्ली (ईएमएस)। मीटू अभियान ने एक और फिल्म निदेशक को प्रोजेक्ट से बाहर का रास्ता दिखा दिया है। गुलशन कुमार की बायोपिक मोगुल का निर्देशन सुभाष कपूर करने जा रहे थे। यौन शोषण के आरोपों के बाद उन्हें इस प्रोजेक्ट से बाहर कर दिया गया। अब बताया जा रहा है कि आमिर खान वापस इस प्रोजेक्ट से जुड़ सकते हैं, क्योंकि उन्होंने किसी भी प्रोजेक्ट से जुड़ने के लिए एक शर्त रखी थी।

दरअसल, मीटू कैंपेन के तहत जब एक के बाद एक कास्ट‍िंग काउच और कार्रवाई पर यौन उत्पीड़न के मामले सामने आए तो आमिर खान ने एक नोट जारी कर कहा था कि वह ऐसे किसी शख्स के साथ काम नहीं करेंगे, जो यौन उत्पीड़न के मामले में शामिल हो।

गौर करने वाली बात ये है कि मोगुल का निर्माण कर रही टी-सीरीज के हेड भूषण कुमार पर भी यौन उत्पीड़न के आरोप लग चुके हैं। हालांकि, अपनी सफाई में उन्होंने इन सब आरोपों को खारिज किया।

भूषण कुमार ने कहा है- ये हमारा पहला कर्तव्य है कि हम इंडस्ट्री को सबके लिए साफ-सुथरा बनाएं। ऐसी इंडस्ट्री बने, जिसमें काम करने के लिए अच्छा माहौल हो। जब मौजूदा प्रोजेक्ट के डायरेक्टर के खिलाफ ये मामला सामने आया तो सबने उनके साथ काम न करने का तय किया। एक लीडिंग डेली ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि सुभाष कपूर के बाहर होने के बाद आमिर खान वापस बोर्ड पर आ गए हैं। वे भूषण कुमार के साथ कई मीटिंग्स कर चुके हैं। सूत्रों के अनुसार, स्क्र‍िप्ट आमिर के दिल के करीब है। आमिर और भूषण इस प्रोजेक्ट को आगे ले जाना चाहते हैं। नए डायरेक्टर के लिए तलाश जारी है।

कॉफी विद करण सीजन 6 में इस बार आमिर खान भी करण जौहर के सवालों का सामना करेंगे। रिपोर्ट्स के मुताबिक आमिर शो के एपिसोड के लिए शूटिंग कर सकते हैं। आमतौर पर होता ऐसा है कि सेलेब्स किसी न किसी के साथ आते हैं, लेकिन आमिर के मामले में केस थोड़ा अलग है। वह अकेले ही करण जौहर से चर्चा करेंगे। पिछली बार वह दंगल गर्ल्स के साथ शो पर आए थे।