अब किस पुराने गाने के रिमिक्स से खफा हुई लता दीदी!


Image credit : Youtube

देश ही नहीं बल्कि दुनिया में अपनी आबाज का जादू बिखेर चुकीं लीजेंड्री सिंगर लता मंगेशकर इन दिनों अपने गुस्से के लिए सुर्खियों में हैं। दरअसल लता दीदी रीमिक्स के चलन से दुखी हैं। इसके चलते उन्होंने एक खुला खत भी लिखा था। लता दीदी कहती हैं कि किसी गीत को तोड़-मरोड़कर पेश करना सरासर गलत है। यही वजह है कि पहले करन जौहर पर उनका गुस्सा फूटा था अब सिंगर आतिफ असलम उनके गुस्से के शिकार हुए हैं।

दरअसल लता दीदी ने हाल ही में रिलीज हुए मित्रों के गाने ‘चलते-चलते’ पर कड़ा रिएक्शन दिया है। आपको यहां बतला दें कि वर्ष 1972 में आई पाकीजा फिल्म के गाने को ‘मित्रों’ के लिए रीक्रिएट किया गया है। जब इस गाने को लेकर लता मंगेशकर से सवाल किया गया तो उन्हें गुस्सा आ गया।

पहले सुनें फिल्म पाकिज़ा का यह ओरिजिनल गाना

अब सुनिये फिल्म मित्रों का रिमिक्स

लता दीदी ने कहा कि ना उन्होंने अब तक ये गाना सुना है और ना ही वो इसे सुनना चाहती हैं। उन्होंने कहाकि आजकल पुराने गानों को जिस तरह से दोबारा बनाने का रिवाज चल रहा है उससे वह बेहद दुखी हैं। उन्होंने सवाल किया कि ‘आजकल जो गानें रीमिक्स किए जा रहे हैं, उनमें सादगी कहां है? कलाकारी कहां है?’ लता जी का सबसे बड़ा सवाल यही है कि गाने को रीमिक्स के लिए उसका संगीत और गीत किसकी सहमति से बदला जाता है? बहरहाल रीमिक्स युवाओं को तो लुभा रहे हैं, अब लता जी नाराज हो रही हैं तो क्या।

आपकी क्या राय है? गानों का रिमिक्स जायज है?