इंडस्ट्री के लोगों का ‎फिल्म पर विरोध जताना दु:खद है : विवेक ओबेरॉय


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राजनीतिक जीवन पर बनी फिल्म पीएम नरेंद्र मोदी आ‎खिरकार 12 अप्रैल को रिलीज होने जा रही है।
Photo/Twitter

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राजनीतिक जीवन पर बनी फिल्म पीएम नरेंद्र मोदी आ‎खिरकार 12 अप्रैल को रिलीज होने जा रही है। हालही में फिल्म का ट्रेलर रिलीज किया जा चुका है। बता दें ‎कि पीएम नरेंद्र मोदी ‎फिल्म घोषणा के बाद से ही लगातार सुर्खियों में बनी हुई है। कांग्रेस स‎हित तमाम विपक्षी पार्टियों का आरोप है कि चुनाव से पहले पीएम नरेंद्र मोदी की रिलीज आचार संहिता का उल्लंघन है। इस फिल्म के जरिए भाजपा वोटर्स को लुभाने की को‎शिश कर रही है। फिल्म में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का रोल ‎‎निभा रहे विवेक ओबेरॉय ने कहा, “यह एक आजाद देश है और मुझे एक फिल्म बनाने की और इसे रिलीज करने की इजाजत है। मुझे हैरानी इस बात की है कि नगमा जैसे लोग जो इसी इंडस्ट्री से आते हैं वो भी इस फिल्म का विरोध कर रहे हैं। नगमा मेरी सीनियर हैं और वो इस का आगे आकर सपोर्ट नहीं कर रही हैं कि इस फिल्म को रिलीज किए जाने की अनुमति मिलनी चाहिए।

Photo/Twitter

कांग्रेस की सरकारों पर निशाना साधते हुए विवेक ओबेरॉय ने कहा, हमें सॉफ्ट टारगेट बनाया गया, हम पर आरोप लगाए गए। इसका भी अपना इतिहास रहा है, उस वक्त से जब आपने आंधी को बैन किया, जब आपने किस्सा कुर्सी का को बैन किया हम पिछले 40 साल से ये कर रहे हैं आखिर क्यों? विवेक ओबेरॉय ने फ्रीडम ऑफ एक्सप्रेशन का मुद्दा उठाते हुए सवाल किया, “यदि आप वाकई एक सहिष्णु देश हैं और आपमें असहिष्णुता नहीं है तो क्यों एक फिल्म (पीएम नरेंद्र मोदी ) को रिलीज होने की अनुमति नहीं मिलनी चाहिए?” विवेक ओबेरॉय ने यह भी कहा कि उन्हें लगता है कि सभी तरह की फिल्मों को रिलीज की अनुमति मिलनी चाहिए। वहीं एक्ट्रेस और कांग्रेस लीडर नगमा ने कहा कि नसीरुद्दीन शाह, आमिर खान की पत्नी और शाहरुख खान जैसे बड़े सितारे भी इस फिल्म पर बड़े सितारे बात नहीं कर रहे हैं, इसके जवाब में विवेक ने कहा, मैं इन सभी लोगों के भी पास जा रहा हूं और उनसे बात कर रहा हूं। मैं उनसे पूछ रहा हूं कि वाकई यदि आप असहिष्णुता में यकीन नहीं रखते तो क्यों नहीं आप आगे आकर इस फिल्म का सपोर्ट कर रहे हैं।”

– ईएमएस