टीआईएफएफ में शीर्ष पुरस्कार जीतना सपने जैसा : राधिका मदान


टोरंटो। अभिनेत्री राधिका मदान का कहना है कि टोरंटो अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (टीआईएफएफ) में उनकी फिल्म का शीर्ष पुरस्कार जीतना उनके लिए सपने जैसा है और इससे ज्यादा वह कुछ और नहीं मांग सकती थीं।

(Photo | IANS)

राधिका की पहली फिल्म ‘मर्द को दर्द नहीं होता’ ने 43वें टीआईएफएफ में शीर्ष पुरस्कार जीता है। यह महोत्सव रविवार को संपन्न हुआ।

यह फिल्म भारत की ओर से महोत्सव के ‘मिडनाइट मैडनेस’ सेगमेंट में अब तक की पहली प्रवेश थी। इसने पीपुल्स च्वॉइस मिडनाइट मैडनेस अवॉर्ड जीता है।

https://twitter.com/TIFF_NET/status/1041380441423572992

राधिका (23) ने आईएएनएस को बताया, “मुझे नहीं मालूम क्या कहना चाहिए। यह सब कुछ सपने जैसा है..पहली बार महोत्सव के लिए चयनित होना और फिर सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार जीतना..ईमानदारी से कहूं तो मैं बस इस बारे में सोच भी नहीं सकती थी।”

राधिका की अगली फिल्म ‘पटाखा’ इस महीने के अंत में रिलीज होने के लिए तैयार है।

–आईएएनएस