‘द बैंडिट क्वीन’ होगी न्यूयार्वâ में प्रदर्शित


वािंशगटन। युगांडा में जन्मे भारतवंशी संगीतकार शिरीष कोरडे की मल्टी मीडिया चैंबर ओपेरा ‘पूâलन देवी : द बैंडिट क्वीन’ का प्रदर्शन २६-२७ जून को न्यूयार्वâ में होने वाला है। अनुश्री रॉय के लेखन और टॉम डायमंड के निर्देशन से सजा यह रंगमंच शो एाqल्वन एली सिटीग्रुप थियेटर में प्रस्तुत किया जाएगा। शो के प्रस्तुतकर्ता इंडो अमेरिकन आट्र्स काउंसिल और डा कापो चैंबर प्लेयर्स हैं। एक मीडिया विज्ञाqप्त के अनुसार, यह शो संगीत और दृश्य का शानदार संगम है, जो पूâलन देवी के जीवन की सच्ची घटनाओं पर आधारित है।
पूâलन देवी की मौत ३७ साल की उम्र में हुई थी। गुरबत में जन्मी और पली-बढ़ी पूâलन का विवाह बचपन में ही हो गया था, जिसे पूरे जीवन में प्रताड़ना झेलनी पड़ी। बाद में चंबल के डवैâतों द्वारा अगवा कर ली गई पूâलन हालात वश खुद भी बहुत बड़ी डवैâत बन गई थी। हालांकि बाद में उसने आत्मसमर्पण कर दिया था, जेल में रही थी और सांसद भी बनी थी, लेकिन वर्ष २००१ में उनकी नई दिल्ली में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।
शिरीष कोरडे एशियाई एवं समकालीन पाश्चात्य पारंपरिक संगीत में पारंगत हैं। विशेषकर भारतीय शास्त्रीय संगीत, ओपेरा, जैज और हिप हॉप में उन्हें महारत हासिल है।