कोरोना के डर से 10 प्रतिशत गिरे विमानन कंपनियों के शेयर


(File Photo: IANS)

नई ‎दिल्ली (ईएमएस)। कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर निवेशकों की चिंताएं बढ़ने से शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में विमानन कंपनियों के शेयर में 10 प्रतिशत तक की ‎गिरावट दर्ज की गई। रेटिंग एजेंसी इक्रा का कहना है कि कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण विमानन क्षेत्र का भविष्य नकारात्मक दिख रहा है। बीएसई में इंडिगो का परिचालन करने वाली कंपनी इंटरग्लोब एविएशन का शेयर शुक्रवार को सुबह 9.99 प्रतिशत गिरकर 1,229.75 रुपए पर चल रहा था। स्पाइसजेट का शेयर भी 6.06 प्रतिशत गिरकर 82.10 रुपए पर चल रहा था। परिचालन बंद कर चुकी कंपनी जेट एयरवेज का शेयर भी 4.84 प्रतिशत गिरकर अपने निचले स्तर 24.55 रुपए पर चल रहा था। इक्रा के अनुसार कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण अंतरराष्ट्रीय यात्री दक्षिण-पूर्वी एशिया के देशों की टिकटें रद्द कर रहे हैं। इस कारण विमानन क्षेत्र के भविष्य का परिदृश्य नकारात्मक हो गया है।

बीएसई की 1,767 कंपनियों में भारी ‎बिकवाली हुई

नई ‎दिल्ली (ईएमएस)। कोरोना वायरस के डर की वजह से शेयर बाजार में शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में भारी बिकवाली दर्ज की गई। बीएसई की 1,700 से अधिक कंपनियों में बिकवाली हुई। इनमें से अधिकांश कंपनियां मिडकैप या स्मॉलकैप की हैं। इस बिकवाली के कारण समूह ए, बी, टी और जेड की 323 कंपनियों के शेयर 52 सप्ताह के निचले स्तर पर आ गए।

बीएसई की 205 कंपनियों के शेयरों में स्वीकृत दायरे तक की गिरावट रही। हालांकि 274 कंपनियों ने बाजार की चाल के विपरीत प्रदर्शन किया और इनके शेयरों में बढ़त रही। बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों के बाजार पूंजीकरण में भारी गिरावट देखने को मिली। इस कारण निवेशकों ने कारोबार के कुछ ही देर में 4,65,915.58 करोड़ रुपए गंवा दिए। बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण इस गिरावट के बाद 1,47,74,108.50 करोड़ रुपये पर आ गया।