बीमा कंपनी को देना होगा कोरोना के इलाज का खर्च


(PC : aiche.org)

नई दिल्ली (ईएमएस)। इंश्योरेंस रेग्युलेटरी एंड डेवलेपमेंट अथॉरिटी (आईआरडीए) ने बीमा कंपनियों के लिए एक सर्कुलर जारी किया है, ‎जिसमें उसने सभी बीमा कंपनियों से ऐसी पॉलिसी बनाने को कहा है, जिनमें कोरोना वायरस के इलाज का खर्च भी कवर हो।

गौरतजब है ‎कि कोरोना वायरस से अब तक दुनियाभर में तीन हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 90 हजार से ज्यादा लोग इससे प्रभावित बताए जा रहे हैं। इरडा की ओर से सुर्कलर जारी करते हुए कहा गया है कि स्वास्थ्य बीमा की जरूरत को पूरा करने के उद्देश्य से बीमा कंपनियों को सुझाव दिया गया है वह ऐसी पॉलिसी तैयार करें जिसमें कोरोना वायरस से प्रभावित मरीजों का भी इलाज किया जा सके। पॉलिसी को इस तरह से तैयार करना है, जिससे कोरोना वायरस से प्रभावित लोगों के इलाज का पूरा खर्च उठाया जा सके। इरडा ने बीमा कंपनियों से कहा है कि वह सुनिश्चित करें कि कोविड-19 से संबंधित मामलों का तेजी से निपटारा किया जाए।

इरडा की ओर से कोरोना वायरस को लेकर सर्कुलर जारी किए जाने के बाद एसबीआई जनरल इंश्योरेज के हेड सुब्रमण्यम बी ने कहा कि कोरोना वायरस के दावे का निपटारा तब हो सकता है जब मरीज 24 घंटे तक अस्पताल में भर्ती रहा है। बता दें कि भारत सरकार या डब्ल्यूएचओ की ओर से अगल भारत में आ चुके जानलेवा कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर दिया तो इसमें बीमा की राशि नहीं मिलेगी क्योंकि ऐसी बीमारियां स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी के अंदर नहीं आती हैं।