नये एतिहासिक रिकार्ड पर बंद हुआ बाजार


 

सेंसेक्स 202 अंक चढ़कर 38,896 पर बंद
निफ्टी 46 अंक उछलकर 11,738 पर बंद

मुंबई। विदेशी कोषों के ताजा प्रवाह तथा घरेलू निवेशकों की रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी, एचडीएफसी बैंक तथा मारुति सुजुकी के शेयरों में सतत लिवाली से घरेलू शेयर बाजार लगातार दूसरे दिन नए एतिहासिक स्तर पर बंद हुए। धातु, ऊर्जा, वाहन और बिजली कंपनियों के शेयरों में हुई खरीदारी के चलते मंगलवार को कारोबार की समाप्ति पर सेंसेक्स 202 अंक की बढ़त के साथ 38,896 के स्तर पर और निफ्टी 46 अंक की बढ़त के साथ 11,738 के स्तर पर कारोबार कर बंद हुआ। बीएसई के मिडकैप सूचकांक में गिरावट और स्मॉलकैप सूचकांक में तेजी रही। बीएसई का मिडकैप 59 अंकों की गिरावट के साथ 16,671 पर बंद हुआ जबकि स्मॉलकैप 61 अंकों की तेजी के साथ 17,043 पर बंद हुआ।

एशियाई बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के बीच घरेलू बाजार की शुरुआत भी तेजी के साथ हुई। सेंसेक्स सुबह 121 अंकों की तेजी के साथ 38,815 पर खुला। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 38,939 के ऊपरी स्तर और 38,761 के निचले स्तर को छुआ। इसी तरह निफ्टी 40 अंकों की तेजी के साथ 11,732 पर खुला। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 11,760 के ऊपरी और 11,710.50 के निचले स्तर को छुआ। बीएसई में कारोबार का रुझान नकारात्मक रहा। मंगलवार को कुल 1,157 शेयरों में तेजी और 1,542 में गिरावट रही, जबकि 171 शेयरों के भाव में कोई बदलाव नहीं हुआ।

मंगल को हिंडाल्को, अदानी पोर्ट्स, रिलायंस इंडस्ट्रीज, वेदांता, मारुति सुजुकी और एक्सिस बैंक जैसी दिग्गज कंपनियों के शेयर उछलकर बंद हुए जबकि गेल, यस बैंक, एचपीसीएल, सिप्ला, एचयूएल, एसबीआई, ओएनजीसी और आईसीआईसीआई बैंक जैसी बड़ी कंपनियों के शेयर गिरकर बंद हुए हैं।

इस बीच, शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने कल शुद्ध रूप से 252.52 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। वहीं घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 1,117.24 करोड़ रुपये की लिवाली की।

आर्थिक जानकारों का कहना है कि अगस्त माह के डेरिवेटिव निपटान से पहले भागीदारों की शॉर्ट कवरिंग से भी बाजार की तेजी को समर्थन मिला। अमेरिका और मेक्सिको के बीच व्यापार करार से निवेशकों में उत्साह था। अन्य एशियाई बाजारों की मजबूती ने भी बाजार की तेजी को समर्थन दिया।