कर्ल-ऑन की अगले 3 साल में राजस्व 2000 करोड़ रुपए पहुंचाने की योजना


Photo : IANS

नई दिल्ली । भारत के अग्रणी और सबसे ज्यादा बिकने वाले मैट्रेस, घरेलू फर्नीचर एवं फर्निशिर्ंग ब्रांड-कर्ल-ऑन ने गुरुवार को अगले तीन सालों में अपना राजस्व 2000 करोड़ रुपए तक पहुंचाने के मकसद से विभिन्न योजनाओ की घोषणा की।

फिलहाल कंपनी का राजस्व 1050 करोड़ रुपए है। अपनी बाजार हिस्सेदारी बढ़ाने के लिए कर्ल-ऑन नई नई रणनीति बनाई है। इसमें कई अभिनव उत्पादों एवं टेक्नोलॉजी के साथ नेक्स्ट-जेन, युवा भारतीय ग्राहकों पर अधिक फोकस करना और उनकी जरूरतों को पूरा करना शामिल हैं।

इसके साथ ही कंपनी प्रीमियम एवं धनाढ्य बाजार के लिए एक्सक्लूसिव एवं उत्कृष्ट उत्पादों की पेशकश करेगी। कर्ल-ऑन को उम्मीद है कि यह नए बाजार अगले तीन सालों में इसकी कुल बिक्री में 25 प्रतिशत का महत्वपूर्ण योगदान करेंगे।

कर्ल-ऑन ने साथ ही होम फर्नीचर और फर्निशिंग दुकानों की अपनी एक्सक्लूसिव, प्रीमियम श्रृंखला ‘होम कम्फर्ट बाय कर्ल-ऑन’ के विस्तार की भी घोषणा की। साथ ही उसने मिड-प्रीमियम शहरी लोगों पर लक्षित इस श्रंखला को वर्तमान की 920 दुकानों से बढ़ाकर वर्ष 2020 तक 2500 दुकानों तक ले जाने का लक्ष्य रखा।

दिल्ली, एनसीआर और चंडीगढ़, अमृतसर, जयपुर, कानपुर, लखनऊ समेत उत्तरी बाजार कर्ल-ऑन की इस रणनीति के प्रमुख बाजारों में शामिल होंगे और कर्ल-ऑन को अपेक्षा है कि इन बाजारों से वर्तमान राजस्व योगदान 18 प्रतिशत से बढ़कर 25 प्रतिशत पहुंच जाएगा।

अपनी विकास योजनाओं की घोषणा के दौरान कर्ल-ऑन ने ‘स्लीप स्टेशन-मैट्रेस इन अ बॉक्स’ और ‘एसटीआर8’ टेक्नोलॉजी मैट्रेस भी लांच किए। यह दोनों नए उत्पाद उन युवा उपभोक्ताओं के लिये अत्यंत प्रासंगिक हैं, जिनकी दिनचर्या बेहद व्यस्त होती है और वे अधिक आराम तथा सुविधा चाहते हैं।

कर्ल-ऑन के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक सुधाकर पई ने कहा, “हमारा ब्रांड मैट्रेस का पर्याय है, लेकिन अब हम समग्र होम कम्फर्ट सॉल्यूशंस प्रदान करने के लिए विकसित हो रहे हैं। हमारे उत्पादों में होम फर्नीचर और फर्निशिंग भी शामिल हैं और पिछले वर्ष इस सेगमेंट की बिक्री में 25 प्रतिशत की उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। महत्वपूर्ण यह है कि हमने बाजार को बढ़ते देखा है और एक ब्रांड के तौर पर हम अपने ग्राहक के साथ बढ़े हैं और उन्हें बेहतर गुणवत्ता के उत्पाद प्रदान किए हैं, जिन्हें पूरी तरह से ग्राहक अनुकूलन और उनके व्यवहार से संबंधित जानकारी के आधार पर विकसित किया गया है। हम आधुनिक तकनीक के साथ भविष्यगामी उत्पाद लाने के लिए इसी अप्रोच के संग आगे बढ़ना जारी रखेंगे। इन उत्पादों को नयेयुग के ग्राहकों के लिए बनाया गया है जोकि बेहतर कम्फर्ट चाहते हैं और इस पर खर्च करने के इच्छुक हैं।”

कर्ल-ऑन के मुख्य विपणन अधिकारी आशुतोष वैद्य ने कहा, “पिछले 6 महीनों में हमने 165 एक्सक्लूसिव आउटलेट्स खोले और तीन नये उत्पाद लांच किए। हमें आगामी फेस्टिव सीजन में बिक्री में उल्लेखनीय वृद्धि होने की उम्मीद है। उत्तरी बाजार कर्ल-ऑन के लिए महत्वपूर्ण ढंग से बढ़ रहा है। और चूंकि, यहां दशहरा व दीवाली दोनों त्योहार बड़ी धूमधाम के साथ मनाये जाते हैं, ऐसे में हमें आगामी त्योहारी सीजन में इन बाजारों में हमारी बिक्री का आंकड़ा 100 करोड़ रुपए तक पहुंचने की आशा है।”

वर्तमान में उत्तरी क्षेत्र में कर्ल-ऑन के 138 ‘कर्लऑन कॉर्नर’ और 42 ‘कर्लऑन होम’ आउटलेट्स हैं। कुल मिलाकर, इसके देश भर में 920 एक्सक्लूसिव फ्रैंचाइजी आउटलेट और 7000 से अधिक मल्टीब्रांड आउटलेट मौजूद हैं जोकि कंपनी के उत्पादों को ग्राहकों तक आसानी से पहुंचाने में मदद करते हैं।

– आईएएनएस