CashKaro.com ने उपभोक्ताओं को बाँटे 100 करोड़ के कैशबैक


रु. १०० करोड़ से ऊपर की कैशबैक राशी कैशकरो उपभोक्ताओं के बैंक खाते में जमा कराई जा चुकी है।

कैशकरो, भारत की सबसे बड़ी कैशबैक (नगद वापसी) एवं कूपन की वेबसाइट, ने हाल फ़िलहाल में १०० करोड़ का आंकड़ा पार कर लिया, उन लोगों को नगदी का भुक्तान करके जिन्होंने कैशकरो के जरिये खरीदारी की।  २०१३ में शुरू हुई कैशकरो एक कैशबैक वेबसाइट कंपनी है, जो अपने उपभोक्ताओं को कैशकरो के ज़रिये अमेज़न अथवा फ्लिप्कार्ट पर खरीदारी करने पर कैशबैक देती है। उपभोक्ता नगद वापसी वाली राशी को अपने बैंक में भी ट्रांसफर कर सकते हैं।

१०० करोड़ की नगद वापसी के अलावा, कैशकरो ने अपने विक्रेताओं के लिए १००० करोड़ का व्यापर भी बनाया है। उनके विक्रेताओं में १५०० ई कॉमर्स वेबसाइट हैं जैसे की अमेज़न, फ्लिपकार्ट, जबोंग, मिन्त्रा, डोमिनोस, स्विग्गी, मेद्लाइफ़ इत्यादि।कैशकरो ने पिछले साल १००% का विकास किया है और अगले २ सालों में २००% का विकास करने की आशा कर रहा है।

इस अवसर पर अपनी बात रखते हुए कैश करो के सह संस्थपक रोहन भार्गव ने कहा

ये हमारे लिए एक बड़ी उपलब्धि है कि हमने सफलता पूर्वक १०० करोड़ का भुगतान अपने रोजाना खरीदारी करने वाले उपभोगकर्ताओं को पिछले ६ साल में किया है। कैशकरो ने उन खरीदों पर खर्च किये गए पैसों का एक हिस्सा कैश बैक के रूप में वापस करके उनके पैसे बचाए हैं। और उपभोक्ताओं को पैसे उनके बैंक खाते में ट्रांसफर करने की अनुमति देकर कैशकरो ने इन्टरनेट पर उपभोक्ताओं को सबसे अच्छा सौदा दिया है।”

“कैशकरो का कैशबैक असली पैसा है जो की साथी वेबसाइट पर चल रही छूट के अलावा दिया जाता है। ये सुनिश्चित करता है की जिन्होंने कैशकरो को अपनी आदत में शामिल कर रखा है उन्हें हमेशा ज्यादा मिलता रहे। सक्रिय और संलग्न उपभोक्ताओं के कारण हमने कैशबैक साइटों में अपना न. १  स्थान काबिज़ रखा जो की फ़ूड डिलीवरी, फैशन, यात्रा की बुकिंग जैसे श्रेणियो में काम करती है। अब हम बिल के ऑनलाइन भुगतानपरभी कैशबैक देते हैं।”

इस अवसर परअपने विचार प्रकट करते हुए सह-संस्थापक स्वाति भार्गव ने कहा, कैशकरो से कैशबैक, कैशकरो वेबसाइट अथवा एंड्राइड एप से खरीदारी करके पाया जा सकता है। आम तौर पर हर कैशकरो उपभोक्ता २००००-२५००० रु हर साल कैशबैक के तौर पर पाता है। कैशबैक के अलावा कैशकरो कूपन और तुलनात्मक मूल्याङ्कन का भी अवसर देता है। इसका मतलब है की कैशकरो के उपभोक्ता को ऑनलाइन बेचीं जा रही वस्तुओं केस ही एवं निष्पक्ष तुलनाका मौका मिलता है। ये कैशकरो के उपभोक्ताओं को किसी भी प्रॉडक्ट पर दी जा रही छूट एवं कैशबैक को मद्देनज़र रखते हुए अंतिम मूल्य की तुलना करने में मदद करता है।

कैशकरो, कैशबैक द्वारा कमाये गए पैसे की वापसी के लिए कई ज़रिये देता है। कैशकरो वेबसाइट, कैशबैक की राशी को बैंक अकाउंट में डालने के अलावा अमेज़न अथवा फ्लिप्कार्ट के कूपन के रूप में लेने का जरिया देता है। उपभोक्ता इन कूपनों को खुद भी इस्तेमाल कर सकते हैं अथवा कैशबैक को दान के रूप मैं जहाँ चाहे दे सकते हैं।

जब कोई उपभोक्ता कैशकरो द्वारा किसी रिटेलर की वेबसाइट पर जाकर खरीदारी करता है, तो वह रिटेलर कैशकरो को कमीशन देता है, जिसका ८०% कैशकरो उस उपभोक्ता को कैशबैक के रूप में देता है। इस योजना से उपभोक्ता, कैशकरो और रिटेलर, तीनो को फायदा होता है। इस फायदे वाले मॉडल के कारण पिछले ६ सालों से कैशकरो भारतीय बाज़ार में सर्व श्रेठ रहा है। भारत में एफिलिएट मार्केटिंग में प्रथम अन्वेषक रहा कैशकरो आजनयी उचाईयां चढ़ने के लिए तैयार है और आज येग्रामीण अथवा शहरी, सारे ऑनलाइन खरीदारों के लिए पैसे बचाने का सबसे पहला जरिया बना हुआ है।