अमेरिका तेल बाजार को अस्थिर कर रहा : रूस


अल्जीयर्स|रूस के ऊर्जा मंत्री एलेक्जेंडर नोवाक ने अमेरिका पर वैश्विक तेल बाजार को अस्थिर करने का आरोप लगाया है। रूस ने ओपेक ओपेक और गैर ओपेक देशों के बीच सहयोग का भी आग्रह किया है।

नोवाक ने रविवार को अल्जीयर्स में 10वें ओपेक और गैर ओपेक संयुक्त मंत्रिस्तरीय मॉनिटरिंग समिति (जेएमएमसी) की बैठक के उद्घाटन सत्र में कहा, “कुछ शक्तियों द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों और व्यापार युद्ध से वैश्विक अर्थव्यवस्था पर असर पड़ेगा और इससे तेल बाजार अस्थिर होगा।”

रूसी मंत्री अमेरिका द्वारा ईरान पर लगाए गए प्रतिबंधों की ओर इशारा कर रहे थे तो वहीं अमेरिका और चीन के बीच चल रहे व्यापार युद्ध की ओर भी ध्यान दिला रहे थे।

नोवाक ने यह भी कहा कि अल्जीयर्स में साल 2016 में हुआ उत्पादन में कटौती करने का समझौता 2018 के अंत में समाप्त हो जाएगा इसलिए हमारे समक्ष आ रही चुनौतियों से निपटने के लिए सहयोग को बढ़ाना जरूरी है।

दक्षिण कोरिया ने ईरान से तेल आयात रोका

ईरान के पेट्रोलियम मंत्रालय ने पुष्टि करते हुए कहा है कि दक्षिण कोरिया ने ईरान से होने वाले तेल आयात पर रोक लगा दी है। मंत्रालय के मुताबिक, “बीते तीन महीनों से दक्षिण कोरिया, ईरान से तेल आयात नहीं कर रहा है।”

मंत्रालय के सार्वजनिक संबंध प्रबंधक कासरा नौरी ने कहा, “अमेरिका द्वारा ईरान पर प्रतिबंध लगाने के बाद दक्षिण कोरिया पहला देश है, जिसने ईरान से तेल आयात रोक दिया है।”

रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका के प्रतिबंध लगाने की धमकी से पहले दक्षिण कोरिया, ईरान से प्रतिदिन 180,000 बैरल तेल का आयात करता था।

वैश्विक उथल-पुथल के बावजूद व्हाइट हाउस ने पिछले महीने ईरान पर दोबारा प्रतिबंध लगा दिया था।

–आईएएनएस