2000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी बीएसएनएल


नई दिल्ली,। वेंâद्रीय दूरसंचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने कहा कि बीएसएनएल दूरसंचार क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा का सामना कर रहा है और नेटवर्वâ उन्नत करने के लिए सार्वजनिक क्षेत्र ने २००० करोड़ रुपये के निवेश की योजना बनाई है इसमें २१००० बीटीएस की क्षमता और बढ़ाई गई है। मंत्री ने कहा कि इस सुविधा से देशभर के देवी भक्त मां वैष्णो देवी के आसपास से सुविधाएं पा सवेंâगे। यह १०००वां वाई-फाई हॉटस्पॉट है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा १३००० बीटीएस को भी शामिल किया जाएगा जिसका बीएसएनएल अपनी ३जी सेवाओं में इस्तेमाल करेगा। उन्होंने कहा कि देशभर के सभी र्धािमक पर्यटन और महत्वपूर्ण स्थलों को सीधे जोड़ा जाना है। समूचे देश में योजना के पहले चरण में २५०० वाई-फाई हॉटस्पॉट्स स्थापित करने का प्रस्ताव है।
बीएसएनएल ाqस्थर टेलीफोन नेटवर्वâ और मोबाइल दोनों तरह की सेवाओं को उन्नत करने और उनका विस्तार करने की प्रक्रिया में है। इसी पहल के एक हिस्से के रूप में बीएसएनएल ने मौजूदा पीएसटीएन टेलीफोन को एनजीएन (नेक्स्ट जेनरेशन नेटवर्वâ) से जोड़ दिया है। पहले ही करीब ६६० टेलीफोन एक्सचेंज को एनजीएन से उन्नत किया जा चुका है।
रविशंकर प्रसाद ने सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ टेलिमैटिक्स (सीडॉट) द्वारा स्थानीय रूप से डिजाइन और बनाई गई एनजीएन प्रौद्योगिकी से आगे काम करने को हरी झंडी भी दी है। यह भारत सरकार के मेक इन इंडिया कार्यक्रम की पहल का एक हिस्सा है जिसमें देश भर के शहरी और ग्रामीण इलाकों में एनजीएन प्रौद्योगिकी इस्तेमाल करके बीएसएनएल के कामकाज की गति बढ़ाई जाएगी। मंत्री ने फिक्स फोन सेवा के प्रीपेड संस्करण और मोबाइल सेवा के साथ ही मल्टीमीडिया वायस कांप्रेंâिंसग और वेल्यू एडेड सेवाएं एनजीएन पर देने संबंधी कार्यक्रम का भी उद्घाटन किया। इसके अलावा फिक्स मोबाइल टेलीफोन नाम नई उन्नत सेवाएं भी शुरू की गई हैं, जिनसे कहीं भी उपलब्ध ग्राहक अपनी सेवाओं को नए तरीके से उन्नत कर सवेंâगे और वे मोबाइल टेलीफोन यंत्र से कहीं भी कॉल पहुंचा और पा सवेंâगे।