होम, टेक्सटाइल मेले में भारत दूसरा सबसे बड़ा भागीदार


मुंबई। १० से १३ जनवरी तक जर्मनी के प्रैंâकफर्ट शहर में आयोजित किए जा रहे दुनिया के सबसे बड़े होम, टेक्सटाइल और र्फिनिंशग मेले में भारत दूसरा सबसे बड़ा भागीदार बनकर उभरा है। मालूम हो कि यह मेला इस क्षेत्र का साल का सबसे पहला मेला है जो साल भर समूचे कारोबार का चलन तय करता है। इसमें इंटीरियर टेक्सटाइल, होम र्फिनिंशग्स, हाउसहोल्ड टेक्सटाइल्स और इससे जुड़ी सेवाओं के नए चलन और नवाचार का प्रदर्शन किया जाएगा।
भारत की इस क्षेत्र से जुड़ी सभी प्रमुख वंâपनियां मेले में भाग ले रही हैं, जिसमें एल्पस इंडस्ट्रीज, डीडेकोर, इंडो काउंट, के. जी. डेनिम, ट्राइडेंट और वेस्पन समेत अन्य वंâपनियां शामिल हैं। इसके साथ ही भारत की तरफ से इंटीरियर लाइफस्टाइल अवाड्र्स २०१६ की विजेता रिद्धी जैन भी इसमें अपने कलेक्शन ‘री-वाई मीडियम’ का प्रदर्शन करेंगी, जोकि होम टेक्सटाइल का कलेक्शन है और इसके पीछे का विचार रिसाइकिंलग है।
इस मेले में भारत की प्रमुख सरकारी संस्थाएं भी भाग लेंगी, जिनमें कॉटन टेक्सटाइल एक्सपोर्ट प्रमोशन कौंसिल (टेक्सप्रोसिल), हैंडलूम एक्सपोर्ट प्रमोशन कौंसिल (एचईपीसी), पॉवरलूम डेवलपमेंट एक्सपोर्ट प्रमोशन कौंसिल (पीडीईएक्ससीआईएल) और एक्सपोर्ट प्रमोशन कौंसिल फॉर हैंडीक्राफ्ट्स (ईपीसीएच) शामिल है। इनके अलावा देश के ३८० से अधिक उत्पादन-निर्यातक भी भाग लेंगे। चीन के बाद भारत इस अंतर्राष्ट्रीय मेले में शामिल होने वाला दूसरा सबसे बड़ा भागीदार है।