होम और कार लोन होंगे सस्ते


नई दिल्ली। सरकार की छोटी बचत योजनाओं में ब्याज दरों में कमी के पैâसले से बैंक पांच अप्रैल को मौद्रिक नीति आने के बाद ब्याज दरें घटाने का निर्णय ले सकते हैं। जिससे होम व कार लोन सस्ते होने की उम्मीद है। हालांकि जमाओं पर ब्याज की दर पर वैंâची चल सकती है, जिसका नुकसान बैंकों के बचत धारकों को उठाना पड़ेगा। आरबीआई ५ अपै्रल को २०१६-१७ की पहली द्विमासिक मौद्रिक नीति की घोषणा करने वाला है। बैंकों ने कहा है कि वे जमा और ऋण पर ब्याज दर घटाने से पहले अगले महीने की शुरुआत में रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति की घोषणा का इंतजार करेंगे। सरकार ने कई छोटी बचत योजनाओं की जमा दर में कटौती की और बैंकों को संकेत दिया कि वे अपनी ब्याज दरें कम करें। बैंक ऑफ महाराष्ट्र के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक सुशील मुन्होत का कहना है कि सरकार द्वारा छोटी बचत योजनाओं के संबन्ध में किए गए बदलाव के बाद बैंकों द्वारा ब्याज दरों में कटौती की संभावना है लेकिन ज्यादा बैंक इस मामले में आरबीआई की मौद्रिक नीति के बाद पैâसला करेंगे।