सेबी ने 1350 इकाइयों को बाजार से प्रतिबंधित किया


नई दिल्ली। पूंजी बाजार नियामक सेबी ने कर चोरी तथा अन्य गड़बड़ियों के लिये एक्सचेंज प्लेटफार्म के दुरूपयोग को लेकर करीब १,३५० इकाइयों को बाजार से प्रतिबंधित कर दिया है। इसके अलावा, शेयर बाजारों ने अपने निगरानी उपायों के तहत सूचीबद्ध वंâपनियों के करीब २०० शेयरों में कारोबार को भी निलंबित कर दिया है। साथ ही १५० से अधिक शेयरों में व्यापार सीमित किया गया है।
्रबाजार जानकारों का कहना है कि भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) तथा शेयर बाजारों के समाqन्वत प्रयासों से प्रतिभूति बाजार में एक प्रभावी निगरानी व्यवस्था स्थापित हुई है। जानकारों का कहना है `बाजार को साफ-सुथरा बनाये रखने तथा निवेशकों के हितों की रक्षा के लिये नियामक के प्रयासों से भारतीय बाजार में निवेशकों का भरोसा बढ़ा हैं इससे आने वाले समय में निवेशकों खासकर खुदरा निवेशकों की भागीदारी बढ़ेगी।’
उल्लेखनीय है कि सेबी तथा शेयर बाजारों ने मजबूत सतर्वâता प्रणाली तथा जांच एजेंसियों, सरकारी विभागों समेत अन्य स्रोतों से प्राप्त सूचना के आधार पर लगातार बाजार पर नजर रख रहे हैं और जरूरी कार्रवाई कर रहे हैं। जानकारों के मुताबिक सेबी ने पिछले दो साल में करीब १,३५० इकाइयों को बाजार से प्रतिबंधित किया है। इसके अलावा, शेयर बाजारों ने अपने निगरानी उपायों के तहत सूचीबद्ध वंâपनियों के करीब २०० शेयरों में कारोबार को भी निलंबित कर दिया है और १५० से अधिक शेयरों को निम्न कीमत दायरे में रखा है।