शेयर बाजार में 400 अंको से ज्यादा की भारी गिरावट


-सारी दुनिया में मंदी से मचा हड़वंâप
मुंबई। शेयर बाजार में भारी गिरावट को देखने को मिल रही है। पिछले ३ दिनों में एक हजार अंकों से ज्यादा की गिरावट शेयर बाजार में आई है। निफ्टी के ५० शेयरों वाले इंडेक्स में ४५ वंâपनियों के शेयर लाल निशान पर कारोबार कर रहे हैं। विदेशी निवेशकों की भी भारी बिकवाली देखने को मिली। कोई भी सेक्टर ऐसा नहीं बचा जिसमें निवेश सुरक्षित हो। बैंकों के तिमाही नतीजे के निराशाजनक होने के बाद बैविंâग, सेक्टर एवं रियल सेक्टर में भारी बिकवाली से गिरावट देखने को मिल रही है। ऐशियाई शेयर बाजारों में काफी दबाव में आ गये हैं।
सोने में निवेश-
निवेशकों को समझ नहीं आ रहा कि वह अपना पैसा कहां निवेश करे । शेयर बाजार की बिकवाली के बाद निवेशक एमसीएक्स पर सोने और चांदी में सुरक्षित निवेश मानकर निवेश कर रहे हैं। इससे सोने में तेजी देखने को मिल रही है। जानकारों का मानना है कि सारे विश्व में मंदी का वातावरण है। सोने की डिमांड केवल सटोरियों और निवेशकों की होने से एमपीएक्स पर सट्टेबाजी बढ़ रही है। इससे बाजार में भारी उतार चढ़ाव के कारण छोटे निव ेशकों को सबसे ज्यादा नुकसान उठाना पड़ रहा है। आर्थिक विशेषज्ञों की मानें तो सोने में किया गया निवेश भी अब सुरक्षित नहीं है। आर्थिक मंदी के चलते कई देशों की सरकार अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए सोने बच रही हैं। इस स्थिति में जो हालत कच्चे तेल की हुई है। वही हालत कुछ ही माहों में सोने चांदी की हो सकती है। इस स्थिति में निवेशकों को सावधानी बरतने की सलाह आर्थिक विशेषज्ञ दे रहे हैं। आर्थिक विशेषज्ञों का अनुमान है कि भारतीय शेयर बाजार कुछ ही दिनों में २० हजार के स्तर पर आ सकते हैं। इसको लेकर अटकलों का दौर चल पड़ा है।