लोन डिफाल्ट रोकने सेवानिवृत्त अधिकारियों की नियुक्ति कर सकता है एसबीआई


नई दिल्ली। प्रमुख भारतीय बैंक अब लोन डिफॉल्ट रोकने के लिए सेवानिवृत्त अधिकारियों की नियुक्ति करने पर विचार कर रहा है। यदि ऐसा हुआ तो यह एसबीआई के ६० साल के बैंिंकग इतिहास में पहली बार होगा। एसबीआई के कदम से साफ है कि मैनेजमेंट बढ़ते एनपीए को वंâट्रोल करने के लिए आने वाले दिनों में सख्त कदम उठाने जा रहा है। साथ ही उसे इस बात की शक है कि पिछले कुछ वर्षों में बैंक द्वारा दिए गए लोन में अनियमितताएं हैं। ऐसे में लोन बुक सही करने के लिए जरूरी है कि अनुभव वाले लोगों को शामिल किया जाए, जिसमें डीजीएम, एजीएम और चीफ मैनेजर जैसे सीनियर पदों पर काम कर चुके लोग शामिल होंगे। जानकारी के अनुसार बैंक सेवानिवृत्त हो चुके एसबीआई के वरिष्ठ अफसरों की नियुक्तियां करने जा रहा है। जिसमें ५० लाख रुपए से ज्यादा दिए जा चुके लोन का ये आफीसर्स रिव्यू करेंगे। इसके लिए बैंक ने दो वैâटेगरी बनाई हैं। पहली वैâटेगरी में लोन रिव्यू मैकेनिज्म को रखा गया है। जबकि दूसरी वैâटेगरी अर्ली सैक्शन रिव्यू की होगी।