रिवर्ज बैंक के रूख से चढ़ा बाजार


– सेंसेक्स १९१ अंक चढ़कर २८,७०८ पर बंद
– निफ्टी ५४ अंक उछलकर ८,७१७ पर बंद
मुंबई। रिजर्व बैंक की फटकार के बाद बैंकों के ऋण पर ब्याज दर में कटौती करने से उत्साहित निवेशकों द्वारा की गई चौतऱफा लिवाली से घरेलू शेयर बाजार तीन सप्ताह के उच्चस्तर पर पहुंचकर बंद हुआ। बुधवार को कारोबार की समाप्ति पर सैंसेक्स १९१ अंक बढ़कर २८,७०८ अंक पर बंद हुआ जबकि निफ्टी ५४ अंकों की बढ़त के साथ ८,७१७ अंक पर बंद हुआ। बुधवार के कारोबार में बीएसई की छोटी और मझौली वंâपनियों में भी मजबूती देखी गई। मिडवैâप ७२ अंकों की तेजी के साथ ११,०२२ पर बंद हुआ जबकि स्मॉलवैâप २०४ अंकों की तेजी के साथ ११,६३५ पर बंद हुआ।
बुधवार को घरेलू बाजार की शुरूआत तेजी के साथ हुई। सेंसेक्स ८५ अंकों की मजबूती के साथ २८,६०१ पर खुला। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने २८,७६३ के ऊपरी और २८,५६७ के निचले स्तर को छुआ। जबकि निफ्टी ३९ अंकों की तेजी के साथ ८,६९९ पर खुला। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने ८,७३१ के ऊपरी और ८,६८० के निचले स्तर को छुआ। बाजार जानकारों का कहना है कि आरबीआई गवर्नर राजन के इस साल रेपो दर में दो बार चौथाई-चौथाई प्रतिशत की कटौती का लाभ ग्राहकों को नहीं देने की नाराजगी के बाद स्टेट बैंक और आईसीआईसीआई बैंक, एचडीए़फसी बैंक और एाqक्सस बैंक ने भी ब्याज दरों में कमी की है जिसका बाजार में सकारात्मक संकेत गया। एशियाई तथा यूरोपीय बाजार की तेजी से भी स्थानीय बाजार को बल मिला।
बीएसई में आज २९१६ वंâपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें से १८०३ फायदे में और ९९२ गिरावट पर रहे जबकि १२१ में ाqस्थरता रही। बुधवार के कारोबार में बीएसई के १२ में ११ सेक्टरों सूचना प्रौद्योगिकी, प्रौद्योगिकी, धातु, तेल एंव गैस और तेज खपत उपभोक्ता वस्तु आदि के शेयरों में जहां सर्वाधिक तेजी रही। वहीं बैंिंकग में गिरावट रही।