रिकार्ड ऊंचाई की और बढ़ता शेयर बाजार


– सेंसेक्स पहली बार 35,500 के पार,
– निफ्टी ने छुआ 10,900 का स्तर
– सेंसेक्स 251 अंक चढ़कर 35,512 पर बंद
– निफ्टी 78 अंक उछलकर 10,895 पर बंद

मुंबई, (ईएमएस)। वैश्विक बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के बीच स्थानीय स्तर पर बैंकिंग शेयरों में रही जोरदार तेजी के साथ साथ दिग्गज कंपनियों के बेहतर तिमाही नतीजों से उत्साहित देशी विदेशी निवेशकों द्वारा की गई खरीदारी से घरेलू शेयर बाजार ने लगातार तीसरे दिन नये एतिहासिक स्तर को छुआ। कारोबार के दौरान सेंसेक्स ने 35,500 और निफ्टी ने 10,900 का मनोवैज्ञानिक स्तर पर पार किया। सप्ताह की समाप्ति के दिन शुक्रवार को देश के शेयर बाजारों में शुक्रवार को तेजी दर्ज की गई। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 251 अंकों की तेजी के साथ 35,512 पर बंद हुआ जबकि निफ्टी 78 अंकों की तेजी के साथ 10,895 पर बंद हुआ। शुक्रवार को बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप में मिला जुला रुख रहा। बीएसई का मिडकैप जहां 170 अंकों की तेजी के साथ 19456 पर बंद हुआ वहीं स्मॉलकैप सूचकांक 136 अंकों की गिरावट के साथ 17,765 पर बंद हुआ।
एशियाई बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के बीच घरेलू बाजार की शुरुआत भी तेजी के साथ हुई। सेंसेक्स सुबह 79 अंकों की तेजी के साथ 35,339 पर खुला। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 35,542 के ऊपरी और 35,221 के निचले स्तर को छुआ। इसी तरह निफ्टी सुबह 12 अंकों की तेजी के साथ 10,829 पर खुला। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 10,907 के ऊपरी और 10,794 के निचले स्तर को छुआ।
सप्ताह की समाप्ति पर शुक्रवार को बीएसई में जिन 3,030 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, उनमें 1,422 के शेयरों में लिवाली और 1,464 में बिकवाली का जोर रहा जबकि 144 के शेयर दिन भर के उतार-चढ़ाव के बाद अपरिवर्तित बंद हुए। निफ्टी की 50 कंपनियों में से 39 के शेयर हरे निशान में रहे जबकि नौ के लाल निशान में रहे और शेष दो के अपरिवर्तित रहे।
आर्थिक जानकारों का कहना है कि चौतरफा लिवाली से बीएसई के सभी 20 समूह तेजी में रहे। बैंकिंग का सूचकांक डेढ़ फीसदी से अधिक चढ़ा। वित्त एवं रियलिटी समूहों में भी एक फीसदी से अधिक की तेजी रही।