मौद्रिक समीक्षा से पहले सहमा शेयर बाजार


– सेंसेक्स 61 अंक टूटकर 29122 पर बंद
– निफ्टी11.5 अंक उतरकर 8727 पर बंद
मुंबई। मंगलवार को आने वाली रिजर्व बैंक की द्विमासिक मौद्रिक समीक्षा से पहले घरेलू शेयर बाजार सतर्वâ और सहमा सा कारोबार हुआ जिसके चलते प्रमुख सूचकांक गिरावट के साथ बंद हुए। सोमवार को कारोबार की समाप्ति पर सेंसेक्स ६१ अंक टूटकर २९,१२२ अंक पर बंद हुआ। यह २२ जनवरी के बाद सेंसेक्स का निचला स्तर है। इसी तरह नैशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी ११.५० अंक की गिरावट के साथ ८,७९७ अंक पर बंद हुआ। वहीं बीएसई के मिडवैâप और स्मॉलवैâप सूचकांकों में तेजी दर्ज की गई। मिडवैâप ६१ अंकों की तेजी के साथ १०,७९९ पर और स्मॉलवैâप १२८ अंकों की तेजी के साथ ११,४५७ पर बंद हुआ।
सोमवार को घरेलू बाजार की शुरूआत गिरावट के साथ हुई। सेंसेक्स ३९ अंकों की गिरावट के साथ २९,१४४ पर खुला। दिन भर के कारोबार में सेंसेक्स ने २९,२६८ के ऊपरी और २८,९५७ के निचले स्तर को देखा। इसी तरह निफ्टी ६ अंकों की गिरावट के साथ ८,८०२ पर खुला। निफ्टी ने दिन भर के कारोबार में ८,८४१ के ऊपरी और ८,७५१ के निचले स्तर को छुआ। सोमवार के कारोबार में सेंसेक्स के ३० शेयरों में १७ में गिरावट और १३ में बढ़त रही। एाqक्सस बैंक, िंहडाल्को, विप्रो, एलऐंडटी, गेल, सनफार्मा, टीसीएस, टाटा मोटर्स, मारुति सुजूकी और भेल के शेयरों में तेजी रही। वहीं दूसरी ओर भारती एयरटेल, डॉ रेड्डीज लैब, िंहदुस्तान यूनिलीवर, आईसीआईसीआई बैंक, आईटीसी, सेसा स्टरलाइट, टाटा स्टील और कोल इंडिया में गिरावट दर्ज की गई।
आर्थिक जानकारों का कहना है कि हाल में बेहतर प्रदर्शन करने वाले शेयरों में हुई मुनाफावसूली, जनवरी में विनिर्माण गतिविधियां दिसंबर के दो साल के रिकार्ड स्तर से नीचे आने के साथ साथ कुछ बड़ी वंâपनियों के निराशाजनक नतीजों से कारोबार कारोबार प्रभावित हुआ।