मुनाफावसूली से लगा बाजार की तेजी पर ब्रेक


– सेंसेक्स 72.5 अंक गिरकर 34,771 पर बंद
– निफ्टी 41 अंक उतरकर 10,700.5 पर बंद
मुंबई, (ईएमएस)। वैश्विक बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के बावजूद, अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपये में आई साल की सबसे बड़ी गिरावट के साथ साथ देश का व्यापार घाटा बढ़ जाने के बीच घरेलू शेयर बाजार की दिन भर की तेजी पर आखिरी घंटे में हुई मुनाफावसूली के चलते ब्रेक लग गया। मंगलवार को कारोबार की समाप्ति सेंसेक्स 72 अंकों की गिरावट के साथ 34,771.05 पर बंद हुआ जबकि निफ्टी 41 अंकों की गिरावट के साथ 10,700 पर बंद हुआ। मंगल के कारोबार में प्रमुख सूचकांक की तरह ही बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में गिरावट देखने को मिली। बीएसई का मिडकैप 315 अंकों की गिरावट के साथ 17,814 पर बंद हुआ जबिक स्मॉलकैप 444 अंकों की गिरावट के साथ 19,603 पर बंद हुआ।
एशियाई बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के बीच घरेलू बाजार की शुरुआत भी तेजी के साथ हुई। सेंसेक्स सुबह 34 अंकों की तेजी के साथ 34,878 पर खुला। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 34,936 के ऊपरी और 34,736 के निचले स्तर को छुआ।
इसी तरह निफ्टी सुबह 20 अंकों की तेजी के साथ 10,761.50 पर खुला। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 10,762 के ऊपरी और 10,688 के निचले स्तर को छुआ।
मंगल के कारोबार में कोल इंडिया, टाटा पावर, एचपीसीएल, बजाज फाइनेंस, रिलायंस इंडस्ट्रीज, बीएचईएल, टाटा मोटर्स और टाटा स्टील जैसी दिग्गज कंपनियों के शेयर गिरकर बंद हुए वहीं विप्रो, एचसीएल टेक, टेक महिंद्रा, इंफोसिस, टीसीएस, टेक महिंद्रा, आईसीआईसीआई बैंक और डॉ रेड्डीज जैसी बड़ी कंपनियों के उछलकर बंद हुए हैं।