भारतीय वायुसेना को १४ र्डोिनयर विमान देगा िंहदुस्तान एरोनॉटिक्स


नई दिल्ली। िंहदुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) भारतीय वायुसेना को १४ र्डोिनयर लाइट यूटिलीटी एयरक्राफट देगा। एयरफोर्स और एचएएल के बीच इस बारे में करार कर लिया गया है। अब तक १२५ र्डोिनयर एयरक्राफट बना चुका एचएएल कानपुर ने रक्षा मंत्रालय के अलावा सेशेल्स और मॉरीशस जैसे देशों को भी इन विमानों का निर्यात किया गया है। एचएएल कानपुर द्वारा जारी एक बयान के मुताबिक भारतीय वायुसेना को दिए जाने वाले १४ र्डोिनयर लाइट यूटिलीटी एयरक्राफट का निर्माण यहां की परिवहन विमान शाखा में किया जाएगा और उम्मीद है कि ये विमान चार साल के भीतर वायुसेना को सौंप दिए जाएंगे। वायुसेना को इन डोनियर एयरक्राफ्ट के अलावा छह रिजर्व इंजन, फ्लाइट सिम्युलेटर व अन्य सामग्री की आर्पूित भी की जाएगी।
वंâपनी दावे के मुताबिक र्डोिनयर एक हल्का दोहरा टर्बोप्राप हाईिंवग विमान है, जिसका काकपिट दो चालक दल सदस्यों के बैठने के लिए डिजाइन किया गया है। इसका इस्तेमाल सामुद्रिक निगरानी और गश्त, सैनिक परिवहन, प्रदूषण जांच और नियंत्रण, खोज और बचाव, क्षेत्रीय एयरलाइनर एयर टैक्सी, वीआईपी परिवहन, बचाव और एंबुलेंस, कार्गो और लॉजिाqस्टक सहायता के लिए किया जाता है।