बैंक कर्ज 10.39 फीसदी बढ़कर 64,53,394 करोड़ पहुंचा


मुंबई। बैंकों से ली गई ऋण की रकम पिछली २० फरवरी को समाप्त पखवाड़े में १०.३९ फीसदी बढ़कर ६४,५३,३९४ करोड़ रुपए हो गई, जो पिछले साल की इसी अवधि में ५८,४५,८३३ करोड़ रुपए थी। आरबीआई के हालिया आंकड़ों के अनुसार दूसरी ओर इस अवधि में बैंकों की जमायें ११.८५ फीसदी बढ़कर ८४,७४,८२४ करोड़ पहुंच गई, जो इससे पिछले साल इसी पखवाड़े में ७५,७६,६०९ करोड़ रुपए थी। पिछले पखवाड़े में बैंकों के कर्ज में १०.३८ फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई थी, जबकि उनकी जमा ११.७७ फीसदी बढ़ी। इस दौरान बैंकों की बचत जमायें ११.८१ फीसदी बढ़कर ७,६९,०७९ करोड़ रुपए हो गई, जो कि पिछले साल इस दौरान ६,८७,८३८ करोड़ रुपए थी। इस दौरान सावधि जमा ११.८५ फीसदी बढ़कर ७७,०५,७४८ करोड़ रुपए हो गई, जो पिछले साल इसी पखवाड़े में ६८,८८,७७१ करोड़ रुपए थी।
दिसंबर २०१४ को समाप्त तिमाही के दौरान बैंकों की जमा और उधारी क्रमश: १०.९ और १०.१ फीसदी रही, जो इससे पिछले साल की समान तिमाही में १५.४ और १४.२ फीसदी थी। दिसंबर २०१४ के अंत में बैंकों की कुल जमा राशि में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की हिस्सेदारी ७३.३ फीसदी रही, जबकि कुल उधार में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की हिस्सेदारी ७१.२ फीसदी रही। उसके बाद कुल जमा राशि में निजी क्षेत्र के बैंकों की हिस्सेदारी १९.२ और उधार में निजी क्षेत्र के बैंकों की हिस्सेदारी २१ फीसदी रही।