फरवरी में वनस्पति तेल का आयात 28 फीसदी बढ़ा: एसईए


नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय बाजार में रिफाइंड पामोलिन का भाव काफी नीचे होने से देश में वनस्पति तेलों का आयात फरवरी में २८ फीसदी बढ़कर ११.१० लाख टन पहुंच गया। यह जानकारी साल्वेंट एक्सट्रैक्टर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (एसईए) ने दी। एसईए का कहना है कि फरवरी २०१६में वनस्पति तेलों का आयात १११०९१६ टन रहा, जो फरवरी २०१५ में ८६८१६७ टन था। मौजूदा तेल वर्ष २०१५-१६ में नवंबर से फरवरी के दौरान वनस्पति तेलों का आयात १९ फीसदी बढ़कर ५१२५०१७ टन पहुंच गया, जो पिछले साल समान समय में ४२९५४४३ टन था। रिफाइंड ऑयल आरबीडी पामोलिन का आयात नवंबर २०१५ से फरवरी २०१६ के दौरान ७८९०६२ टन पहुंच गया, जो पिछले साल समान समय में २५३७८० टन था। व्रूâड ऑयल का आयात ३९४९३८५ टन की तुलना में ४३००४९७ टन पहुंच गया। नवंबर-फरवरी के दौरान पाम ऑयल का अयात २८०३९४२ टन की तुलना में २९६०००२ टन पहुंच गया। हालांकि सॉफ्ट ऑयल का आयात १३९९२२३ टन के मुकाबले २१२९५५७ टन रहा। अखाद्य तेलों का आयात नवंबर से फरवरी के दौरान ६२ फीसदी गिरकर ९२२७८ टन की तुलना में ३५४५८ टन रहा।