धोखाधड़ी रोकने के लिए सेबी का नया सिस्टम!


मुंबई। धोखाधड़ी रोकने के लिए सेबी किसी कमीशन बैठाने जैसे पुराने और पिटे हुए प्लान नहीं आजमाना चाहता है। अब वो धोखेबाजी करने वालों को दबोचने के लिए आईटी का सहारा लेने वाली है। इसके लिए वो एक प्रâॉड डिटेक्शन सिस्टम को डेवलप करने वाली है। इस सिस्टम को डिजाइन करने के लिए एचपी, आईबीएम जैसी मल्टीनेशनल वंâपनियों के अलावा विप्रो, एचसीएल, टेक मिंहद्रा, एलएंडटी इंफोटेक और टेक मिंहद्रा जैसी देसी वंâपनियां भी सेबी के दरवाजे पर अपने-अपने सीवी लेकर खड़ी हैं। वैसे साल २०११ से सेबी, डीडब्ल्यूआईबीएस (डाटा वेयरहाउिंसग एंड बिजनेस इंटेलिजेंस सिस्टम) का इस्तेमाल करता रहा है, जिसकी मदद से वो शेयर की कीमतों में छेड़छाड, इनसाइडर ट्रेिंडग जैसे प्रâॉड को पकड़ने में करता रहा है। अब सेबी अपने इसी सिस्टम को और पुख्ता बनाना चाहता है। सेबी ने अपने इसी प्रोजेक्ट के लिए २७ मार्च तक बोलियां मंगवायी हैं और अब तक एचपी, विप्रो,, केपीएमजी, आईबीएम जैसी वंâपनियों ने अपनी दावेदारी पेश भी कर दी है।