धोखाधड़ी की तुरंत रिपोर्ट करें बैंक, वरना होगी कार्रवाई


नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने कहा है कि धोखाधड़ी की रिपोर्ट उसके पास भेजने में देरी करने वाले बैंकों पर वह कार्रवाई कर सकता है। गुरूवार को आरबीआई ने एक अधिसूचना में कहा कि जहां भी रिजर्व बैंक के पास धोखाधड़ी की रिपोर्ट भेजने में तय सीमा से ज्यादा की देरी होगी, तो इसके खिलाफ उचित सुपरवाइजरी कार्रवाई शुरू की जा सकती है।
वेंâद्रीय बैंक ने कहा है कि धोखाधड़ी का पता चलते ही बैंकों को इसकी रिपोर्ट आरबीआई को भेजनी होगी और अधिकतम अगली चार तिमाहियों के दौरान इसके लिए राशि का प्रावधान करना होगा। प्रावधान धोखाधड़ी की पूरी राशि के लिए करना होगा, भले ही बैंक के पास ऐसे ऋण के लिए कितनी भी सिक्यूरिटी क्यों न रखी गई हो।
रिजर्व बैंक ने कहा कि तय सीमा के बाद रिपोर्ट भेजने वाले बैंकों को धोखाधड़ी की पूरी राशि का प्रावधान एकमुश्त करना होगा और उन पर उचित सुपरवाइजरी कार्रवाई की जा सकती है।