दुनिया की सबसे बड़ी तेल वंâपनी अरामको भारत में निवेश


रियाद । सउदी अरब की प्रमुख तेल वंâपनी अरामको की भारत के पेट्रोलियम क्षेत्र में बड़े निवेश की योजना है। वंâपनी ऐसे समय जब वैश्विक अर्थव्यवस्था में संकट है, भारत को निवेश के लिये एक तरजीही गंतव्य के रूप में देखती है। अरामको दुनिया सबसे बड़ी तेल वंâपनी है जिसके पास २६५ अरब बैरल कच्चे तेल का ज्ञात भंडार है।
वंâपनी के प्रमुख खालिद ए.अल फलीह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात के दौरान कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र की वंâपनी भारत को सर्वाधिक तरजीही निवेश गंतव्य के रूप में देखती है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने ाqट्वट किया, `मंत्री अल फलीह ने प्रधानमंत्री से कहा, अरामको भारत को निवेश के लिये पहले नंबर के लक्ष्य के रूप में देखती हैं।’ अल फलहाल सउदी अरब के स्वास्थ्य मंत्री भी हैं। अरामको सउदी अरब की राष्ट्रीय तेल वंâपनी है जिसके पास २६५ अरब बैरल कच्चे तेल का भंडार है जो वैश्विक तेल भंडार का १५ प्रतिशत से अधिक है।