डिस्काउंट और उपहार के सहारे कार बिक्री बढ़ाएंगी कंपनियां


नई दिल्ली। मोदी सरकार के पहले बजट के बाद जहां बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण ने विभिन्न वाहनों के थर्ड पार्टी इंश्योरेंस प्रीमियम में २०-२५ फीसदी बढ़ोतरी करने के साथ साथ सर्विस चार्ज की दर को १२.३६ से बढ़ाकर १६ फीसद कर दिया गया। इरडा के इस पैâसले के बाद छोटी कारों पर पिछले साल की तुलना में ३३९ रुपये तक की प्रीमियम बढ़ोतरी से कार बिक्री पर पढ़ने वाले विपरीत असर को रोकने के लिए कार वंâपनियां तरह तरह के डिस्काउंट और उपहार लेकर आ रही हैं। कार कारोबारियों का कहना है कि बजट के बाद बिक्री नहीं बढ़ने से वंâपनियों के पास डिस्काउंट के अलावा कोई रास्ता नहीं है।
गौरतलब है कि आज कुछ चुिंनदा मॉडल को छोड़कर हर तरह ही कार पर भारी भरकम छूट मिल रही है। टाटा मोटर्स, निसान, डेटसन, रेनॉ, फिएट, जनरल मोटर्स और स्कोडा जैसी वंâपनियां अपनी कारों पर ६०००० रुपये से पौने दो लाख रुपये तक जबरदस्त डिस्काउंट दे रही हैं। कार कारोबारियों का कहना है कि कार वंâपनियों को बजट से काफी उम्मीद थी। लेकिन न तो सरकार ने एक्साइज डयूटी में कोई रियायत दी और न ही ब्याज दरों पर कोई फर्वâ पड़ा। ऐसे में अब कार वंâपनियों को पिछले साल की बिक्री के आंकड़े को भी हासिल करने में मुाqश्कल आ रही है। लिहाजा कार वंâपनियों के पास ग्राहकों को खींचने के लिए भारी भरकम डिस्काउंट देने के अलावा कोई रास्ता नहीं है। यही वजह है कि तमाम कारों पर वंâपनियां इस समय ऑन रोड प्राइस पर १५-२० फीसदी तक डिस्काउंट दे रही हैं।
कार बाजार के कारोरियों के अनुसार इस समय चल रहे जबरदस्त डिस्काउंट के बावजूद कुछ लग्जरी कार वंâपनियों जैसे, होंडा सिटी, मारुति डिजायर, ह्युंदई आई२० एलीट, फोर्ड इकोस्पोर्ट, स्कोडा ऑक्टेविया और फॉक्सवैगन जेटा पर किसी तरह की छूट नहीं घोषित हुई है। कार बाजार के कारोबारियों के अनुसार कार वंâपनियों में जबरदस्त वंâपीटिशन के चलते नए कारोबारी साल की शुरुआत में भी हालात बहुत सुधरते नहीं दिख रहे। इसलिए नए वित्तीय साल की शुरुआत ही भारी भरकम डिस्काउंट से होगी।