कोल इंडिया के कर्मचारियों की हड़ताल जारी, बातचीत रही बेनतीजा


नई दिल्ली । कोल इंडिया के कर्मचारियों की हड़ताल बुधवार को जारी है। मंगलवार को सरकार और कर्मचारियों के बीच हुई बातचीत बेनतीजा रही। कर्मचारी यूनियन के अनुसार सरकार संकट का हल निकालने की दिशा में काम नहीं कर रही है। दरअसल, बातचीत में सरकार की ओर से कोयला मंत्री शामिल नहीं हुए, लेकिन कोयला सचिव बातचीत में शामिल हुए थे, हालांकि दोनों पक्षों ने उम्मीद जताई है कि बातचीत जारी रहेगी।
कोल इंडिया दुनिया की सबसे बड़ी कोयला खनन वंâपनी है और इसके लाखों कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने से देश में बिजली संकट भी गहरा सकता है। देश के बिजली उत्पादन का एक बड़ा हिस्सा कोयले पर निर्भर करता है।इंटक नेता एस क्यू ़जमां ने बताया कि हमारा विरोध कोल इंडिया के पाqब्लक सेक्टर वैâरेक्टर को बदलने के लिए अध्यादेश लाने की सरकार की पहल के खिलाफ है। हड़़ताल के पहले ही दिन इसका असर झारखंड की १०० से अधिक कोयला खदानों पर दिखा। छत्तीसगढ़ में ६६ कोयला खदान बंद रहीं और महाराष्ट्र की ३६ कोयला खदानों में काम ठप रहा।