कच्चे तेल की गिरावट से एएआई को मिला फायदा


नई दिल्ली । वैश्विक बाजार में कच्चे तेल के दामों में भारी गिरावट का सबसे ज्यादा फायदा सार्वजनिक क्षेत्र की वंâपनी भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) को मिला है। र्इंधन के दामों में कमी से हवाई यात्रा करने वालों की संख्या में भारी इजाफा हुआ और उनसे मिली फीस के दम पर एएआई ने भी खूब राजस्व कमाया। वर्ष २०१५-१६ में एएआई का राजस्व १०,८२४.५० करोड़ रुपये रहा जो इससे पिछले वित्त वर्ष की तुलना में १७ प्रतिशत अधिक है। एएआई का राजस्व वर्ष २०१४-१५ में ९,२८४.९८ करोड़ रुपए था। यह पहला मौका है जब एएआई का राजस्व १०,००० करोड़ रुपए को पार कर गया है। हालांकि प्राधिकरण को कमाई नहीं करने वाले हवाई अड्डों का खर्च भी उठाना पड़ रहा है लेकिन इसके बावजूद उसने अपने खर्चों पर लगाम लगाई है। एएआई का मुनाफा २,५३७.३६ करोड़ रुपए रहा जो पिछले वित्त वर्ष की तुलना में ३० प्रतिशत अधिक है। वर्ष २०१४-१५ में यह १९५९.२२ करोड़ रुपए था।