कच्चे तेल की कीमतों में कमी होने के बाद भी कम नहीं हो रहा पेट्रोल और डीजल का दाम


नई दिल्ली (ईएमएस)। पेट्रोलियम कंपनियां नियमित रूप से पेट्रोल और डीजल के रेट पढ़ाने का कोई मौका नहीं छोड़ती है किंतु जब रेट घटाने की बात आती है तो चुप्पी साध कर बैठ जाती है। सरकार भी तमाशा देखती रहती है।
वैश्विक बाजारों में कच्चे तेल के भाव निरंतर कम हो रहे है। 5 दिनों में कच्चा तेल लगभग 10 फ़ीसदी कम हो गया है किंतु इसके बाद भी पेट्रोलियम कंपनियों ने इन 5 दिनों में पेट्रोल और डीजल के रेट नहीं घटाएं है। विशेषज्ञों का कहना है कि कच्चे तेल के दामों में अभी और गिरावट आने की संभावना है। पेट्रोल और डीजल की कीमतों मैं लगातार वृद्धि और तेल कंपनियों की मुनाफाखोरी से उपभोक्ताओं का गुस्सा अब बढ़ने लगा है। पेट्रोलियम कंपनियों ने समय रहते यदि अपनी मुनाफाखोरी पर लगाम नहीं लगाई तो जनता सड़कों पर आकर विरोध करने की बात कह रही है।