आम के बाद भारत से सब्जी आयात को मंजूरी देगा यूरोपीय संघ


– आम के भंडारण की व्यवस्था देखकर ही मिलेगी अनुमति
पुणे । यूरोपीय बाजारों में भारतीय आमों का रास्ता साफ होने के बाद अब यूरोपीय संघ भारत से बैंगन, अरबी, करेला और टिंडा के आयात को मंजूरी प्रदान कर सकता है। यूरोपीय संघ ने कहा है कि वह पहले यह देखेगा कि भारतीय निर्यातक आम के भंडारण की वैâसे व्यवस्था करते हैं, उसके बाद ही भारत से कुछ साqब्जयों के आयात की अनुमति देगा। पौधा सुरक्षा, पृथक्करण और भंडारण निदेशालय फरीदाबाद के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक अब देश से बाहर जाने वाली हर वंâसाइनमेंट पर नजर रखी जाएगी और यह सुनिश्चित किया जाएगा कि यह कीट मुक्त हों।
फरीदाबाद ाqस्थत निदेशालय के एक अधिकारी ने बताया कि यूरोपीय संघ में निर्यात के लिए एक खास प्रक्रिया विकसित की गई है। इस प्रक्रिया के विवरण को निर्यातकों और हितधारकों के बीच बांटा गया है, ताकि इस पर उनकी टिप्पणी और विचार प्राप्त हो सके। इस प्रक्रिया के तहत फलों और साqब्जयों की खेती सिर्पâ रजिस्टर्ड किसानों से ही की जाएगी। उसके बाद फल और साqब्जयां हॉट वॉटर ट्रीटमेंट की प्रक्रिया से गुजरेगी। इसके अलावा यूरोप के लिए पैक होने वाली सब्जी और फलों के निरीक्षण के लिए टीमों का गठन किया गया है।